ब्रेकिंग
Agra: पति-पत्नी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, एक ही फंदे पर लटके मिले नवदंपती के शवमहोबा जनपद के अर्जुन सिंह की नगरी में कम भीड़ के साथ मनाया गया जल विहारHamirpur: आजादी का अमृत महोत्सव और पोषण माह पर आयोजित हुआ जन जागरूकता कार्यक्रमनए फीचर के साथ WhatsApp बन जाएगा सुपर ऐपMahoba: बारिश में ढहा गरीब का आशियाना, परिवार हुआ बेघरभोपाल में पीएम मोदी के जन्मदिन पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने काटा 71 फीट लंबा केकराजनीतिक अटकलों के बीच पीएम मोदी से मिले सीएम मनोहर लालVaranasi: पीएम मोदी की दीर्घायु के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं ने किया मां गंगा का पूजनअयोध्या: निगम पार्षदों ने नगर आयुक्त और महापौर के खिलाफ खोला मोर्चाPunjab: सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने वर्चुअल किसान मेले का किया उद्घाटन

सरकार कोरोना और डेंगू बुखार को लेकर सतर्क: मंत्री सुरेश खन्ना

चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने फिरोजाबाद सहित प्रदेश भर में बुखार से हो रही मौतों पर कहा कि इसका सरकार ने हर स्तर पर संज्ञान लिया है। डेंगू, वायरल, जापनीज इंसेफ्लाइटिश के केस में टीमें भेजकर परीक्षण कराया गया है। केंद्र सरकार की आईसीएमआर की टीम भी आई। वहीं, डेंगू के इलाज के लिए पर्याप्त व्यवस्था भी की गई। डेंगू से हो रही मौतों का आंकड़ा कम न होने पर उन्होंने कहा कि किसी दूसरी बीमारी से मरे लोगों को इसमें नही जोड़ना चाहिए। साथ ही कहा कि जो लोग डेंगू से मरे हैं. हमे इसकी चिंता है और ये नही होना चाहिए था। डेंगू के फैलने से सरकार पूरी तरह से सतर्क है।

वहीं, एटा मेडिकल कॉलेज का काम समय पर पूर्ण न हो पाने और प्रधानमंत्री द्वारा किए जाने वाले उद्घाटन की तिथि बार बार बदलने पर उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज के सभी कामों को अंतिम रूप से पूर्ण किए जाने हेतु बॉर्डर लाइन अंतिम तिथि 25 सितंबर निर्धारित की गई है। जिला अधिकारी एटा वीकली इसकी मॉनिटरिंग करेंगे।

जब उनसे पूँछा गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 14 सितंबर को अलीगढ़ में होने वाली रैली से ही क्या बीजेपी 2022 के उत्तर प्रदेश के चुनावों का आगाज कर रही है. तो उन्होंने कहा कि हम लोग तो एक चुनाव समाप्त होने के बाद ही दूसरे चुनाव की तैयारी करने लगते हैं। और इस बार बीजेपी 300 के पार सींटे जीतेगी। वहीं, जब उनसे पूंछा गया कि विपक्षी पार्टियों का आरोप है. कि असदुद्दीन ओबीसी बीजेपी की बी टीम है. और बीजेपी ने ही उनको लगाया है. तो उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति कुछ भी कह सकता है। संविधान में सबको बोलने की स्वतंत्रता है. लेकिन ऐसा कुछ भी नही है।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities