ब्रेकिंग
सुप्रीम कोर्ट के इस जज ने नूपुर शर्मा को सुनाई खरी-खरी, याचिका खरिज कर कहा टीवी में जाकर देश से मांगे माफी‘चायवाले’ ने पवार के ‘पॉवर’ और ठाकरे के ‘इमोशन’ का निकाला तोड़, ‘ऑटो चालक’ को इस वजह से बनाया महाराष्ट्र का चीफ मिनीस्टरउदयपुर घटना को लेकर कानपुर के मुस्लिम संगठन के साथ अन्य लोगों में उबाल, कन्हैयालाल के हत्यारों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दिलवाए ‘सरकार’महाराष्ट्र में फिर से बड़ा उलटफेर, शिंदे के साथ फडणवीस लेंगे शपथBIG BREAKING – देवेंद्र फडणवीस नहीं, एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के अगले सीएम, शाम को अकेले लेंगे शपथशिंदे बने मराठा राजनीति के ‘बाहुबली’ जानिए देवेंद्र भी ‘समंदर’ से क्यों कम नहींPanchang: आज का पंचांग 30 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयMonsoon Update: गाजियाबाद और आसपास के जिलों को करना होगा बारिश का इंतजार, पूर्वी यूपी में हल्की बारिश शुरूउदयपुर हिंसा का सायां यूपी तक पहुंचा, यूपी के मेरठ जोन में अलर्ट, सोशल मीडिया पर खाास नजरCorona Update: कोरोना ने बढ़ाई देश की टेंशन, एक ही दिन में बढ़ 25 फीसदी मरीज बढ़े, 30 लोगों की मौत

श्री कृष्ण जन्मभूमि मुक्ति दल की बैठक हुई आयोजित, अयोध्या से कृष्ण जन्मभूमि तक जाएगी यात्रा

अनिल निषाद, अयोध्या

Ayodhya अयोध्या में श्री कृष्ण जन्मभूमि मुक्ति दल की महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई। ये बैठक श्री कृष्ण जन्म भूमि मुक्त दल के प्रमुख राजेश मणि त्रिपाठी के नेतृत्व में की गई। जिसमें दर्जनों पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया। इस बैठक के बाद श्री कृष्ण जन्मभूमि मुक्ति दल के प्रमुख राजेश मणि त्रिपाठी ने प्रेस वार्ता की। प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने बताया कि श्री कृष्ण जन्मभूमि काशी विश्वनाथ मुक्ति को लेकर पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत द्वितीय चरण की यात्रा को लेकर विचार विमर्श किया गया। राष्ट्रीय पदाधिकारियों के द्वारा द्वितीय चरण के यात्रा की तारीख मुकर्रर की गई। 17 अप्रैल कृष्ण पक्ष को इन 4 सूत्रीय चार मांगों को लेकर अयोध्या से काशी तक श्री कृष्ण जन्मभूमि मुक्ति दल की यात्रा जाएगी।

1–गौ हत्या पर पूर्णता पूर्ण प्रतिबंध।
2–श्री कृष्ण जन्म भूमि तथा काशी से अतिक्रमण हटाकर देवस्थान के समस्त भूमि हिंदू समुदाय को सौंपी जाए।
3–सभी मंदिरों को सरकारी नियंत्रण से मुक्त किया जाए तथा वैदिक बोर्ड का गठन किया जाए।
4–भारत देश को हिंदू राष्ट्र घोषित किया जाए तथा हिंदू राष्ट्र का नया संविधान बनाया जाए।

वहीं, श्री कृष्ण जन्मभूमि मुक्ति दल के पदाधिकारियों ने कहा कि इस साल की होली मथुरा में मनाएंगे और उत्तर-प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित करेंगे, जिस तरीके से अयोध्या में योगी आदित्यनाथ ने दीपोत्सव का कार्यक्रम किया ठीक उसी तरह इस साल होली में बृज की होली को राष्ट्रीय नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय परिदृश्य में लाया जा सके, ऐसा प्रयास हम लोग करेंगे। साथ ही सभी राजनीतिक पार्टियों से हमारी मांग है कि हमारे धर्म स्थानों से संत समाज के ही लोगों को टिकट दिया जाए ताकि धार्मिक आस्था को बल मिल सके चाहे वह किसी पार्टी का हो हम उनका समर्थन करेंगे। राजेश मणि त्रिपाठी ने बताया कि 29 नवंबर की अर्धरात्रि में गिरफ्तार कर लिया गया तथा हमारे लोगों को जगह-जगह रोका दिया गया और मथुरा से धारा 144 लगाकर पूरे मथुरा को छावनी में तब्दील कर दिया गया उसके बावजूद भी 25000 लोग मथुरा में पहुंचे जबकि उस यात्रा को लेकर हमारी वार्ता लगातार आईजी लॉ इन ऑर्डर से लेकर सभी सक्षम अधिकारियों से हो रही थी। हम लोगों का मस्जिद की तरफ जाने का ना तो कोई प्रस्ताव था और ना ही कोई मंशा थी, ना ही हम लोगों ने जलाभिषेक जैसे किसी कार्यक्रम की घोषणा नहीं की थी। परंतु हमारे कार्यक्रम को रोकने का सरकार द्वारा कुत्सित प्रयास किया गया और हमें बदनाम करने की कोशिश की गई हमारे राष्ट्रीय पदाधिकारियों की इस बैठक में निर्णय लिया गया।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities