बड़ी ख़बरें
एक दुनिया का सबसे बड़ा ग्लोबल लीडर तो दूसरा देश का सबसे पॉपुलर पॉलिटिशियन, पर दोनों ‘आदिशक्ति’ के भक्त और 9 दिन बिना अन्न ‘दुर्गा’ की करते हैं उपासना, जानें पिछले 45 वर्षों की कठिन तपस्या के पीछे का रहस्यअब सिल्वर स्क्रीन पर दिखाई देगी निरहुआ के असल जिंदगी के अलावा उनकी रियल लव स्टोरी की ‘एबीसीडी’, शादी में गाने-बजाने वाला कैसे बना भोजपुरी फिल्मों का सुपरस्टार के साथ राजनीति का सबसे बड़ा खिलाड़ीटीचर की पिटाई से छात्र की मौत के चलते उग्र भीड़ ने पुलिस पर पथराव के साथ जीप और वाहनों में लगाई आग, अखिलेश के बाद रावण की आहट से चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनातकुंवारे युवक हो जाएं सावधान आपके शहर में गैंग के साथ एंट्री कर चुकी है लुटेरी दुल्हन, शादी के छह दिन के बाद दूल्हे के घर से लाखों के जेवरात-नकदी लेकर प्रियंका चौहान हुई फरारअपने ही बेटे के बच्चे की मां बनने जा रही ये महिला, दादी के बजाए पोती या पौत्र कहेगा अम्मा, हैरान कर देगी MOTHER  एंड SON की 2022 वाली  LOVE STORYY आस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाकेदार जीत के बाद भी कैप्टन रोहित शर्मा की टेंशन बरकरार, टी-20 वर्ल्ड कप से पहले हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार समेत ये क्रिकेटर टीम इंडिया से बाहरShardiya Navratri 2022 : अकबर और अंग्रेजों ने किया था मां ज्वालाजी की पवित्र ज्योतियां बुझाने का प्रयास, माता रानी के चमत्कार से मुगल शासक और ब्रिटिश कलेक्टर का चकनाचूर हो गया था घमंडबीजेपी नेता का बेटे वंश घर पर अदा करता था नमाज, जानिए कापी के हर पन्ने पर क्यों लिखता था अल्हा-हू-अकबर17 माह तक एक कमरे में पति की लाश के साथ रही पत्नी, बड़ी दिलचस्प है विमलेश और मिताली के मिलन की लव स्टोरी‘शर्मा जी’ ने महेंद्र सिंह धोनी के 15 साल पहले लिए गए एक फैसले का खोला राज, 22 गज की पिच पर चल गया माही का जादू और पाकिस्तान को हराकर भारत ने जीता पहला टी-20 वर्ल्ड कप

काफिले के बीच रुक गई सीएम योगी आदित्यनाथ की गाड़ी तो 28 कमांडो की फूल गई सांसे, रात के अंधेरे में सूनसान गलियों से सुरक्षाकर्मियों ने इस तरह ‘सरकार’ को निकाला बाहर

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऐसे राजनेता है जिनकी सुरक्षा को सबसे ज्यादा खतरे को लेकर लगातार इंटेलिजेंस एजेंसियों को इनपुट मिलते रहते हैं। यही वजह है की योगी आदित्यनाथ को देश में एसपीजी के बाद सबसे उत्कृष्ट अभेद्य सुरक्षा घेरा दिया गया है। योगी आदित्यनाथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का काफिला बिजनौर से गुजर रहा था। इसी दौरान इनावा कार का इंजन अपने आप बंद हो गया। रात करीब 9 बजे सूनसान गलियों में सीएम की कार रूकते ही कमांडो और सुरक्षाकर्मी ने चारों तरफ से गाड़ी को घेर लिया। इसके बाद काफिले में मौजूद दूसरी इनामवा कार में सीएम योगी आदित्यनाथ को बैठकर सुरक्षित निकाल कर सुरक्षाकर्मी लेकर चले गए।

कार बंद होने के चलते हरकत में आए कमांडो
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर पश्चिमी यूपी में हैं। शनिवार को वह बिजनौर जनपद में थे। आलाधिकारियों के साथ बैठक के बाद बीजेपी के पदाधिकारियों से मुलाकात की। जनपद को कई योजनाओं की सौगात दी। रात करीब 9 बजे मुख्यमंत्री का काफिला बिजनौर की सूनसान गलियों से होकर गुजर रहा था। इसी दौरान जिस कार पर मुख्यमंत्री सवार थे, वह अचानक बंद हो गई। चालक ने कार को स्टार्ट करने का कईबार प्रयास किया, लेकिन उसे सफलता नहीं मिली। कार के बंद होते ही कमांडो ने सीएम को चारों तरफ से घेर लिया। तत्काल दूसरी कार की व्यवस्था कराई गई और उन्हें सुरक्षित वहां से बाहर निकाला गया।

दौरे से पहले सीएम को मिली थी धमकी
इस दौरे से ठीक पहले मुरादाबाद के एक शख्स ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमले की धमकी दी थी। हालांकि हमलावर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। सीएम योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा पहले से और ज्यादा चाक-चौबंद की गई थी। लेकिन इस दौरे के बीच एक ऐसी घटना घटी जिसन सुरक्षा एजेंसियों के होश फाख्ता कर दिए। गलीमत ये रही कि, रात के चलते सड़क पर लोग कम थे। वहीं काफिले में सीएम के लिए एक और कार काफिले के साथ चल रही थी। वहीं सुरक्षा चुक को लेकर आलाधिकारियों की तरफ से कोई बयान नहीं आया है।

सीएम की सुरक्षा एक ऐसी अभेद किला
सीएम की सुरक्षा एक ऐसी अभेद किला है जिसके आस-पास भी अगर दुश्मन ने अपनी आखें टेढ़ी तो समझो अपनी मौत को दावत दे दिया। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की सुरक्षा ऐसा कवच है जिसका मुकाबला करना अच्छे-अच्छों की बस की बात नहीं है। एक-दो नहीं बल्कि पूरे 28 कमांडो के पास सीएम योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा का जिम्मा है। सीएम योगी आदित्यनाथ को केंद्रीय गृह मंत्रालय से जेड प्लस सुरक्षा मिला है। सीएम योगी की सुरक्षा में एनएसजी के 25 से 28 स्पेशल कमांडो हर वक्त तैनात होते हैं। इसके अलावा उनकी सुरक्षा में उत्तर प्रदेश पुलिस के जवानों के साथ पीएसी के जवान भी रहते हैं।देश के एसपीजी के बाद दूसरी सबसे खास सुरक्षा जेड प्लस है।

कैसी होती है जेड प्लस सुरक्षा
जेड प्लस देश की दूसरी सबसे बड़ी सुरक्षा है। इसमें 28 सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं। इनमें 10 एनएसजी और एसपीजी के साथ कुछ पुलिसकर्मी भी शामिल होते हैं। इनमें आईटीबीपी और सीआरपीएफ के जवान भी सुरक्षा में तैनात होते हैं। इस सुरक्षा में पहले घेरे की जिम्मेदारी एनएसजी की होती है जबकि दूसरे घेरे में एसपीजी कमांडो तैनात होते हैं। जेड प्लस सुरक्षा में एस्कॉर्टवस और पायलट वाहन भी दिए जाते हैं।इतनी अवैध सुरक्षा घेरे में चलते हैं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यही वजह है दुश्मनों की आंखों में खटक ने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को छूना तो दो उन तक पहुंचने की भी कोई हिमाकत नहीं कर सकता।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities