ब्रेकिंग
खनन माफिया हाजी इकबाल और उसके बहनोई दिलशाद पर योगी सरकार ने कसा शिकंजा, बुलडोजर और संपत्ति पर एक्शन के बाद पुलिस ने किया अब तक का सबसे बड़ा ‘प्रहार’5 लाख की सुपारी लेकर इन खूंखार शूटर्स ने मध्य प्रदेश की पूजा मीणा का किया मर्डर, पति ने हत्या की पूरी फिल्मी कहानी बयां की तो ये चार लोग गदगदडेढ़ करोड़ के जेवरात मैंने नहीं किए पार प्लीज छोड़ दे ‘साहब’ पर नहीं माना थानेदार और थाने में मजदूर की दर्दनाक मौतAzadi ka Amrit Mahotsav : मरी नहीं जिंदा है दूसरा ’जलियां वाला बाग’ की गवाह ‘इमली’ जिस पर एक साथ 52 क्रांतिकारियों को दी गई थी फांसीSawan Special Story 2022 : यूपी के इस शहर में भू-गर्भ से प्रकट हुए नीलकंठ महादेव, महमूद गजनवी ने शिवलिंग पर खुदवा दिया ‘लाइलाह इलाल्लाह मोहम्मद उर रसूलल्लाह‘बीजेपी नेता बीएल वर्मा के जन्मदिन पर पीएम मोदी ने खास अंदाज में दी बधाईजनिए किस मामले में मंत्री राकेश सचान पर कोर्ट ने फैसला किया सुरक्षित, सपा ने ट्वीटर पर क्यों लिखा ‘गिट्टी चोर’देश के अगले उपराष्ट्रपति होंगे जगदीप धनखड़, वकालत से लेकर सियासत तक जाट नेता का ऐसा रहा सफरबीच सड़क पर आपस में भिड़े पुलिसवाले और एक-दूसरे को जड़े थप्पड़ ‘खाकीधारियों के दगंल’ की पिक्चर हुई रिलीज तो मच गया हड़कंपनदी के बीच नाव पर पका रहे थे भोजन तभी फटा गैस सिलेंडर, बालू के अवैध खनन में लगे पांच मजदूरों की जलकर दर्दनक मौत

योगी आदित्यनाथ ने कोटेदारों को बताया सौभाग्यशाली और दिया अब तक का सबसे बड़ा तोहफा, अब 80 हजार कोटे की दुकानों पर जनता को मिलेगी ये सुविधाएं

गोरखपुर। कोटेदार इसलिए भी सौभाग्यशाली हैं क्योंकि अन्न को ब्रह्म माना गया है और अन्न दान सबसे बड़ा दान माना गया है। प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से सभी कोटेदार इस दान के हकदार बन जाते हैं। पैसा व सुविधा सरकार दे रही है लेकिन आपके माध्यम से राशन गरीबों तक पहुंचाया जा रहा है। ये बातें गुरुवार को योगिराज बाबा गंभीरनाथ प्रेक्षागृह में आयोजित प्रदेश की कोटे की दुकानों को जन सुविधा केंद्र (सीएससी) के रूप में विकसित करने के लिए मेमोरेंडम आफ अंडर स्टैंडिंग (एमओयू) पर हस्ताक्षर एवं लाभांश में वृद्धि की घोषणा के लिए आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित कोटेदारों को संबोधित करने के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहीं।

कोटेदारों के जीवन में व्यापक परिवर्तन आएगा
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, आज से कोटेदारों का लाभांश 90 रुपया प्रति क्विंटल कर दिया गया। कोटे की दुकान सीएससी के रूप में विकसित होने के बाद जाति, आय प्रमाण पत्र सहित कई तरह की सुविधाएं मिल सकेंगी। बैंकिंग से जुड़े कार्य भी वहीं हो सकेंगे। इसके लिए तकनीकी की जानकारी के लिए थोड़े से प्रशिक्षण की जरूरत होगी। इससे आपकी आय भी बढ़ेगी। योगी अदित्यनाथ ने सावन के शुभारंभ की सभी को बधाई देते हुए कहा कि आज जो एमओयू हुआ है, उससे प्रदेश के 80 हजार कोटेदारों के जीवन में व्यापक परिवर्तन आएगा। देश की सबसे बड़ी आबादी वाले इस प्रदेश के 15 करोड़ लोग कोटेदारों के माध्यम से निश्शुल्क या सस्ता राशन प्राप्त कर रहे हैं। इतना बड़ा कार्य करने के बावजूद कोटेदारों को हेय दृष्टि से देखा जाता था। पर अब ऐसा नहीं हो रहा।

कोटेदार पुण्य के भागीदार बन सकते हैं
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सभी कोटेदार प्रदेश के हर उस जरूरतमंद तक खाद्यान्न जरूर पहुंचाएं जो इसका हकदार है। उन्होंने आगे कहा कि, जरूरतमंदों तक खाद्यान्न पहुंचाकर कोटेदार पुण्य के भागीदार बन सकते हैं और जीवन में अनुपम सुख की अनुभूति कर सकते हैं। सरकार के पैसे एवं सरकार की योजना को धरातल पर क्रियान्वित करने की जिम्मा कोटेदारों पर है। मुख्यमंत्री ने कहा कि, कोरोना काल में निश्शुल्क राशन देकर कोटेदारों ने बहुत सराहनीय कार्य किया है। दूसरी लहर के वक्त कोटेदार भी महामारी की चपेट में आए थे। कुछ की मौत भी हुई, लेकिन वह निडर होकर गरीबों के घर अन्न पहुंचाते रहे। कोटेदारों की समस्याओं को लेकर सरकार गंभीर है। इसी के चलते अब उन्हें 70 के बजाए 90 रूपए कमीशन दिया जाएगा।

लेकिन इसे करके दिखाया गया
योगी ने कहा कि, अब कोटेदारों के बारे में लोगों की सोच में परिवर्तन लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से पूरे देश में तकनीकी का अधिक से अधिक उपयोग करने का अभियान शुरू किया गया। 2017 से पहले उत्तर प्रदेश के लिए यह एक सपना था। हमारे पास 80 हजार कोटे की दुकान थी लेकिन कभी कोई यह नहीं सोच पाता था कि एक नियत समय में सभी जगह ई पास मशीनें लगाई जाएंगी। लेकिन इसे करके दिखाया गया। शुरू में कुछ कोटेदारों ने इसका विरोध भी किया था लेकिन जैसे-जैसे कार्यक्रम आगे बढ़ा, उसका असर भी दिखा। यह व्यवस्था शुरू करने के तीन साल बाद ही कोरोना महामारी ने पूरे विश्व को जकड़ लिया था। उस समय इसी सुविधा के कारण प्रदेश में 15 करोड़ लोगों तक निश्शुल्क राशन आसानी से दिया गया। कोटेदारों ने जिस तरह से अच्छी व्यवस्था में वितरण किया, उसकी चारों ओर प्रशंसा की गई।

कोटेदारों की भूमिका को सराहा
मुख्यमंत्री ने कहा कि ईमानदारी से काम करके आय बढ़ाने का जो सुख है वह अनुपम सुख होता है। बेईमानी से कमाए धन से व्यक्ति सुखी नहीं होता बल्कि सशंकित रहता है कि कब कौन छापा मार दे। प्रधानमंत्री ने देश में राशन कार्ड को लेकर नेशनल पोर्टबिलिटी की सुविधा दी। इसका असर हुआ कि अपने प्रदेश के जो लोग दूसरी जगहों पर रह रहे हैं वे भी राशन कार्ड से राशन ले रहे हैं और बाहर के जो लोग इस प्रदेश में रह रहे हैं, उन्हहें भी सुविधा मिल रही है। मुख्यमंत्री ने कारोना महामारी में सरकार द्वारा किए गए प्रयासों के बारे में जानकारी देते हुए कोटेदारों की भूमिका की भी सराहना की।

ये सेवाएं रहेंगी उपलब्ध
आयुष्मान भारत योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, पीएम उज्जवला कनेक्शन, प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना, पीएम मर्चेंट पेंशन स्कीम फार ट्रेडर्स, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, प्रधानमंत्री किसान क्रेडिट कार्ड योजना, प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि, भारत निर्वाचन आयोग की सेवाएं, पासपोर्ट एवं पैन आवेदन, स्वच्छ भारत अभियान, जीवन प्रमाण, डिजि पे, डिजिटल लिटरेसी, टेली लीगल कंसलटेंशन सेवा, टेली सेंटर एंटरप्रेन्योरशिप, ई कोर्ट सेवाएं आमलोगों को कोटे की दुकानों से मिलेंगी।

भारत सरकार की 100 योजनाएं
इनके अलावा स्कीम व पाठ्यक्रम, जाब पोर्टल्स, ई डिस्ट्रिक्ट सर्विसेज, ई स्टैंप, ई वाहन सारथी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज, बैंक मित्र, एसबीआई, आरआरबीएस, एचडीएफसी, आईसीआइसीआई, एक्सिस की बैंकिंग सेवाएं, इंश्योरेंस सेवाएं, फास्टटैग सेवा, डीजीनेम, सिबिल रिक्वेस्ट, टूर एवं ट्रेवल्स की सेवाएं, यूटिलिटी बिल पेमेंट, स्त्री स्वाभिमान, उत्पाद वितरण, कृषि सुविधाएं, मोबाइल, डीटीएच रिचार्ज, आइटी रिटर्न, एलईडी माइक्रो मैन्युफैक्चरिंग यूनिट, सीएससी ई ग्रामीण स्टोर सहित भारत सरकार की 100 योजनाएं हैं।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities