ब्रेकिंग
Panchang: आज का पंचांग 25 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 24 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 23 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयकानपुर हिंसा का पाकिस्तान कनेक्शन आया सामने, सर्विलांस पर लगे मोबाइलों से हुआ बड़ा खुलासाबाँदा में प्राधिकरण और निबंधन की मिलीभगत से प्लाटिंग के नाम पर हो रही है खुली डकैती ,आप भी हो जाइए सावधान!Panchang: आज का पंचांग 22 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयशिवसेना में लगातार बढ़ रही है बागी विधायकों की संख्या, अब तक 42 MLA ने ठाकरे के खिलाफ मोर्चा खोलाऑटो रिक्शा चलाने और रिवॉल्वर-पिस्टल रखने वाले इस नेता ने ठाकरे को दी चुनौती, महाराष्ट्र की महा विकास आघाडी सरकार गिरने की शुरू हुई उल्टी गिनतीएक ‘महिला मस्साब’ कैसे चुनीं गईं एनडीए के राष्ट्रपति की उम्मीदवार, पीएम नरेंद्र मोदी ने इन बड़े नामों के बजाए द्रौपदी पर क्यों लगाया दांवअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सीएम योगी का दिखा अनोखा अंदाज, तस्वीरों में देखें कैसे दिया स्वस्थ जीवन का संदेश

Aaj Ka Panchang 1 June 2022: जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

दिनांक- 1 जून 2022 का पंचांग
सौजन्य- आचार्य दीपान्त कुमार शर्मा

संवत:-2079(नल-संवत्सर), शाका:-1944.
रवि:-उत्तरायण/उत्तरगोल !!

ऋतु:-ग्रीष्मऋतु !!

मास:-जेष्ठ !! पक्ष:-शुक्लपक्ष !!
तिथि:-द्वितीया !!
वार:-बुधवार !!
नक्षत्र:-मृगशिरा/आर्द्रा !!
योग:-शूल !!
करण:-बालव/कौलव !!
दिशाशूल:-नैऋतदिशा !!
पंचक-विचार:-पंचक आजकल नहीं हैं !!
गंडमूल-विचार:-गंडमूल आजकल नहीं हैं !!
राहुकाल:-दोपहर 12:00 से 1:30 तक (स्थूल) !!
=================================
बुध-बीजमंत्र:-ओम ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम:।
उत्पातरूपी जगतां चंद्रपुत्रो महाद्युति:। सूर्यप्रियकरो विद्वान् पीड़ां दहतु मे बुध:।।
==================================
🙏……..|| आज का विचार||…….🙏

🛕🙏 हृदयस्पर्शी अनमोल वचन-817 🙏🛕

इंसान के गुण नमक की तरह होने चाहिए जो भोजन में तो होता है पर दिखाई नहीं देता और अगर न हो तो स्वाद ही फीका हो जाता है !!

संसार में सबसे ताकतवर वही सहनशील व्यक्ति वही है जो “धोखा” खाने के बाद भी लोगों को की “परोपकार” करना नहीं छोड़ता !!

जब दुनिया हमें कहती है तुमसे नहीं होगा हार मान लो, उस समय उम्मीद कान में कहती है एक बार और कोशिश कर लें !!

बहुत फर्क होता है किसी को जानने और समझने में ! जानता वो है जो पास होता है समझता वो है जो खास होता है !!

कर्मों का थप्पड़ इतना भारी और भयंकर होता है कि हमारा जमा हुआ पुण्य कब गुप्प-चुप्प में खत्म हो जाए पता भी नहीं चलता !!

पुण्य खत्म होने पर समर्थ राजा क्या, चक्रवर्ती सम्राट क्या, देवराज इंद्र को भी भीख मांगने पड़ती है इसलिए कभी किसी के साथ छल-कपट करके किस की आत्मा को दुखी ना करें !!
🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕
🪴कल की चिंता क्यों करें, कभी न आया कल !
कृष्ण चिंतन कीजिए, जीवन हो जाए सफल !! 🪴
🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕
आचार्य दीपान्त कुमार शर्मा
कर्मकांड एवं फलित ज्योतिषाचार्य
जय श्री माँ बगलामुखी जी
(दतिया)
संपर्क सूत्र-9761027940

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities