बड़ी ख़बरें
एक दुनिया का सबसे बड़ा ग्लोबल लीडर तो दूसरा देश का चर्चित और सबसे पॉपुलर पॉलिटिशियन, पर दोनों आदिशक्ति के उपासक और पिछले 45 वर्षो से लगातार रखते आ रहे निर्जला व्रत, जानें इसके पीछे का राजअब सिल्वर स्क्रीन पर दिखाई देगी निरहुआ के असल जिंदगी के अलावा उनकी रियल लव स्टोरी की ‘एबीसीडी’, शादी में गाने-बजाने वाला कैसे बना भोजपुरी फिल्मों का सुपरस्टार के साथ राजनीति का सबसे बड़ा खिलाड़ीटीचर की पिटाई से छात्र की मौत के चलते उग्र भीड़ ने पुलिस पर पथराव के साथ जीप और वाहनों में लगाई आग, अखिलेश के बाद रावण की आहट से चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनातकुंवारे युवक हो जाएं सावधान आपके शहर में गैंग के साथ एंट्री कर चुकी है लुटेरी दुल्हन, शादी के छह दिन के बाद दूल्हे के घर से लाखों के जेवरात-नकदी लेकर प्रियंका चौहान हुई फरारअपने ही बेटे के बच्चे की मां बनने जा रही ये महिला, दादी के बजाए पोती या पौत्र कहेगा अम्मा, हैरान कर देगी MOTHER  एंड SON की 2022 वाली  LOVE STORYY आस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाकेदार जीत के बाद भी कैप्टन रोहित शर्मा की टेंशन बरकरार, टी-20 वर्ल्ड कप से पहले हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार समेत ये क्रिकेटर टीम इंडिया से बाहरShardiya Navratri 2022 : अकबर और अंग्रेजों ने किया था मां ज्वालाजी की पवित्र ज्योतियां बुझाने का प्रयास, माता रानी के चमत्कार से मुगल शासक और ब्रिटिश कलेक्टर का चकनाचूर हो गया था घमंडबीजेपी नेता का बेटे वंश घर पर अदा करता था नमाज, जानिए कापी के हर पन्ने पर क्यों लिखता था अल्हा-हू-अकबर17 माह तक एक कमरे में पति की लाश के साथ रही पत्नी, बड़ी दिलचस्प है विमलेश और मिताली के मिलन की लव स्टोरी‘शर्मा जी’ ने महेंद्र सिंह धोनी के 15 साल पहले लिए गए एक फैसले का खोला राज, 22 गज की पिच पर चल गया माही का जादू और पाकिस्तान को हराकर भारत ने जीता पहला टी-20 वर्ल्ड कप

महिला कांस्टेबल पर फिदा दो सिपाहियों के बीच थाने में ‘लाइव एनकाउंटर’ के बाद बड़ा एक्शन, ताबड़तोड़ फायरिंग पर ‘योगी के दो सिंघम’ समेत पांच पुलिसकर्मी किए गए सस्पेंड

बरेली। बहेड़ी थाने में तैनात दो सिपाहियों के बीच एक महिला कांस्टेबल को लेकर विवाद हो गया। दोनों उससे प्यार करते थे और एक-दूसरे को महिला कांस्टेबल से दूर रहने की धमकी दिया करते थे। तनातनी के बीच सोमवार को मामला हाथापाई आ गया। इसी दौरान दरोगा का पिस्टल लेकर सिपाही ने दूसरे पर कई राउंड फायरिंग कर दी। अन्य पुलिसकर्मियों ने किसी तरह से दोनों को शांत करवाया और मामले को दबा दिया। पूरे प्रकरण की जानकारी जब एसएसपी को हुई तो दो इंस्पेक्टर समेत पांच पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया। साथ ही सीओ को जांच सौंपने के अलावा जल्द से जल्द रिपोर्ट देने को कहा गया है।

महिला सिपाही के पीछे पड़ा योगेश
पुलिस अफसरों के मुताबिक थाना बहेड़ी में बतौर मुंशी तैनात सिपाही मोनू पांडेय के महिला सिपाही से काफी दिनों से नजदीकी संबंध थे। कुछ समय से थाने में ही तैनात सिपाही योगेश चाहल भी महिला सिपाही के पीछे पड़ गया था। दोनों के बीच कई दिनों से तनातनी चल रही थी। चार दिन पहले मोनू और योगेश के बीच महिला सिपाही के घर के बाहर ही मारपीट तक हो गई थी। यह घटना इंस्पेक्टर बहेड़ी सतेंद्र भड़ाना की जानकारी में भी आई लेकिन उन्होंने इसे रफादफा कर दिया। सोमवार रात मोनू और योगेश के बीच थाने में ही झड़प हो गई। बात इतनी बढ़ी कि सिपाही मोनू ने एक दरोगा की ड्यूटी के बाद जमा की गई सरकारी रिवाल्वर से एक-एक कर दो गोलियां चला दीं। गोली किसी को लगी तो नहीं लेकिन इस घटना से थाने में हड़कंप मच गया।

मोनू और योगेश को समझाकर अलग किया
स्टाफ ने आननफानन थाने का गेट बंद कर सिपाही मोनू और योगेश को समझाकर अलग किया। इंस्पेक्टर सतेंद्र भड़ाना इस दौरान थाने में ही मौजूद थे लेकिन उन्होंने न सिपाहियों पर कोई कार्रवाई की न उच्चाधिकारियों को घटना की सूचना दी। रात में ही किसी और जरिये से एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज को घटना की जानकारी मिली तो उन्होंने एसपी क्राइम मुकेश प्रताप सिंह को थाना बहेड़ी भेजा। एसपी क्राइम ने थाने पहुंचकर रात दो बजे तक पुलिसकर्मियों से पूछताछ की और फिर पूरा वाकया एसएसपी को बताया। इसके बाद एसएसपी ने सिपाही मोनू पांडेय, योगेश चाहल और मनोज के साथ इंस्पेक्टर सतेंद्र भड़ाना और इंस्पेक्टर क्राइम अनिल कुमार को सस्पेंड कर दिया।

अफसरों ने सभी को बचाने का कर रहे थे प्रयास
थाने में गोली चलने के बाद पहले मुंशी मोनू पांडेय को ही सस्पेंड किया गया। योगेश जिसकी वजह से यह घटना होने की नौबत आई, उसे लाइन हाजिर ही किया गया। इस बीच एसएसपी लगातार अपडेट लेते रहे। पूरा मामला पता चलने के बाद उन्होंने सुबह योगेश को भी सस्पेंड कर दिया। इसके साथ इंस्पेक्टर सतेंद्र भड़ाना, इंस्पेक्टर क्राइम अनिल कुमार और सिपाही मनोज को भी सस्पेंड कर दिया गया। इससे पहले योगेश की सरपरस्ती करने वाले अफसर उसे बचाने की कोशिश करते रहे। पूरा मामला जानकारी में आने के बाद वह भी एसएसपी के कोप का शिकार हो गया।

महिला सिपाही से अक्सर मिलने जाता था मोनू
महिला सिपाही थाने के पास ही एक मोहल्ले में एक चाय वाले की गली में रहती है। उसी के पास एक प्वाइंट पर उसकी ड्यूटी लगी है। मुंशी मोनू अक्सर उसके घर जाता था। चार दिन पहले जब वह महिला सिपाही के घर बैठा हुआ था तो सिपाही योगेश और मनोज भी वहां जा पहुंचे और मोनू और महिला सिपाही का वीडियो बना लिया। इसी बात पर महिला सिपाही के घर के बाहर मोनू और योगेश में जमकर मारपीट हुई। महिला सिपाही को मनोज चुपचाप बाइक से थाने लेकर चला गया था। इसके बाद मोनू और योगेश में तनातनी और बढ़ गई।

जिसके बाद मोनू ने गोलियां चला दीं
सोमवार रात दोनों के बीच थाने में ही गालीगलौज हुई, जिसके बाद मोनू ने गोलियां चला दीं। जिस रिवाल्वर से उसने गोलियां चलाईं, वह एक दरोगा की थी जो कुछ ही देर पहले ड्यूटी के बाद जमा करके गया था। दरोगा की रिवाल्वर मुंशी के पास कैसे आ गई, इसकी भी जांच की जा रही है। मारपीट की घटना इंस्पेक्टर सतेंद्र भड़ाना की जानकारी में आई, तब भी उन्होंने योगेश का बचाव किया। बताया जाता है कि योगेश को उन्होंने समझाया भी था कि मोनू और महिला सिपाही के बीच वह दखलंदाजी न करे लेकिन इसके बावजूद योगेश ने महिला सिपाही का पीछा नहीं छोड़ा। महिला सिपाही योगेश के खिलाफ इंस्पेक्टर से बुरी नजर रखने और छेड़खानी करने की भी शिकायत कर चुकी थी लेकिन इंस्पेक्टर ने उसे ही शांत रहने की हिदायत देकर बात खत्म कर दी थी।

स्टाफ ने आनन-फानन में थाने का गेट बंद करा दिया
गोली चलने का मामला जब दोनों सिपाहियों में झड़प के बाद गोली चली तो स्टाफ ने आनन -फानन थाने का गेट बंद करा दिया। काफी देर तक किसी को थाने के अंदर नहीं आने दिया गया। इस बीच स्टाफ सिपाहियों को समझाने और अलग-अलग करने की कोशिश करता रहा। थाने के किसी पुलिसकर्मी ने पूरी घटना की जानकारी एसएसपी को दे दी। एसएसपी को इंस्पेक्टर गुमराह करता रहा। एएसपी की जांच के बाद मामला सही पाया गया और फिर एक्शन हो गया। एसएसपी ने बताया कि, जांच सीओ को सौंपी गई है। रिपोर्ट आने के बाद सभी निलंबित पुलिसकर्मियों पर मुकदमा भी दर्ज करवा कर जेल भेजा जाएगा।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities