ब्रेकिंग
Panchang: आज का पंचांग 25 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 24 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 23 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयकानपुर हिंसा का पाकिस्तान कनेक्शन आया सामने, सर्विलांस पर लगे मोबाइलों से हुआ बड़ा खुलासाबाँदा में प्राधिकरण और निबंधन की मिलीभगत से प्लाटिंग के नाम पर हो रही है खुली डकैती ,आप भी हो जाइए सावधान!Panchang: आज का पंचांग 22 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयशिवसेना में लगातार बढ़ रही है बागी विधायकों की संख्या, अब तक 42 MLA ने ठाकरे के खिलाफ मोर्चा खोलाऑटो रिक्शा चलाने और रिवॉल्वर-पिस्टल रखने वाले इस नेता ने ठाकरे को दी चुनौती, महाराष्ट्र की महा विकास आघाडी सरकार गिरने की शुरू हुई उल्टी गिनतीएक ‘महिला मस्साब’ कैसे चुनीं गईं एनडीए के राष्ट्रपति की उम्मीदवार, पीएम नरेंद्र मोदी ने इन बड़े नामों के बजाए द्रौपदी पर क्यों लगाया दांवअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सीएम योगी का दिखा अनोखा अंदाज, तस्वीरों में देखें कैसे दिया स्वस्थ जीवन का संदेश

Aaj Ka Panchang 2 June 2022: जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

दिनांक- 2 जून 2022 का पंचांग
सौजन्य- आचार्य दीपान्त कुमार शर्मा

संवत्:-2079(नल-संवत्सर), शाका:-1944.
रवि:-उत्तरायण/उत्तरगोल.
ऋतु:-ग्रीष्मऋतु !!
मास:-जेष्ठ !! पक्ष:-शुक्लपक्ष !!
तिथि:-तृतीया/रम्भातृतीया-व्रत/उमा-अवतार/महाराणा प्रताप जयन्ती/ !!
वार:-बृहस्पतिवार !!
नक्षत्र:-आर्द्रा !!
योग:-गंड !!
करण:-तैतिल/गर !!
दिशाशूल:-दक्षिणदिशा !!
पंचक-विचार:-पंचक आजकल नहीं हैं !!

गंडमूल-विचार:-गंडमूल आजकल नहीं हैं !!

राहुकाल:-दोपहर 1:30 से 3:00 तक (स्थूल) !!
==================================
🪴गुरु-बीजमंत्र:-ओम ग्रां ग्रीं ग्रौं स: गुरवे नम:।
🪴देवमंत्री विशालाक्षी सदा लोकहिते रत:। 🪴🪴अनेक-शिष्य-संपूर्ण: पीड़ां दहतु मे गुरु:।।
==================================
【आजका-विचार 】

कितने “अनमोल” होते हैं ये अपनों के “रिश्ते” कोई याद ना भी करें तो भी “इंतजार” रहता है !!

जो ब्रह्मांड में परमात्मा के रूप में है वही शरीर में आत्मा के रूप में विराजमान हैं !!

जो दुनिया का मौसम बदल सकता है वो आपकी किश्मत भी बदल सकता है !!

अगर वक्त बुरा हो तो मेहनत करना वक्त अच्छा हो तो किसी की मदद करना !!

“इस दुनिया में असंभव कुछ भी नहीं है, अगर उत्साह न छोड़ा जाए” !!

मौत की गाड़ी में जिस दिन सोना होगा, ना कोई तकिया न बिछौना होगा !

साथ होगी कर्मों की यादें और एक शमसान का कोना होगा और वहां लिखा होगा…

मंजिल तो तेरी यही थी बस जिंदगी गुजर गई आते-आते, क्या मिला तुझे दुनिया से, अपनों ने ही जला दिया जाते-जाते !!
🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕
गजब की बात है मन कपड़ा नहीं फिर भी मैला हो जाता है और दिल काँच नहीं फिर भी टूट जाता हैं !!
🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕
आचार्य दीपान्त कुमार शर्मा
कर्मकांड एवं फ़लित ज्योतिषाचार्य
जय श्री माँ बगलामुखी जी
(दतिया)
संपर्क सूत्र-9761027940

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities