ब्रेकिंग
Jaunpur: दो पक्षों में सुलह कराने पहुंचे व्यक्ति को दबंगों ने मारी गोलीहमीरपुर पहुंचें डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, कार्यकर्ताओं ने किया जोरदार स्वागतAuraiya: पत्नी से परेशान युवक ने लगाई फांसी, आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर परिजनों ने निकाला कैंडल मार्चअनन्या पांडे के घर एनसीबी ने मारा छापा, अनन्या से पूछताछ में एनसीबी को मिले कई अहम सबूतAgra: भूमाफिया से परेशान महिला ने खेत में ली समाधि, लेखपाल और कानूनगो पर मिलीभगत का आरोप‘रामायण’ में निषाद राज बने चंद्रकांत पांड्या का निधन, सीरियल के कलाकारों में शोक की लहरJaunpur: दो मंजिला जर्जर मकान हुआ जमीदोज, पांच लोगों की हुई दर्दनाक मौतHamirpur: डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा के आगमन को लेकर तैयारियों में जुटा प्रशासनAgra: तालाब का पानी सड़क पर भरने के चलते स्कूली बस तालाब में गिरी, हादसा होने से टलाAyodhya: भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच का संतों ने किया विरोध

Ayodhya: प्रधान मंत्री मोदी के आगमन को लेकर तैयारियां जोरों पर, दीपोत्सव को लेकर प्रभारी मंत्री ने की बैठक

अनिल निषाद, अयोध्या

अयोध्या में इस बार का पांचवा दीपोत्सव बेहद खास होने जा रहा है। यह दीपोत्सव 01 से 06 नवम्बर तक आयोजित किया जाएगा। तो, वहीं इस भव्य दीपोत्सव में पीएम मोदी भी शामिल हो सकते हैं। जिसको लेकर तैयारियों का दौर शुरू हो गया हैं। इसी कड़ी में अयोध्या पहुंचे जनपद के प्रभारी मंत्री और पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी ने सर्किट हाउस में दीपोत्सव की तैयारियों को लेकर डीएम, एसएसपी और अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में डीएम अनुज कुमार झा द्वारा पिछले दीपोत्सवों का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया गया। जनपद के प्रभारी मंत्री नीलकंठ तिवारी ने कहा कि दीपोत्सव की तैयारी को लेकर बैठक की गई थी। इस बार मुख्यमंत्री जी के द्वारा पिछले साल में रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए हम लोग इस बार 7.50 लाख दीपक जलाए जायेंगे। वहीं भव्य और दिव्य दीपोत्सव की योजना पर काम किया जा रहा है। दरसअल, इस बार का दीपोत्सव कार्यक्रम 6 दिवसीय होगा। मुख्य कार्यक्रम के दिन साकेत डिग्री कालेज से रामकथा पार्क तक रामायण कालीन आधारित 11 भव्य झांकियां निकाली जायेंगी और पूरे अयोध्या परिक्षेत्र को भव्य रूप से सजाया संवारा जायेगा। जगह-जगह तोरणद्वार बनाये जायेंगे। विद्युत झालरों और दीपकों से अयोध्या के मठ और मंदिरों को सजाया जायेगा। भगवान श्रीराम, लक्ष्मण एवं माता सीता के स्वरूप पुष्पक विमान से सरयू घाट पर आयेंगे, जिनकी अगवानी साधु संत एवं अति विशिष्ट व्यक्तियों द्वारा किया जायेगा। इसी दौरान आकाश से पुष्प वर्षा करायी जायेगी तथा रामकथा पार्क में राजतिलक किया जायेगा। साथ ही लोक कलाकारों द्वारा रामलीलाओं का मंचन किया जाएगा।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities