ब्रेकिंग
पश्चिम में मचा कोहराम, ध्रुवीकरण की सियासत में कौन किस पर भारी!Goa Election: बीजेपी ने छह प्रत्याशियों की लिस्ट की जारी, जानिए किसे-किसे मिला टिकटMouni Roy Haldi Ceremony: मौनी रॉय-सूरज नांबियार की हल्दी फोटोज-वीडियोज हुए वायरलरेल मंत्री अश्विनी वैष्णव की छात्रों से अपील, रेलवे आपकी संपत्ति हैं, इसे सुरक्षित रखेंRRB NTPC: धांधली के विरोध में छात्रों का लगातार तीसरे दिन प्रदर्शन जारी, ट्रेन में लगाई आगपति से बगावत स्वाति को पड़ा महंगा, कटा टिकट! क्या पति के खिलाफ लड़ेंगी चुनाव?Chhattisgarh: सीएम भूपेश बघेल ने कर्मचारियों को दी बड़ी सौगातराफेल विमान पायलट शिवांगी सिंह ने गणतंत्र दिवस परेड में लिया हिस्सायूपी में सरकारी दफ्तरों के कर्मचारियों के लिए नई गाइडलाइन जारीजम्मू-कश्मीर के लाल चौक पर पहली बार फहराया गया तिरंगा, लोगों में दिखा जोश

1 जनवरी से कई चीजों पर बढ़ेगा टैक्स, कपड़े और फुटवेयर खरीदना होगा महंगा

नया साल यानी जनवरी 2022 के शुरु होने में कुछ दिन रह गए हैं। नए साल की शुरुआत के साथ ही आपकी जेब पर बोझ बढ़ने वाला है। 2022 से देश में कुछ परिवर्तन होने वाले हैं। इन बदलावों से आम लोगों के कारोबार में फरक पड़ने वाला है। 1 जनवरी से कई चीजों पर टैक्स बढ़ने जा रहा है। कपड़े खरीदने से लेकर ऑटो रिक्शा बुकिंग तक, फुटवेयर से लेकर ऑनलाइन फूड ऑर्डर तक सब महंगा होने जा रहा है।

भारत सरकार ने कपड़ा, रेडीमेड और फुटवेयर पर 7% GST बढ़ा दी है। कपड़े और फुटवेयर पर 1 जनवरी से 12% जीएसटी लगेगा। 1 जनवरी से रेडीमेड गारमेंट्स पर GST की दर 5% से बढ़कर 12% होने वाली है। इससे रेडीमेड गारमेंट्स की कीमतों में बढ़ोत्तरी होगी। ऐसे में नए साल से रेडीमेट गारमेंट्स खरीदने के लिए ग्राहकों को ज्यादा पैसे खर्च करने पड़ेंगे।

इसी के साथ ही ऑनलाइन तरीके से ऑटो रिक्शा या कैब बुकिंग पर भी 5% GST लगेगा। मतलब ओला, उबर जैसे ऐप बेस्ड कैब सर्विस प्रोवाइडर प्लेटफॉर्म से ऑटो रिक्शा बुक करना अब महंगा हो जाएगा। दरअसल, ऑफलाइन तरीके से ऑटो रिक्शा के किराए में कोई परिवर्तन नहीं होगा। उसे टैक्स से बाहर रखा गया है।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities