ब्रेकिंग
सुप्रीम कोर्ट के इस जज ने नूपुर शर्मा को सुनाई खरी-खरी, याचिका खरिज कर कहा टीवी में जाकर देश से मांगे माफी‘चायवाले’ ने पवार के ‘पॉवर’ और ठाकरे के ‘इमोशन’ का निकाला तोड़, ‘ऑटो चालक’ को इस वजह से बनाया महाराष्ट्र का चीफ मिनीस्टरउदयपुर घटना को लेकर कानपुर के मुस्लिम संगठन के साथ अन्य लोगों में उबाल, कन्हैयालाल के हत्यारों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दिलवाए ‘सरकार’महाराष्ट्र में फिर से बड़ा उलटफेर, शिंदे के साथ फडणवीस लेंगे शपथBIG BREAKING – देवेंद्र फडणवीस नहीं, एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के अगले सीएम, शाम को अकेले लेंगे शपथशिंदे बने मराठा राजनीति के ‘बाहुबली’ जानिए देवेंद्र भी ‘समंदर’ से क्यों कम नहींPanchang: आज का पंचांग 30 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयMonsoon Update: गाजियाबाद और आसपास के जिलों को करना होगा बारिश का इंतजार, पूर्वी यूपी में हल्की बारिश शुरूउदयपुर हिंसा का सायां यूपी तक पहुंचा, यूपी के मेरठ जोन में अलर्ट, सोशल मीडिया पर खाास नजरCorona Update: कोरोना ने बढ़ाई देश की टेंशन, एक ही दिन में बढ़ 25 फीसदी मरीज बढ़े, 30 लोगों की मौत

5G Services: इस साल के अंत तक 20 से 25 शहरों-कस्बों में शुरू हो जाएंगी 5जी सेवा, दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव का बयान

दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा है कि इस साल के अंत तक 20से 25 शहरों और कस्बों में 5 जी सेवा की शुरुआत हो जाएगी। उन्होंने कहा कि 5जी सेवा की शुरुआत के साथ ही भारत में डाटा कीमतें दुनिया के बाकी देशों के मुकाबले कम बनी रहेंगी। देश में डाटा की मौजूदा कीमत वैश्विक औसत से काफी कम हैं।

उन्होंने कहा कि 5जी की शुरुआत अगस्त-सितंबर से होगी। भारत 4जी और 5जी स्टैक विकसित कर रहा है और डिजिटल नेटवर्क में दुनिया के लिए एक भरोसेमंद स्रोत के रूप में अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि अवांछित कॉलों के मसले को हल करने के लिए मंत्रालय एक महत्वपूर्ण नियम पर काम कर रहा है। इसके तहत किसी भी कॉल करने वाले के केवाईसी-पहचान वाले नाम को जाना जा सकेगा। एक बार इंडस्ट्री स्टेकहोल्डरों की बातचीत पूरी हो जाए जिसके बाद इसे देशभर में लागू कर दिया जाएगा।

धीमी डाउनलोडिंग स्पीड पर उन्होंने कहा कि भारत में औसतन डाटा खपत प्रति माह 18 जीबी है जबकि वैश्विक औसत 11जीबी प्रति माह ही है। भारत में डाटा की खपत अति विकसित देशों की तुलना में भी काफी अधिक है। इंफ्रास्ट्रक्चर में और निवेश की आवश्यकता है। डाटा दरों, कॉल ड्रॉप्स, कॉल गुणवत्ता के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर में व्यापक निवेश की आवश्यकता है। 5जी सेवाओं के मूल्य निर्धारण पर उन्होंने कहा कि आज भी भारत में डाटा दरें करीब दो अमेरिकी डॉलर हैं, जबकि वैश्विक औसत 25 अमेरिकी डॉलर है। उन्होंने कहा कि यही प्रवृत्ति अन्य क्षेत्रों में भी होगी।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities