ब्रेकिंग
Panchang: आज का पंचांग 25 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 24 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 23 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयकानपुर हिंसा का पाकिस्तान कनेक्शन आया सामने, सर्विलांस पर लगे मोबाइलों से हुआ बड़ा खुलासाबाँदा में प्राधिकरण और निबंधन की मिलीभगत से प्लाटिंग के नाम पर हो रही है खुली डकैती ,आप भी हो जाइए सावधान!Panchang: आज का पंचांग 22 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयशिवसेना में लगातार बढ़ रही है बागी विधायकों की संख्या, अब तक 42 MLA ने ठाकरे के खिलाफ मोर्चा खोलाऑटो रिक्शा चलाने और रिवॉल्वर-पिस्टल रखने वाले इस नेता ने ठाकरे को दी चुनौती, महाराष्ट्र की महा विकास आघाडी सरकार गिरने की शुरू हुई उल्टी गिनतीएक ‘महिला मस्साब’ कैसे चुनीं गईं एनडीए के राष्ट्रपति की उम्मीदवार, पीएम नरेंद्र मोदी ने इन बड़े नामों के बजाए द्रौपदी पर क्यों लगाया दांवअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सीएम योगी का दिखा अनोखा अंदाज, तस्वीरों में देखें कैसे दिया स्वस्थ जीवन का संदेश

Hamirpu: यूक्रेन में फंसी छात्रा, परिजनों ने लगाई पीएम मोदी से गुहार, बोले- बेटी को सुरक्षित पहुंचाए घर

काजल कश्यप, हमीरपुर

रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे तनाव के बीच कई भारतीय बच्चे वहां फंसे हुए हैं। इसी कड़ी में यूपी के हमीरपुर जिले की एक छात्रा भी यूक्रेन में फंसी हुई है। दरअसल, हमीरपुर जिले के सुमेरपुर थाना कस्बा निवासी प्रतीक्षा शिवहरे यूक्रेन में एमबीबीएम की पढ़ाई के लिए गयी थी। प्रतीक्षा ने कीव यूनिवर्सिटी ने एडमिशन लिया था लेकिन पढ़ाई पूरी होने से पहले ही यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध शुरू हो गया। इस तबाही के चलते प्रतीक्षा शिवहरे के परिजन अपनी बेटी की सुरक्षा के लिए चिंतित है जिसके चलते उन्होंने पीएम मोदी से अपनी बेटी को सुरक्षित घर पहुंचाने की गुहार लगई है।

छात्रा यूक्रेन में एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए पिछले तीन साल से रह रही थी लेकिन अचानक से ही ऐसे हालात आ गये जिसके कारण वह फंस गई है। छात्रा प्रतीक्षा शिवहरे ने अपने पिता मुकेश शिवहरे को वीडियो कॉल करके बताया है कि वो पिछले तीन दिनों से बंकर में अपने 200 से अधिक साथियो के साथ है जिसमें कई छात्र और छात्राएं भारतीय हैं। गौरतलब है कि यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे युद्ध के बीच 18 हजार से ज्यादा भारतीय छात्र और छात्राएं युक्रेन में फंसे है जिनको भारत सरकार हर हाल में सुरक्षित वापस देश लाने की हर सम्भव कोशिश में लगी है। यूक्रेन में फंसे छात्र-छात्राओं ने बंकर में रहने की जानकारी भारतीय दूतावास में दे दी है लेकिन चारों तरफ़ से रूस द्वारा किये जा रहे हमलों की वजह से वो कहीं निकल नहीं पा रहे हैं हालांकि यूक्रेन की सरकार उनका पूरा ख्याल रख रही है लेकिन हर तरफ विस्फोट की गूंज उन्होंने सोने नहीं दे रही है।

यूक्रेन में फंसी छात्रा के अनुसार, रूस के आक्रमण के बाद यूक्रेन के हालात बहुत नाजुक हो चुके है। सारे रिहायसी इलाकों को रूसी बम और मिसाइलों ने तबाह और बर्बाद कर दिया है। कई जिलों में यूक्रेन और रूस की सेना की बीच भीषण युद्ध जारी है। कई सैनिकों और आम नागरिकों की मौत हो गयी है। ऐसे में यूक्रेन की जनता वहां स्थित बंकरो में रह रहे हैं और कई भारतीय छात्र और छात्राएं भी इसी तरह के बंकरो में अपनी जिंदगी बचाने की जंग लड़ रहे है।

 

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities