ब्रेकिंग
सुप्रीम कोर्ट के इस जज ने नूपुर शर्मा को सुनाई खरी-खरी, याचिका खरिज कर कहा टीवी में जाकर देश से मांगे माफी‘चायवाले’ ने पवार के ‘पॉवर’ और ठाकरे के ‘इमोशन’ का निकाला तोड़, ‘ऑटो चालक’ को इस वजह से बनाया महाराष्ट्र का चीफ मिनीस्टरउदयपुर घटना को लेकर कानपुर के मुस्लिम संगठन के साथ अन्य लोगों में उबाल, कन्हैयालाल के हत्यारों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दिलवाए ‘सरकार’महाराष्ट्र में फिर से बड़ा उलटफेर, शिंदे के साथ फडणवीस लेंगे शपथBIG BREAKING – देवेंद्र फडणवीस नहीं, एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के अगले सीएम, शाम को अकेले लेंगे शपथशिंदे बने मराठा राजनीति के ‘बाहुबली’ जानिए देवेंद्र भी ‘समंदर’ से क्यों कम नहींPanchang: आज का पंचांग 30 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयMonsoon Update: गाजियाबाद और आसपास के जिलों को करना होगा बारिश का इंतजार, पूर्वी यूपी में हल्की बारिश शुरूउदयपुर हिंसा का सायां यूपी तक पहुंचा, यूपी के मेरठ जोन में अलर्ट, सोशल मीडिया पर खाास नजरCorona Update: कोरोना ने बढ़ाई देश की टेंशन, एक ही दिन में बढ़ 25 फीसदी मरीज बढ़े, 30 लोगों की मौत

Breaking News – कानपुर हिंसा के बाद बीजेपी का बड़ा एक्शन, नुपुर शर्मा के अलावा इस नेता को पार्टी से किया निलंबित

दिल्ली। कानपुर हिंसा के बाद जहां पुलिस उपद्रवियों को गिरफ्तार कर रही है तो वहीं बीजेपी हाईकमान ने बड़ा फैसला लेते हुए रविवार को प्रवक्ता नुपुर शर्मा और नवीन जिंदल को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया। इसके पहले नुपुर की टिप्पणी के बाद उठे विवाद के बीच पार्टी की ओर से बयान जारी किया गया। जिसमें कहा गया है कि, बीजेपी सभी धर्मों का सम्मान करती है और किसी भी धर्म या धार्मिक व्यक्ति के अपमान की कड़ी निंदा करती है।

इन दिनों वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद मामले को लेकर देशभर में चर्चा छिड़ी हुई है। 27 मई को नुपुर एक नेशनल टेलीविजन न्यूज चैनल की डिबेट में पहुंचीं। बहस के दौरान उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ लोग हिंदू आस्था का लगातार मजाक उड़ा रहे हैं। अगर यही है तो वह भी दूसरे धर्मों का मजाक उड़ा सकती हैं। नुपुर ने इसके आगे इस्लामी मान्यताओं का जिक्र किया। आरोप है कि उन्होंने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ अभद्र टिप्प्णी की।

इस बयान को कथित फैक्ट चेकर मोहम्मद जुबैर ने अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर किया और नुपुर पर पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी करने का आरोप लगाया। इसके बाद से कई मुस्लिम संगठन उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। बरेली से लेकर कानपुर और देश के कई शहरों में लोग नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। मामला बढ़ता देख बीजेपी ने नुपुर शर्मा व नवीन जिंदल को पार्टी से बाहर कर दिया।

पार्टी महासचिव अरुण सिंह ने किसी भी घटना या व्यक्ति का जिक्र न करते हुए कहा, भारत के हजारों वर्षों के इतिहास में हर धर्म फला और फूला है। भारत का संविधान प्रत्येक नागरिक को अपनी पसंद के किसी भी धर्म का पालन करने और हर धर्म का सम्मान करने का अधिकार देता है। भारत की एकता और अखंडता के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities