ब्रेकिंग
नवाबगंज पुलिस ने नहीं सुनी शिकायत तो पिता ने बेटे की खुद शुरू की पड़ताल, सीसीटीवी फुटेज देकर थाना प्रभारी से ‘घर के चिराग’ को बचाने की लगाई फरियाद, पर लाश मिली ‘सरकार’गोकश और पुलिस के बीच फायरिंग की तड़तड़ाहट से थर्राया घाटमपुर, गोली लगने से इंस्पेक्टर समेत दो घायल’अग्निपरीक्षा’ में पास हुए एकनाथ शिंदे, महाराष्ट्र की नवनियुक्त सरकार ने जीता विश्वास मत, जानें कांग्रेस-एनसीपी के आठ विधायक वोटिंग से क्यों रहे दूरदोस्ती पर भारी पड़ गया ‘नफरत’ वाला खंजर’, गला काटने के बाद अंतिम संस्कार में शामिल हुआ ‘जल्लाद’…हैलो मैं अल कायदा का सदस्य बोल रहा हूं, ‘महामंडलेश्वर आपके साथ गृहमंत्री अमित शाह और सीएम योगी को बम से उड़ा दूंगा’राजीव नगर में अतिक्रमण हटाने पहुंचे नगर निगम के दस्ते पर हमला, एसपी समेत कई पुलिसकर्मी घायल, 17 जेसीबी के साथ दो हजार जवानों ने 70 घरों को ढहायाSpecial story on anniversary of bikru case – ऐसा था विकास दुबे कानपुर वाला, 2 जूलाई को बहाया ‘खाकी के खून का दरिया’उदयपुर केस में सामने आई सनसनीखेज साजिश, दरिंदों ने 2013 में खरीदी ‘2611’ वाली तारीखISIS स्टाइल में उदयपुर के बाद अमरावती में हत्या, दरिंदों ने चाकू से दवा कारोबारी का गला काटाउदयपुर के कन्हैया हत्याकांड में शामिल थे 5 आतंकी, अपने साथियों को बचाने के लिए दुकान के पास खड़े थे दो आतंकी

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में नया मोड़, गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने खोले ऐसे राज कि पुलिस हो गई हैरान

पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला हत्या मामले में देश का खुफिया विभाग(आईबी) भी अलर्ट हो गया है। आईबी ने रोहिणी स्थित स्पेशल सेल के कार्यालय में गुरुवार को गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई से कई घंटे संयुक्त रूप से पूछताछ की। पुलिस का कहना है कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या में जिन आधुनिक हथियारों का इस्तेमाल किया गया है वैसे हथियार तो आतंकी भी नहीं रखते हैं। हथियारों के इस्तेमाल को देखते हुए देश के खुफिया विभाग को जांच में लगाया गया है। पहली बार ऐसा देखने में आया है कि गैंगस्टर मामले में आईबी पूछताछ कर रही है। लॉरेंस बिश्नोई के गिरोह में करीब 700 शूटरों और सदस्य हैं।

बताया जा रहा है कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या के लिए रशिया में बने हथियारों का इस्तेमाल किया गया है। ऐसे हथियार आतंकियों के पास भी नहीं होते हैं। इसे देखते हुए गृहमंत्रालय के आदेश पर देश के खुफिया विभाग को जांच में लगाया गया है। दूसरी तरफ लॉरेंस बिश्नोई ने पूछताछ में बताया कि उसने गोल्डी बरार को करीब तीन महीने पहले सिद्धू मूसेवाला की हत्या करने के लिए निर्देश दिए थे। उसने तिहाड़ जेल से मोबाइल से गोल्डी बरार से बात की थी। क्योंकि लॉरेंस बिश्नोई तिहाड़ में किसी से मिलता नहीं है। ऐसे में उसने फोन के जरिए ही निर्देश दिए होंगे। हालांकि बताया जा रहा है कि करीब एक महीने से वह तिहाड़ में मोबाइल का इस्तेमाल नहीं कर रहा था।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities