ब्रेकिंग
लड़की के साथ अश्लील फोटो का डर रहा मौत की वजह, सुसाइड नोट से उजागर हुए कई राजSitapur: तेज बारिश के चलते गिरी दीवार, मलबे में दबे पति-पत्नी समेत पांचSiddharthnagar: पूर्व प्रधान ने धोखाधड़ी से हड़पी सरकारी रकम, कागजों में पूरे दिखाए निर्माण कार्यऔरैया: बहन के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने पर भाई की पिटाईMahoba: अवैध अतिक्रमण पर चला बुलडोजर, जिला प्रशासन ने चलाई बड़ी मुहिमनरेंद्र गिरि मामले में सीबीआई जांच के लिए याचिका दायर, हो सकती है अधिकारियों से पूछताछमहंत नरेंद्र गिरि के मौत के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा: सीएम योगीमहंत की डेथ मिस्ट्री में कई राज,सपा के पूर्व मंत्री से लेकर बिल्डर तक जुड़े है तार  सऊदी विदेश मंत्री ने पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान तालिबानी हुकूमत पर की चर्चादेखिए कैसे संतों की मौतों से भरा रहा है निरंजनी अखाड़े का इतिहास, बेशुमार दौलत रही मौतों की वजह

राजस्थान सरकार ने जनता को प्रदान की 2200 करोड़ की राहत

राजस्थान सरकार ने राजधानी जयपुर की आम जनता को बड़ी सहायता प्रदान की है. इस दौरान प्रशासन ने शहरों के संग मुहिम से ठीक पहले राज्य सरकार ने नियमन के मामलों में लगने वाले अतिरिक्त ब्याज, जुर्माना और अनेक शुल्कों को माफ कर दिया है. बताया जा रहा है कि सरकार के इस निर्णय से जनता पर सीधे तौर पर 2200 करोड़ रुपयों का बोझ नहीं पड़ेगा. सरकार के इस फैसले का पृथ्वीराज नगर की आम जनता ने स्वागत किया है.

वहीं,पृथ्वीराज नगर जन अधिकार संघर्ष समिति के अध्यक्ष ने जानकारी दी है. कि सरकार के इस आदेश से जयपुर के जेडीए क्षेत्र में स्थित पृथ्वीराज नगर की आम जनता को कोरोना महामारी के समय में करीब 2200 करोड़ रुपये की राहत प्रदान की गई है. सरकार ने आम जनता की मांग पर यह निर्णय लिया है, जिससे बड़ी राहत मिली है. 

सरकार के इस फैसले से ऐसे भूमिधारी को फायदा मिलेगा, जिनकी कॉलोनियों के नियमन कैंप तो लग गए, लेकिन उन्होंने अभी तक अपने प्लाटों या मकानों का पट्‌टा नहीं कराया है. ऐसे प्रकरण में जब से नियमन कैंप लगा है, तब से अब तक का 15 फीसद की दर से ब्याज लिया जाता है. जो अब नहीं लगेगा. नगरीय विकास विभाग ने एक आदेश लागू करते हुए यह रियायत देने का एलान किया है, जिसका फायदा मार्च 2022 तक मिलेगा.

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities