ब्रेकिंग
Panchang: आज का पंचांग 25 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 24 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 23 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयकानपुर हिंसा का पाकिस्तान कनेक्शन आया सामने, सर्विलांस पर लगे मोबाइलों से हुआ बड़ा खुलासाबाँदा में प्राधिकरण और निबंधन की मिलीभगत से प्लाटिंग के नाम पर हो रही है खुली डकैती ,आप भी हो जाइए सावधान!Panchang: आज का पंचांग 22 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयशिवसेना में लगातार बढ़ रही है बागी विधायकों की संख्या, अब तक 42 MLA ने ठाकरे के खिलाफ मोर्चा खोलाऑटो रिक्शा चलाने और रिवॉल्वर-पिस्टल रखने वाले इस नेता ने ठाकरे को दी चुनौती, महाराष्ट्र की महा विकास आघाडी सरकार गिरने की शुरू हुई उल्टी गिनतीएक ‘महिला मस्साब’ कैसे चुनीं गईं एनडीए के राष्ट्रपति की उम्मीदवार, पीएम नरेंद्र मोदी ने इन बड़े नामों के बजाए द्रौपदी पर क्यों लगाया दांवअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सीएम योगी का दिखा अनोखा अंदाज, तस्वीरों में देखें कैसे दिया स्वस्थ जीवन का संदेश

आसमान में उड़ रहे द्रोन-जमीन पर तैनात 5 हजार सुरक्षाबल के जवान, मस्जिद और सड़क पर शातिपूर्ण ढंग से पढ़ी गई जुमा की नमाज

कानपुर। बीते 3 जून को कानपुर में भड़की हिंसा के बाद शुक्रवार को जुमा की नमाज को लेकर पुलिस-प्रशासन ने पुख्ता सुरक्षा-व्यवस्था की हुई थी। आसमान से द्रोन के जरिए नजर रखी जा रही थी तो वहीं सड़क पर 5 हजार से ज्यादा सुरक्षाबल के जवान तैनात थे। उपद्रव के बाद लोगों को मस्जिदों के अंदर ही जुमे की नमाज अता करने को कहा गया था। इसके बाद भी खपरामोहाल और टुकनियापुरवा में सड़क पर नमाज अदा की गई। वहीं अन्य थाना क्षेत्रों में शुक्रवार को दोपहर 1ः30 बजे तक कई मस्जिदों में नमाज शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुई।

अधिकारी लगातार पैदल गश्त कर रहे थे
जूमे की नमाज को लेकर गुरूवार को दिनभर पुलिस के आलाधिकारी बैठक कर रणनीति बनाते रहे। शुक्रवार को सभी मस्जिदों के बाहर और संवेदनशील क्षेत्रों में पुलिस और पीएसी के साथ अर्द्ध सैनिक बल के जवान तैनात कर दिए गए थे। अधिकारी लगातार पैदल गश्त कर रहे थे। हिंसा प्रभावित क्षेत्र के चारों तरफ तीन किमी के दायरे में पांच हजार से ज्यादा पुलिस फोर्स तैनात थी। शहर के सभी नमाज स्थलों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हैं। पुलिस कमिश्नर के अलावा धर्म गुरूओं ने लोगों से भाईचारा बनाए रखने की अपील की हुई थी। जिसका असर दिखा भी। लोग मस्जिद से नमाज आता कर अपने-अपने घरों की तरफ चले गए।

यहां अता की गई नमाज
भारी पुलिस बल की मौजूदगी में यतीमखाना की नानपारा मस्जिद, तलाक महल की मोहम्मदी मस्जिद, नई सड़क की बक्सू प्यादा मस्जिद, लकड़मंडी की दिलदार खां, सलार बक्श मस्जिद, गम्मू खां हाता में बुखारी मस्जिद, जाजमऊ के अर्शफाबाद मस्जिद, दादा मियां मजार, कर्नलगंज के दिलदार खान, बड़ी ईदगाह बाबूपुरवा, मछरिया की जामा मस्जिद, उस्मानपुर स्थित मस्जिद, आउटर के बिल्हौर स्थित साही मस्जिद, मदारी मस्जिद , महाराजपुर के सरसौल स्थित मस्जिद में अंदर शांतिरपूर्ण ढंग से नमाज अता हुई। नमाजी समय पर आए और नमाज बिना किसी भय-डर के अता की।

बेकनगंज में 800 पीएसी के जवान तैनात
बेकनगंज के तीन किमी के दायरे में 9 कंपनी पीएसी में 800 जवान, 3 कंपनी आरएएफ में 375 जवान, 7 कंपनी क्विक रिस्पॉन्स टीम में 75 जवान और पुलिस के 3 हजार जवान सुबह से ही फ्लैग मार्च कर रहे थे। सड़क के अलावा सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए 100 से ज्यादा लोगों की टीम लगाई गई है। कोई भी अफवाह फैलाने या आपत्तिजनक पोस्ट डालने पर कार्रवाई होगी।

धारा-144 और दंगा नियंत्रण स्कीम लागू
कानपुर में जुमे की नमाज से पहले धारा-144 लागू कर दी गई। कानपुर पुलिस कमिश्नर ने दंगा नियंत्रण स्कीम भी लागू कर दी है। इससे पुलिस फोर्स 24 घंटे अलर्ट मोड पर रहेगी। शहर को 5 जोन में बांटा गया है। कानपुर पुलिस कमिश्नरेट ने 125 संवेदनशील प्वाइंट्स चिह्नित किए हैं। 150 गलियों पर पैनी नजर रहेगी। पुलिस कमिश्नर,ज्वाइंट सीपी लॉ एंड आर्डर, ज्वाइंट सीपी मुख्यालय अलग-अलग क्षेत्रों में लगातार हालात का जायजा ले रहे हैं।

अराजकता की तो सीधे जेल
कानपुर पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा ने कहा कि यदि कोई अराजक व्यक्ति खुराफात करने की कोशिश करता है, तो उसको उसी की भाषा में जवाब देना है। किसी भी खुराफाती को बख्शा नहीं जाएगा, चाहे वह कोई भी हो। उसको तत्काल गिरफ्तार करके जेल भेजा जाएगा। पुलिस कमिश्नर ने कहा है कि, पुलिस मित्र की तरह आपके साथ खड़ी है। किसी को बेवजह पुलिस परेशान नहीं करेगी।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities