ब्रेकिंग
Panchang: आज का पंचांग 25 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 24 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 23 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयकानपुर हिंसा का पाकिस्तान कनेक्शन आया सामने, सर्विलांस पर लगे मोबाइलों से हुआ बड़ा खुलासाबाँदा में प्राधिकरण और निबंधन की मिलीभगत से प्लाटिंग के नाम पर हो रही है खुली डकैती ,आप भी हो जाइए सावधान!Panchang: आज का पंचांग 22 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयशिवसेना में लगातार बढ़ रही है बागी विधायकों की संख्या, अब तक 42 MLA ने ठाकरे के खिलाफ मोर्चा खोलाऑटो रिक्शा चलाने और रिवॉल्वर-पिस्टल रखने वाले इस नेता ने ठाकरे को दी चुनौती, महाराष्ट्र की महा विकास आघाडी सरकार गिरने की शुरू हुई उल्टी गिनतीएक ‘महिला मस्साब’ कैसे चुनीं गईं एनडीए के राष्ट्रपति की उम्मीदवार, पीएम नरेंद्र मोदी ने इन बड़े नामों के बजाए द्रौपदी पर क्यों लगाया दांवअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सीएम योगी का दिखा अनोखा अंदाज, तस्वीरों में देखें कैसे दिया स्वस्थ जीवन का संदेश

Aaj Ka Panchang 3 June 2022: जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

दिनांक- 3 जून 2022 का पंचांग
सौजन्य- आचार्य दीपान्त कुमार शर्मा

संवत:-2079(नल-संवत्सर), शाका:-1944. रवि:-उत्तरायण/उत्तरगोल।
ऋतु:-ग्रीष्मऋतु। मास:-जेष्ठ !!
पक्ष:-शुक्लपक्ष !! वार:-शुक्रवार !!
तिथि:-चतुर्थी !! नक्षत्र:-पुनर्वसु !! योग:-वृद्धि !!
करण:-वणिज/विष्टि !! दिशाशूल:-पश्चिमदिशा !!
पंचक-विचार:-पंचक आजकल नहीं हैं !!

गंडमूल-विचार:-गंडमूल आजकल नहीं हैं !!

राहुकाल:-प्रात: 10:30 से 12:00 बजे तक (स्थूल) !!
=================================
💧शुक्र बीजमंत्र:-ओम द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम:।
💧दैत्यमंत्री गुरुस्तेषां प्रणवश्च महाद्युति:।
💧प्रभुस्ताराग्रहाणां च पीड़ां दहतु मे भृगु:।
==================================
🛕…….||आजका-विचार ||…….🛕

संयोग से जीवन मिलता है और सहयोग से जीवन चलता है, कुछ हँसकर बोल दो, कुछ हँसकर टाल दो, परेशानियाँ तो बहुत हैं, कुछ वक़्त पर डाल दो !!

समस्याओं पर ध्यान लगाओगे तो लक्ष्य दिखने बंद हो जाएंगे, इसीलिए लक्ष्य पर ध्यान लगाओ समस्याएं दिखना बंद हो जाएंगी !!

दो ही चीजें ऐसी है जिन्हें देने में किसी का कुछ नहीं जाता ! एक मुस्कुराहट और दूसरी दुआ, हमेशा बांटते रहिए, हमेशा बढ़ती रहेगी !!

चिंतन हो सदा इस मन में तेरा चरणों में तेरे मेरा ध्यान रहे ! चाहे दु:ख में रहूं, चाहे सुख में रहूं, होठों पर सदा तेरा नाम रहे !!

दूसरों की गलतियों से सीखने में ही बुद्धिमानी है ! जिंदगी इतनी बड़ी नही होती कि सारी गलतियां खुद करके सीखें !!

खूबसूरती देख कर कभी चकित नही होना चाहिए, उन छिपे गुणों को देखना चाहिए जो हमेशा बने रहते है !!
🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕
अपनापन, आदर और वक़्त वह दौलत है, जिससे बड़ा किसी को देने के लिए कोई उपहार नहीं है !!
🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕
आचार्य दीपान्त कुमार शर्मा
कर्मकांड एवं फ़लित ज्योतिषाचार्य
जय श्री माँ बगलामुखी जी
(दतिया)
संपर्क सूत्र-9761027940

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities