ब्रेकिंग
अयोध्या का किन्नर समाज गरीबों की सहायता करने में तत्परAuraiya: बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, अधेड़ हुआ घायलAuraiya: सवारियों से भरी बस खाई में गिरी, 20 यात्री हुए घायलAgra: बेटों ने नहीं दिया सम्मान तो पिता ने संपत्ति की डीएम के नामHamipur: हाईवे पर हुई दो दुर्घटनाएं, तीन लोग हुए घायलHamirpur: ट्रक ने बाइक सवार पिता-पुत्र को रौंदा, मौके पर हुई मौतHamirpur: विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरु, जनपद को नौ जोन और 42 सेक्टर में बांटा गयामहोबा दौरे पर प्रियंका गांधी, प्रतिज्ञा रैली को करेंगी सम्बोधितHamirpur: शहर के बीच जेल तालाब में आग लगने से हड़कंप, बड़ा हादसा टलाJaunpur: पुलिस चौकी में घुसा ट्रक, हादसे में 1 की मौत, एक पुलिसकर्मी घायल

Ayodhya: मथुरा काशी मुक्ति संकल्प यात्रा होगा का आयोजन

अनिल निषादच अयोध्या

Ayodhya श्री कृष्ण जन्मभूमि मुक्ति दल के तत्वाधान में 6 दिसंबर मथुरा काशी मुक्ति संकल्प यात्रा का आयोजन किया जाएगा। जिसको लेकर श्रीकृष्ण जन्म भूमि न्यास ने प्रेसवार्ता की। इस प्रेसवार्ता में यह निर्णय लिया गया कि अयोध्या से काशी के लिए संकल्प यात्रा आगे बढ़ाई जाए। वहीं श्रीकृष्ण जन्म भूमि न्यास के संरक्षक महंत राजू दास ने कहा कि राम मंदिर की तरह मथुरा और काशी का पुनर्निर्माण भी हो। श्रीकृष्ण जन्मभूमि न्यास ने 4 प्रमुख मांगे रखी है। जिसमें गौ हत्या पर लगे पूर्ण रूप से प्रतिबंध, श्रीकृष्ण जन्मभूमि और काशी का अतिक्रमण हटाकर हिंदू समुदाय को सौंपा जाए और पूरे देश में चार लाख से ऊपर मठ मंदिरों पर सरकार का आधिपत्य, सरकार के आधिपत्य से हटाकर वैदिक बोर्ड का गठन कर उसके हवाले करें। महंत राजू दास ने कहा कि देश में चर्च और मदरसों पर नहीं है सरकार का आधिपत्य तो फिर हिंदुओं के धर्म स्थलों पर क्यों सरकार का आधिपत्य। हिंदुओं के साथ सौतेला व्यवहार हो रहा है। भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित किया जाए। वहीं श्री कृष्ण जन्मभूमि न्यास के राष्ट्रीय प्रमुख राजेश मणि त्रिपाठी ने कहा कि गीता के अंतिम अध्याय में लिखा हुआ है। जिसके साथ भगवान श्री कृष्ण स्वयं हो उसकी विजय सुनिश्चित है। हमें विजय की चिंता नहीं है। हमारे अधिकार हमें मिलना हीं है। हम किसी से मांगने में विश्वास नहीं करते, अधिकार मांगे नहीं जाते जरूरत पड़ने पर छीने जाते हैं। भगवान श्री कृष्ण ने पांच गांव मांगे थे। हम भी अपने पांच अधिकार मांग रहे हैं। जिसमें से एक राम मंदिर हम सबको मिल चुका है। अब हमारे चार अधिकार बचें हैं जो हमें तत्काल चाहिए। यह आंदोलन ना तो रुकेगा ना ही अपने सनातन साथियों को बैठने देगा। हमारी जो विचारधारा मांगे हैं और हमारे अधिकार हमें चाहिए। दरसअल 6 दिसंबर को रामलीला मैदान मथुरा से संकल्प यात्रा निकलेगी जो चित्रकूट,  मसानी चौराहा, कच्ची सड़क, लाल दरवाजा, चौक बाजार, मंडी रामदास, डी गेट, रूपम सिनेमा, थाना गोविंद नगर और महाविद्या चौराहा महाविद्या मंदिर से होते हुए रामलीला मैदान में पहुंचेंगे। जहां सभा का आयोजन होना सुनिश्चित है। उसके बाद अगले कार्यक्रम अयोध्या से काशी तक संकल्प यात्रा की रूपरेखा तय होगी।

 

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities