बड़ी ख़बरें
Yogi Adityanath के एक फैसले ने विपक्ष की उम्मीदों को किया ध्वस्त,अब मोदी की हैट्रिक कोई नही रोक सकता !देव भूमि पर फिर मंडराया तबाही का साया ! तुर्की से भी बड़ी आएगी उत्तराखंड में तबाही देवभूमि में मिलने लगी भूकंप की आहट ! देवभूमि में बज गई खतरे की घंटी आने वाली है महा तबाही ..अपनी सुनहरी आवाज से Bollywood को हैरान करने वाले Amarjeet Jaykar को मुंबई से आया बुलावा ,रानू मंडल की ही तरह है अमरजीत जयकर की कहानी ,सोशल मीडिया में रातो रात छा गया था मजदूरी करने वाला एक अमरजीत !जडेजा के “कलाई जादू” से पस्त हो गए मेहमान फिरकी के फेर में फंसे कंगारू नागिन डांस करने को मजबूर! भारत तीनों फॉर्मेट में बना नंबर वन!GlobalInvestorSummit:एमएसएमई कैबिनेट मंत्री राकेश सचान डकार कर बैठे 72 प्लाटों का आवंटनGeneralElection2024:BJP इंटरनल सर्वे ने उड़ाई सांसदों की नीद 100 से ज्यादा सांसदों का होगा पत्ता साफ!GeneralElection2024:अखिलेश ने किया भाजपा को आम चुनाव में पटकनी देने का प्लान तैयार , जातीय जनगणना की मांग से देंगे धारMayawatiOnYogi:बीजेपी ने उठाया हिंदू राष्ट्र का मुद्दा,बसपा को सताई दलितों के वोट कटने की चिंता !DelhiMcdFight:Bjp का दिल्ली में मेयर बनाने का सपना हो गया चकनाचूर !मेयर की महाभारत में अब लग गया विराम!ElectionCommissionDecision:शिव सेना पर कब्जे की लड़ाई में जीते मुख्यमंत्री शिंदे उद्धव को मशाल जलाने की मजबूरी पार्टी पर कब्जे की लड़ाई में EC का फैसला शिंदे के पक्ष में

Kanpur Violence : हयात ने सूफियान-जावेद के साथ मिलकर रची हिंसा की साजिश, पुलिस के हत्थे लगा रोमा ग्राफिक प्रिंटिंग प्रेस का मालिक

कानपुर। 3 जून से पहले कानपुर हिंसा का मास्टरमाइंड हयात जफर हाशमी और उसके साथी सूफियान और जावेद ने बैठक की थी। तीनों ने मिलकर  ब्रह्मनगर स्थित रोमा ग्राफिक प्रिंटिंग प्रेस से पोस्टर व पर्चे छपवाए थे। पोस्टर में बंद के अलावा अन्य बातें लिखी गई थीं। पुलिस ने इसे नियम विरूद्ध मानते हुए प्रेस के मालिक को गिरफ्तार कर लिया है। मंगलवार को पुलिस आरोपी को जेल भेजेगी।

ऐसे सामने आया साजिश वाला राज
हयात जफर हाशमी के संगठन एमएमए जौहर फैंस एसोसिएशन की तरफ से तीन जून को बाजार बंदी का आह्वान किया गया था। बंदी को लेकर प्रमुख बाजारों व इलाकों में पोस्टर लगाने के साथ पर्चे बांटे गए थे। हिंसा के बाद जब पुलिस ने जांच शुरू की तो बड़े पैमाने पर पोस्टर व पर्चे बरामद किए। पुलिस की जांच में पता चला कि रोमा ग्राफिक प्रिंटिंग प्रेस से ये छपवाए गए थे।

पकड़ा गया प्रेस का मालिक
डीसीपी पूर्वी प्रमोद कुमार ने बताया कि प्रेस मालिक शंकर को हिरासत में लिया गया है। पूछताछ में पता चला कि हयात के करीबी व साजिश में शामिल सूफियान व जावेद ने प्रेस पहुंचकर पोस्टर छापने का ठेका दिया था। ज्यादा पैसे की लालच में आकर शंकर ने पर्चे व पोस्टर छाप दिए। जो कि नियम और कानून के विरूद्ध है। पुलिस ने प्रेस मालिक को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस को सूचना देनी चाहिए
डीसीपी का कहना है कि इस तरह के आंदोलन व बाजार बंदी के पोस्टर आदि छापने से पहले स्थानीय पुलिस को सूचना देनी चाहिए। क्योंकि यह कानून-व्यवस्था से जुड़ा मसला है। इसलिए शंकर के खिलाफ कार्रवाई की गई है। वहीं शंकर के परिवारवालों का कहना है ि कवह बेगुनाह है। उसे फंसाया गया है।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities