ब्रेकिंग
सुप्रीम कोर्ट के इस जज ने नूपुर शर्मा को सुनाई खरी-खरी, याचिका खरिज कर कहा टीवी में जाकर देश से मांगे माफी‘चायवाले’ ने पवार के ‘पॉवर’ और ठाकरे के ‘इमोशन’ का निकाला तोड़, ‘ऑटो चालक’ को इस वजह से बनाया महाराष्ट्र का चीफ मिनीस्टरउदयपुर घटना को लेकर कानपुर के मुस्लिम संगठन के साथ अन्य लोगों में उबाल, कन्हैयालाल के हत्यारों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दिलवाए ‘सरकार’महाराष्ट्र में फिर से बड़ा उलटफेर, शिंदे के साथ फडणवीस लेंगे शपथBIG BREAKING – देवेंद्र फडणवीस नहीं, एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के अगले सीएम, शाम को अकेले लेंगे शपथशिंदे बने मराठा राजनीति के ‘बाहुबली’ जानिए देवेंद्र भी ‘समंदर’ से क्यों कम नहींPanchang: आज का पंचांग 30 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयMonsoon Update: गाजियाबाद और आसपास के जिलों को करना होगा बारिश का इंतजार, पूर्वी यूपी में हल्की बारिश शुरूउदयपुर हिंसा का सायां यूपी तक पहुंचा, यूपी के मेरठ जोन में अलर्ट, सोशल मीडिया पर खाास नजरCorona Update: कोरोना ने बढ़ाई देश की टेंशन, एक ही दिन में बढ़ 25 फीसदी मरीज बढ़े, 30 लोगों की मौत

नाराज आजम खान को अखिलेश यादव का सम्मान, पूर्वमंत्री के करीबी कपिल सिब्बल को दिया राज्यसभा का टिकट

लखनऊ। समावादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पूर्व कांग्रेसी नेता कपिल सिब्बल को राज्यसभा का टिकट देकर चुनाव के मैदान में उतार दिया है। कपिल सिब्बल को पूर्वमंत्री व विधायक आजम खान का करीबी बताया जा रहा है। सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट में आजम खान के पक्ष में खड़े होकर जमानत दिलवाने में अहम रोल निभाया है। बता दें, सिब्बल कांग्रेस के उन नेताओं में शुमार हैं, जो पार्टी नेतृत्व से सुधार और जवाबदेही की मांग कर रहे हैं। माना जाता है कि उन्हें तभी से पार्टी में दरकिनार कर दिया गया है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने राज्यसभा सीट के लिए पूर्व कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल को टिकट देकर चुनाव के मैदान में उतार दिया है। नामांकन भरने के बाद कपिल सिब्बल ने कहा कि, वह निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं। सिब्बल ने बताया कि, उन्होंने 16 मई को ही कांग्रेस पार्टी से रिजाइन कर दिया था। कपिल सिब्बल ने समर्थन के लिए आजम खान का भी शुक्रिया अदा किया। उन्होंने खुद साफ किया कि वह सपा में शामिल नहीं होने जा रहे हैं, बल्कि निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन किया है। सिब्बल ने कहा,’’मुझे खुशी है कि मैं राज्यसभा का निर्दलीय उम्मीदवार बनने जा रहा हूं। मैं हमेशा इस देश में स्वतंत्र आवाज बनना चाहता था। मुझे खुशी है कि अखिलेश यादव ने इसे समझा। हम पार्टी का सदस्य होने पर उसके अनुशासन से बंध जाते हैं।

कथित तौर पर भूमि-हथियाने सहित कई मामलों को लेकर 27 महीने जेल में रहने के बाद आजम खान को 20 मई को उत्तर प्रदेश की सीतापुर जेल से अंतरिम जमानत पर रिहा किया गया था। सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में खान के वकील हैं। खान ने कहा, ‘(सिब्बल) इतने वरिष्ठ व्यक्ति हैं, वह बहुत बड़े व्यक्ति हैं और बहुत अच्छे हैं। मुझे सबसे ज्यादा खुशी होगी अगर वह (नॉमिनेटेड) हैं।

पूर्वमंत्री व विधायक आजम खान, सपा प्रमुम अखिलेश यादव व मुलायम सिंह यादव से नाराज बताए जा रहे हैं। मंगलवार को उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था कि, फिलहाल वह अभी समाजवादी पार्टी में हैं। आने वाले वक्त में बड़ा फैसला लेंगे। इसी के चलते अखिलेश यादव पे चाहते हुए भी कपिल सिब्बल को सपा से राज्यसभा का टिकट दिया है। जानकार बताते हैं कि, आजम खान ने सिब्बल को टिकट दिए जाने की पैरवी की थी।

2016 में सिब्बल सपा के समर्थन से कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में उत्तर प्रदेश से राज्य सभा के लिए चुने गए थे। हालांकि, कांग्रेस के अब राज्य में केवल दो विधायक ही रह गए हैं, वह यूपी से किसी को भी चुनने की स्थिति में नहीं है, जहां 11 राज्य सभा सीटें जल्द खाली होने वाली हैं। बीजेपी की नजर 8 सीटों पर हैं। वही समाजवादी पार्टी तीन सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार सकती है।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities