ब्रेकिंग
Kanpur: डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने परियोजनाओं का किया लोकार्पण, सरकार की गिनाई उपलब्धियांBadaun: एनएचएम संविदा कर्मचारियों की हड़ताल, मांगों को लेकर प्रदर्शनBadaun: पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, तीन शातिर लुटेरे गिरफ्तारSiddharthnagar: आनंदी बेन पटेल ने आंगनवाडी केंद्र का किया निरीक्षण, अधिकारियों को दिए आवश्यक निर्देशकानपुर पहुंचे डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, विपक्षियों पर कसा तंजहमीरपुर पहुचीं उमा भारती, स्वामी ब्रह्मानंद जी के जन्मोत्सव में हुईं शामिलAgra: दारू के लिए पैसे ना देने पर दोस्तों ने की दोस्त की पिटाईआगरा पुलिस ने संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों का किया निरीक्षणAgra: रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम के गड्ढे बने मुसीबत, हादसे को दावत दे रहे हैं दावतदिशा पाटनी ग्लैमरस तस्वीरों में दिखी बोल्ड, सोशल मीडिया पर छाया हॉट लुक

ओवैसी के अयोध्या दौरे पर जगद्गुरु महंत परमहंस दास और इकबाल अंसारी ने जताई आपत्ति

2022 विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी समीकरण को मजबूत करने के लिए 7 सितंबर को AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी अयोध्या में सियासी सम्मेलन करेंगे. जिसको लेकर ओवैसी के अयोध्या में प्रवेश पर रोक लगाए जाने की मांग तपस्वी छावनी के जगद्गुरु परमहंस आचार्य और बाबरी मस्जिद विवाद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने की है। तपस्वी छावनी के जगद्गुरु परमहंस आचार्य ने शासन और प्रशासन से अयोध्या जनपद में प्रवेश पर रोक लगाए जाने की मांग की है। तपस्वी छावनी के जगद्गुरु परमहंस दास के मुताबिक ओवैसी ने कहा है कि बाबरी मस्जिद तोड़ी ना जाती तो आज सुप्रीम कोर्ट का फैसला दूसरा होता।

उन्होंने बताया कि ओवैसी के द्वारा दिए गए इस तरह के बयान अयोध्या में हिंदू और मुस्लिम के बीच धार्मिक नफरत फैलाने का कार्य कर रहे हैं. इसलिए अयोध्या में उनके प्रवेश पर रोक लगाई जानी चाहिए। तो वहीं बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने आपत्ति जताते हुए कहा कि असदुद्दीन ओवैसी हैदराबाद की ही राजनीति करें। उन्होंने कहा कि चुनावी जनसभा रैलियां शुभारंभ सभी पार्टियां अयोध्या से कर रही हैं ये अच्छी बात है. इक़बाल ने कहा कि अयोध्या का दौरा ओवैसी भी करने वाले हैं इसको लेकर उन्होंने मुसलमानों से अपील की कि ओवैसी से दूर रहें। उत्तर प्रदेश की राजनीति में ओवैसी की जरूरत नहीं है। अयोध्या में धर्म जाति की राजनीति बिल्कुल पसंद नहीं है। लोगों को आगाह करते हुए कहा कि आज मानवता से बड़ी कोई चीज नहीं है और हिंदू मुसलमान की राजनीति करने वालों से दूर रहें खासतौर से ओवैसी से होशियार रहें।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities