ब्रेकिंग
ताजनगरी में पुलिस ने जबरन उठाया किसानों का धरनास्कूल बना स्वीमिंग पूल, हेड मास्टर ने प्रधान को दोषी ठहरायाअंधविश्वास ने ली महिला की जान, नहीं मिला उपचारभारतीय संस्कृति सारे विश्व में निराली है : संघ संपर्क प्रमुख रामलालनरेंद्र गिरि का शव फांसी पर था तो कैसे चलता रहा पंखा? चौंकाने वाला वीडियो आया सामनेEtah: भारत से गए पाकिस्तानियों के नाम अभी भी दर्ज है जमीन, प्रशासन ने की कार्रवाईSiddharthnagar : हॉस्पिटल में हुई चोरी का हुआ खुलासा, पुलिस ने पांच चोरों को धरदबोचाएटा: खुलेआम अवैध शराब बिक्री करते युवक का वीडियो हुआ वायरल, आरोपी गिरफ्तारकुछ कहूं…लोकतंत्र में बाबूराज…आखिर ? अनिच्छा से पंच तत्व में विलीन हुए महंत नरेंद्र गिरि

Hamirpur: डीसीआरबी में तैनात महिला कांस्टेबल ने पिया जहर

काजल कश्यप, हमीरपुर

हमीरपुर: डीसीआरबी में तैनात एक महिला कांस्टेबल का 15 सितंबर को तबादला यहां से दूर चिकासी थाने में कर दिया गया है. जिसके बाद महिला कांस्टेबल ने जहर पीकर आत्महत्या करने का प्रयास किया. महिला की गंभीर हालत होने पर उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. महिला कांस्टेबल द्वारा जहर पिए जाने से पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया. सूचना मिलने पर सीओ सदर अनुराग सिंह जिला अस्पताल पहुंचे. और महिला आरक्षी का हाल जाना. अस्पताल में इलाज के बाद महिला कांस्टेबल की हालत फिलहाल खतरे से बाहर बताई जा रही है.

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले के पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर डीसीआरबी में तैनात महिला कांस्टेबल प्रिया चौधरी की तैनाती एक साल पहले यहां हुई थी. महिला आरक्षी प्रिया चौधरी ने बताया कि उसका उत्पीड़न करने की गरज से उसका तबादला चिकासी थाने कर दिया गया है. अपना ट्रांसफर रुकवाने के लिए उसने बहुत कोशिश की. वहीं, उसके साथ अन्य महिला आरक्षण का तबादला भी किया गया था. किंतु उन सब का ट्रांसफर रोक दिया गया. महिला आरक्षी ने जिला अस्पताल में रो-रो कर बताया कि अपर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में तैनात स्टेनों ने उसे पुलिस अधीक्षक तक से नहीं मिलने दिया. जिससे हताश होने के बाद उसने जहर पी लिया था. महिला आरक्षी का आरोप है कि अपर पुलिस अधीक्षक की पेशी में तैनात स्टेनों द्वारा उसका लगातार उत्पीड़न किया जा रहा है. महिला कांस्टेबल सावित्री जिले में 4 साल से तैनात है. किंतु उसकी ड्यूटी आज तक बाहर नहीं लगाई गई. सावित्री के पति अपर पुलिस अधीक्षक के यहां स्टेनों पद पर तैनात हैं. स्टेनों के द्वारा ड्यूटी कटवाने के नाम पर पैसे वसूले जाते हैं.

महिला आरक्षी प्रिया चौधरी ने पुलिस महानिरीक्षक चित्रकूट धाम परिक्षेत्र बांदा को शिकायती पत्र भेजकर अन्य महिला आरक्षियों का ट्रांसफर करने के बाद रोकने की जांच करने की मांग की है. महिला आरक्षी द्वारा जहर पिए जाने की घटना से एक बार फिर पुलिस विभाग की कार्यप्रणाली पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं. महिला आरक्षी द्वारा जहर पीकर आत्महत्या के प्रयास की जांच के आदेश दिए गए हैं.

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities