ब्रेकिंग
अयोध्या का किन्नर समाज गरीबों की सहायता करने में तत्परAuraiya: बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, अधेड़ हुआ घायलAuraiya: सवारियों से भरी बस खाई में गिरी, 20 यात्री हुए घायलAgra: बेटों ने नहीं दिया सम्मान तो पिता ने संपत्ति की डीएम के नामHamipur: हाईवे पर हुई दो दुर्घटनाएं, तीन लोग हुए घायलHamirpur: ट्रक ने बाइक सवार पिता-पुत्र को रौंदा, मौके पर हुई मौतHamirpur: विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरु, जनपद को नौ जोन और 42 सेक्टर में बांटा गयामहोबा दौरे पर प्रियंका गांधी, प्रतिज्ञा रैली को करेंगी सम्बोधितHamirpur: शहर के बीच जेल तालाब में आग लगने से हड़कंप, बड़ा हादसा टलाJaunpur: पुलिस चौकी में घुसा ट्रक, हादसे में 1 की मौत, एक पुलिसकर्मी घायल

Ayodhya: श्रद्धालुओं की बढ़ती भीड़ को देखते हुए बढ़ाई जाएगी रामलला के दर्शन की अवधि

अनिल निषाद, अयोध्या

राम जन्मभूमि में रामलला के दर्शन की अवधि बढ़ाई जाएगी। डीजीपी मुकुल गोयल ने अयोध्या का दौरा किया। अयोध्या में मुकुल गोयल के साथ एडीजी सुरक्षा बी के सिंह और एडीजी जोन एसएन साबत ने राम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा का जायजा लिया। प्रदेश के पुलिस मुखिया के साथ आईबी के प्रमुख ने राम जन्मभूमि परिसर में स्थाई समिति की बैठक में अधिकारियों के साथ रामलला के मंदिर की सुरक्षा के साथ अयोध्या की सुरक्षा पर अहम चर्चा की। पुलिस अधिकारियों ने राम मंदिर में श्रद्धालुओं की बढ़ती भीड़ को देखते हुए राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारियों के साथ बैठक करके रामलला के दर्शन अवधि को बढ़ाए जाने की चर्चा की है। माना जा रहा है कि जल्द ही रामलला के दर्शन अवधि बढ़ेगी। इस समय रामलला का दर्शन दो पाली में हो रहा है। प्रथम पाली सुबह 7 बजे से 11 बजे तक और दूसरी पाली में दोपहर 2 बजे से 6 बजे तक दर्शन होता है। इस दौरान 10 हजार से ज्यादा श्रद्धालु रामलला का दर्शन करते है। लेकिन अभी श्रद्धालुओं की संख्या लगातार बढ़ रही है। ऐसे में डीजीपी मुकुल गोयल की अध्यक्षता में ट्रस्ट के साथ हुई बैठक में दर्शन लाइन की संख्या बढ़ाए जाने को लेकर भी चर्चा की गई। जिससे श्रद्धालुओं को सुगमता के साथ दर्शन प्राप्त हो सके। एडीजी जोन एसएन साबत ने बताया कि स्थाई समिति की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। इस बैठक में राम जन्मभूमि चेक ट्रस्ट के पदाधिकारी भी शामिल हुए हैं। मुख्य रूप से रामलला के दर्शन अवधि बढ़ाए जाने को लेकर, दर्शन मार्ग की संख्या बढ़ाए जाने को लेकर और रामलला के साथ-साथ राम मंदिर निर्माण की सुरक्षा लेकर चर्चा हुई है। यही नहीं अयोध्या में वीवीआईपी मूवमेंट पर बने हैं, ऐसे में सुरक्षा और प्रोटोकॉल दोनों को सामान्य बनाने के लिए एक नए एडिशनल एसपी का पद सृजित किया जा सकता है। इस पर भी चर्चा हुई है। वहीं श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ने पर मार्ग और गैंग्वे बनाने की योजना बनाई जाएगी।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities