ब्रेकिंग
ताजनगरी में पुलिस ने जबरन उठाया किसानों का धरनास्कूल बना स्वीमिंग पूल, हेड मास्टर ने प्रधान को दोषी ठहरायाअंधविश्वास ने ली महिला की जान, नहीं मिला उपचारभारतीय संस्कृति सारे विश्व में निराली है : संघ संपर्क प्रमुख रामलालनरेंद्र गिरि का शव फांसी पर था तो कैसे चलता रहा पंखा? चौंकाने वाला वीडियो आया सामनेEtah: भारत से गए पाकिस्तानियों के नाम अभी भी दर्ज है जमीन, प्रशासन ने की कार्रवाईSiddharthnagar : हॉस्पिटल में हुई चोरी का हुआ खुलासा, पुलिस ने पांच चोरों को धरदबोचाएटा: खुलेआम अवैध शराब बिक्री करते युवक का वीडियो हुआ वायरल, आरोपी गिरफ्तारकुछ कहूं…लोकतंत्र में बाबूराज…आखिर ? अनिच्छा से पंच तत्व में विलीन हुए महंत नरेंद्र गिरि

अयोध्या की रामलीला को लेकर संतों ने जताई नाराजगी

अयोध्या की परंपरागत रामलीला की व्यवस्था को लेकर राम नगरी के संतों ने नाराजगी जताई है. इस रामलीला को लेकर रामनगरी के बड़ा भक्तमाल मंदिर में अयोध्या संत समिति ने विरोध में बैठक की। इस बैठक में फिल्मी सितारों के द्वारा आधी अधूरी और गैर पारंपरिक ढंग से पेश की जा रही रामलीला पर संत समाज के लोग नाराज हैं। 17 अक्टूबर को गोरखपुर में संत समिति मुख्यमंत्री से मुलाकात कर दर्ज शिकायत कराएगी। इस दौरान संतों ने मांग की हैं. कि अयोध्या की रामलीला मंडलियों ने विदेशों तक परचम लहराया हैं। आध्यात्मिक धार्मिक परंपरा वाली रामलीला का आयोजन हो। वहीं, बड़ा भक्तमाल मंदिर में संतो की बैठक खत्म होने के बाद महंत अवधेशदास ने बताया कि फिल्मी हस्तियों की रामलीला के खिलाफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से 17 सितंबर को मुलाकात करेंगे.  अयोध्या की रामलीला के नाम पर भद्दा प्रदर्शन हैं। शराब व मांस खाने वाले कलाकारों का विरोध होगा। पिछले वर्ष मुगलिया शेरवानी और नगरीय जूता पहन नारद मंच पर रहे। अयोध्या मर्यादित नगरी यहां अमर्यादित वेशभूषा। अमर्यादित साहित्य की रामलीला नहीं चलेगी। इसका विरोध होगा,  अयोध्या में उपासना, साधना, मर्यादा, सनातन की रामलीला चाहिए. न कि फिल्मी हस्तियों की रामलीला,फिल्मी दुनिया के लोग धर्म का सत्यानाश कर रहे। वहीं कथावाचक पवन शास्त्री संत समाज रामलीला का विरोध नही कर रहा हैं, अयोध्या राम, रामलीला, रामचरितमानस की भी जन्मभूमि, श्री राम के चरित के बारे में खुद रावण ने कहा कि राम जी का मुखोटा लगा लेने से सारे विश्व की संपदा तुक्ष लगती. वर्चुअल रामलीला होते हुए संदेश एक्चुअल देता। अयोध्या के रामलीला की परंपरा वास्तविकता है। रामलीला का स्वरूप नही बिगड़ा जाए। फिल्मी हस्तियों की रामलीला का 3 माह से हो रहा विरोध 80 प्रतिशत संत विरोध कर रहे, सरकार अगर आराध्य के चरित्र की परिभाषा तैय करे यह उचित नही , संत इसको पसंद नही करेगा। फिल्मी हस्तियों के खिलाफ पीएम नरेंद्र मोदी ,सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलना होगा मिलेंगे। राशिकपीठाधिस्वर महंत जनमेजय शरण ने भी फिल्मी हस्तियों की वर्चुअल रामलीला का विरोध किया हैं रामलीला का विरोध नही हैं रामलीला का उपहास का विरोध हैं।राम ने 5 लीला किया हैं। पांचो रामलीला को दिखाना चाहिए , रामानंद सागर की रामलीला का आज भी पसंद की जा रही हैं। भ्रष्ट लोगो को रामलीला का पात्र बनाये जाने का विरोध हैं, संतो की बैठक में नागा रामलखन दास , संत कविराज कबीर सहित कई संत महंत शामिल हुए।दरसअल आज अयोध्या की रामलीला का लक्ष्मण किला पर  भूमि पूजन हैं।इस भूमि पूजन में कानून मंत्री बृजेश पाठक शामिल होगे। भूमि पूजन के पहले संत समाज के लोग मुखर हुए।3 महीने पहले भागवताचार्य स्मारक सदन में भी संत समिति ने दर्ज विरोध कराया था।मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री को संबोधित पत्र सन्तो ने भेजा था ।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities