बड़ी ख़बरें
जेम-टीटीपी के आतंकी को मिला था नूपुर को फिदायीन हमले से मारने का टॉस्क, सैफुल्ला ने इंटरनेट के जरिए वारदात को अंजाम देने की दी थी ट्रेनिंग, पढ़ें टेररिस्ट के कबूलनामें की ‘चार्जशीट’मध्य प्रदेश में नहीं रहेगा अनाथ शब्द, शिवराज सिंह ने तैयार किया खास प्लानजम्मू-कश्मीर की सरकार का आतंकियों के मददगारों पर बड़ा प्रहार, आतंकी बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार को नौकरी से किया बर्खास्त, पैसे की व्यवस्था के साथ वैज्ञानिक चलाते थे आतंक की ‘पाठशाला’होर्ल्डिंग्स से हटाया सीएम का चेहरा, तिरंगे की शान में सड़क पर उतरे योगी, यूपी में 4.5 करोड़ राष्ट्रीय ध्वज फहराने का लक्ष्यबांदा में नाव पलटने की घटना में 6 और शव मिले, अब तक 9 की मौतपहले फतवा जारी और अब लाइव प्रोग्राम में सलमान रुश्दी पर चाकू से किए कई वार14 साल के बाद माफिया के गढ़ में दाखिल हुआ डॉन, भय से खौफजदा मुख्तार और बीकेडी ‘पहलवान’पुलिस के पास होते हैं ‘आन मिलो सजना’ ‘पैट्रोल मार’ ‘गुल्ली-डंडा’ और ‘हेलिकॉप्टर मार’ हथियार, इनका नाम सुनते ही लॉकप में तोते की तरह बोलने लगते हैं चोर-लुटेरे और खूंखार बदमाशखेत के नीचे लाश और ऊपर लहलहा रही थी बाजरे की फसल, पुलिस ने बेटों की खोली कुंडली तो जमीन से बाहर निकला बुजर्ग का कंकाल, दिल दहला देगी हड़ौली गांव की ये खौफनाक वारदातबीजेपी के चाणक्य को देश की इस पॉवरफुल महिला नेता ने सियासी अखाड़े में दी मात, पीएम मोदी से नीतीश कुमार की दोस्ती तुड़वा बिहार में बनवा दी विपक्ष की सरकार

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे की सौगात देने के बाद बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, चुनौतियों को चुनौती देने के लिए बहुत बड़ी ताकत के खड़ा हो रहा यूपी

जालौन  । उत्तर प्रदेश चुनौतियों को चुनौती देने के लिए बहुत बड़ी ताकत के साथ खड़ा हो जाएगा। पहले मुद्दा था यूपी की खराब कानून व्यवस्था और दूसरी कनेक्टिविटी। आज उत्तर प्रदेश की पूरी तस्वीर बदल दी है। योगी जी के नेतृत्व वाली सरकार में कानून व्यवस्था भी सुधरी है और कनेक्टिविटी भी तेजी से सुधर रही है। यूपी में उससे ज्यादा काम आज हो रहा है। कम समय में बंदेलखंड के लोगों के लिए बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे देना ये छोटी बात नहीं बल्कि, इतिहासिक कदम है। योगी सरकार सूबे को विकास के पथ पर आगे लेकर जा रही है। ये बातें शनिवार को जालौन जनपद के कैथरी गांव में बने टोल प्लाजा में बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे की सौगात देने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कही।

यहां की गौरवशाली परंपरा को समर्पित
प्रधानमंत्री ने इस मौके पर कहा कि, यूपी के लोगों को बुंदेलखंड के बहनो भाइयों को आधुनिक बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लिए बहुत बहुत शुभकामनाएं। ये एक्सप्रेस बुंदेलखंड यहां की गौरवशाली परंपरा को समर्पित है। जिस धरती ने अनगिनत सूरवीर पैदा किए, जहां के बेटे बेटियों के पराक्रम और परिश्रम ने हमेशा देश का नाम रोशन किया है। उस धरती को एक्सप्रेस वे का ये उपहार देते हुए उत्तर प्रदेश के सांसद के नाते, यूपी के जनप्रतिनिधि के नाते मुझे विशेष खुशी मिल रही है।

चित्रकूट से दिल्ली की दूरी तीन से चार घंटे कम हुई
प्रधानमंत्री ने कहा, चित्रकूट से दिल्ली की दूरी तीन से चार घंटे कम हुई है, एक्सप्रेस वे का लाभ इससे कहीं ज्यादा है। ये एक्सप्रेस वे बुंदेलखंड के उद्योगों को भी गति मिलेगी। यहां से उपज को नए बाजारों में पहुंचाना आसान होगा। बुंदेलखंड में बन रहे डिफेंस कॉरीडोर से बहुत मदद मिलेगी। ये एक्सप्रेस वे विकास, स्वजरोगार और नए अवसरों से जोड़ने वाला है।

भारत माता की जय… से संबोधन की शुरुआत
प्रधानमंत्री ने भारत माता की जय… से संबोधन की शुरुआत की। कहा, बुंदेलखंड जहां वेद व्यास की जन्मस्थली और महारानी लक्ष्मीबाई जी की धरती पर बेर-बेर आइबे को अवसर मिलो। हमै बहुत ही प्रसन्नता। उन्होंने आगे कहा कि, ये एक्सप्रेस वे विकास को रफ्तार देगा। यह 36 महीने में बनना था, पर 28 माह में तैयार किया गया। बुंदेलखंड अब विकास की भूमि बन रहा है। पहले यहां पर गरीब को हक नहीं मिल पाता था, लेकिन अब हालात बदल गए हैं। बंदेलखंड के लोग भी अब अपना व्यापार करने के लिए एक्सप्रेस-वे से देश के अन्य शहरों में जा सकेंगे।

विकास की धुरी बनेगा एक्सप्रेस-वे
इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे बुंदेलखंड के विकास की धुरी बनने जा रही है। बुंदेलखंड के प्रेवश द्वार जालौन में कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। आज बुंदेलखंड के लिए एतिहासिक दिन है, क्योंकि 296 किमी बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे मिलने जा रहा है। इससे यहां का विकास तेज गति से होगा। कहा, प्रधानमंत्री की प्रेरणा से करमोदय से राष्ट्रोदय की परिकल्पना को साकार करने वाली ग्रामीण क्षेत्रों में स्वामित्व की योजना जालौन पहला जनपद है, जहां शत प्रतिशत लोगों को घरौनी उपलब्ध करा दिए गए हैं।

अर्जुन सहायक परियोजना समेत कई परियोजना शुरू
सीएम योगी ने कहा कि, अर्जुन सहायक परियोजना समेत कई परियोजना शुरू हुई हैं। दशकों से प्रतीक्षा कर रहे बुंदेलखंड में हर घर नल परियोजना को पूरा करने की ओर अग्रसर है। ये एक्सप्रेस वे बुंदेलखंड की कनेक्टिविटी को आसान करेगा और चित्रकूट से दिल्ली की दूरी मात्र छह-साढ़े छह घंटे की दूरी करेगा। योगी ने कहा यूपी सरकार, हर क्षेत्र का विकास कर रही है। जबकि इससे पहले कुछ इलाकों में विकास दिखता है। हमारी डबल इंजन की सरकार बिना भेदभाव के सूबे को विकास के पथ पर तेजी से आगे बढ़ा रही है।

बटन दबाकर किया शुभारंभ
बतादें, चित्रकूट से इटावा तक 14850 करोड़ रुपये की लागत से बने 296 किलोमीटर लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बटन दबाते ही जनता को समर्पित कर दिया। यह एक्सप्रेस-वे सात जिलों से होकर गुजरा है और लोकार्पण का कार्यक्रम जालौन जिले के कैथरी गांव में बने टोल प्लाजा पर किया जा रहा है। पंडाल में लोगों की भीड़ मौजूद है। पांच किमी के दायरे में एक्सप्रेस वे को भव्य तरीके से सजाया गया है। सुरक्षा की दृष्टि से चप्पे-चप्पे पुलिस व आरएएफ के जवानों की तैनाती की गई है।

लाखों की भीड़ पहुंची
प्रधानमंत्री के साथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत मंत्री व जनप्रतिनिधि मौजूद हैं। पंडाल में अलग-अलग क्षेत्र से आए लोगों के बैठने के लिए अलग ब्लाक निर्धारित किए गए हैं। यहां बने तीन पंडालों को 96 ब्लाक में बांटा गया है। शहरी व ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले लोगों के लिए 65 ब्लाक आरक्षित किए गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुनने के लिए देररात से लोगों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था जो दोपहर तक जारी रहा। करीब एक लाख के आसपास लोग पीएम को सुनने के लिए आए हैं।

850 दिनों में हुआ एक्सप्रेस-वे का निर्माण
बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे को अभी फोर लेन का बनाया गया है। भविष्य में इसको छह लेन का किए जाने का प्रस्ताव है। एक्सप्रेस-वे को फरवरी 2023 तक पूरा किया जाना था, लेकिन सरकार की लगातार योजना पर ध्यान दिए जाने से आठ माह पहले ही निर्माण कार्य को पूरा कराने में सफलता मिली। करीब 850 दिनों में हुए एक्सप्रेस-वे के निर्माण की योजना को देखेंगे तो लगभग हर रोज करीब 350 मीटर एक्सप्रेस-वे का निर्माण करने में सरकार सफल होती दिखी है। निर्माण योजना में तेजी का आलम यह रहा कि एक्सप्रेस-वे निर्माण कार्य पूरा कराए जाने में 1132 करोड़ रुपये की बचत हो गई।

 

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities