बड़ी ख़बरें
अब सिल्वर स्क्रीन पर दिखाई देगी निरहुआ के असल जिंदगी के अलावा उनकी रियल लव स्टोरी की ‘एबीसीडी’, शादी में गाने-बजाने वाला कैसे बना भोजपुरी फिल्मों का सुपरस्टार के साथ राजनीति का सबसे बड़ा खिलाड़ीटीचर की पिटाई से छात्र की मौत के चलते उग्र भीड़ ने पुलिस पर पथराव के साथ जीप और वाहनों में लगाई आग, अखिलेश के बाद रावण की आहट से चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनातकुंवारे युवक हो जाएं सावधान आपके शहर में गैंग के साथ एंट्री कर चुकी है लुटेरी दुल्हन, शादी के छह दिन के बाद दूल्हे के घर से लाखों के जेवरात-नकदी लेकर प्रियंका चौहान हुई फरारअपने ही बेटे के बच्चे की मां बनने जा रही ये महिला, दादी के बजाए पोती या पौत्र कहेगा अम्मा, हैरान कर देगी MOTHER  एंड SON की 2022 वाली  LOVE STORYY आस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाकेदार जीत के बाद भी कैप्टन रोहित शर्मा की टेंशन बरकरार, टी-20 वर्ल्ड कप से पहले हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार समेत ये क्रिकेटर टीम इंडिया से बाहरShardiya Navratri 2022 : अकबर और अंग्रेजों ने किया था मां ज्वालाजी की पवित्र ज्योतियां बुझाने का प्रयास, माता रानी के चमत्कार से मुगल शासक और ब्रिटिश कलेक्टर का चकनाचूर हो गया था घमंडबीजेपी नेता का बेटे वंश घर पर अदा करता था नमाज, जानिए कापी के हर पन्ने पर क्यों लिखता था अल्हा-हू-अकबर17 माह तक एक कमरे में पति की लाश के साथ रही पत्नी, बड़ी दिलचस्प है विमलेश और मिताली के मिलन की लव स्टोरी‘शर्मा जी’ ने महेंद्र सिंह धोनी के 15 साल पहले लिए गए एक फैसले का खोला राज, 22 गज की पिच पर चल गया माही का जादू और पाकिस्तान को हराकर भारत ने जीता पहला टी-20 वर्ल्ड कपआखिरकार यूपी में पकड़ी गई झारखंड-बिहार के रियल लाइफ वाली ‘बंटी-बबली’ की जोड़ी, फेरों के फंदे में फांसकर 35 अफसर व कारोबारियों से ठगे 1.16 करोड़ की नकदी

इंस्पेक्टर की बेटी को दे बैठा दिल पर प्यार नहीं सक्सेसफुल तो ‘नायक’ से डॉक्टर बन गया ‘खलनायक’ दो दशक तक पूर्वांचल में पन्ना डान की बोली तूती, प्रेमी-प्रेमिका की मोहब्बत के ‘विलेन’ को गोलियों से कर देता था छलनी

गोरखपुर। वह एक इंस्पेक्टर की कार चलाया करता था। इंस्पेक्टर को घर से लाने और छोड़ने जाता था। तभी उसकी मुलाकात इंस्पेक्टर की बेटी से हुई। दोनों के बीच पहले दोस्ती हुई। कार में बैठाकर वह इंस्पेक्टर की बेटी को घुमाता। कुछ माह के बाद दोनों के बीच प्यार हो गया। मोहब्बत परवान चढ़ी तो इसकी भनक इंस्पेक्टर को हो गई। उसने बेटी के घर से बाहर निकलने पर रोक लगा दी। युवक, युवती को लेकर भाग गया। इंस्पेक्टर ने खाकी के दम पर बेटी को बरामद करते हुए पन्ना के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया। कुछ दिन के बाद इंस्पेक्टर की बेटी की जलकर मौत हो जाती है और पन्ना प्यार में पागल हो जाता है और हथियार उठाकर पूर्वांचल का नामी डान बनकर पुलिस-पब्लिक के लिए खलनायक बन जाता है।

प्रेमिका की मौत के बाद बन गया बदमाश
गोरखपुर जिले के गुलरिहा इलाके के मंगलपुर गांव के बौडिहवा टोला का मूल निवासी पन्ना वर्ष 1997-98 में यहां एक इंस्पेक्टर की जीप चलाता था। इसी दौरान उसे इंस्पेक्टर की बेटी से प्यार हो गया। इंस्पेक्टर की बेटी का अपहरण कर उसे प्रयागराज ले गया। इंस्पेक्टर से जुड़ा मामला होने की वजह से पुलिस ने तेजी दिखाई और बेटी को बरामद कर लिया। तब पन्ना के खिलाफ एनसीआर दर्ज की गई थी। इंस्पेक्टर ने बेटी की शादी दूसरी जगह कर दी, लेकिन पन्ना ने उससे मेलजोल बनाए रखा। बाद में आग से झुलस जाने की वजह से इंस्पेक्टर की बेटी की मौत हो गई थी। यहीं से पन्ना का मिजाज बदल गया और वह पूरी तरह से जरायम (क्राइम) की दुनिया में कदम रख देता है।

प्यार करने वालों का बना मसीहा
पन्ना ने अनगिनत गुनाह किए। अपहरण, लूट, डकैती, मर्डर के अलावा सुपारी किलर भी बन गया। बताया जाता है कि, गोरखपुर स्थित एक गांव में युवक-युवती प्यार करते थे। युवती के परिवारवाले बेटी की शादी दूसरी जगह तय कर दी। दूल्हा बारात लेकर लड़की के गांव आया। इसकी भनक पन्ना को लग गई। वह अपने गिरोह के साथ बारातियों को बंधक बना लिया। जमकर पारपीट की। सूचना पर पुलिस पहुंची। इस दौरान पन्ना सिपाही से भिड़ गया। इससे खार खाए पुलिसवालों ने उसे जमकर पीटा। इस घटना के बाद लोग उसे जानने लगे थे।

2014 में पकड़ा गया था पन्ना
पन्न्ना इलाके में ‘डॉक्टर’ के उपनाम से कुख्यात हो गया। इसके बाद कई वारदातों में उसका नाम सामने आया। इस बीच उसने बदमाशों की फौज तैयार कर ली। उसने संतोष पांडेय, बबलू यादव, इंद्रपाल सिंह, नागेंद्र चौधरी, श्यामसुंदर, पिंटू और तेज प्रताप को साथ जोड़ लिया। पन्ना और उसके साथियों ने गोरखपुर और महराजगंज जिले में ताबड़तोड़ आपराधिक गतिविधियों को अंजाम देकर सनसनी फैला दी। ताबड़तोड़ लूट की घटनाएं कर वह पुलिस को चुनौती देने लगा। गोरखपुर के कैंट थाना इलाके में वर्ष 2014 में उसने जय साहनी की अपहरण के बाद हत्या कर दी। क्राइम ब्रांच ने उसे गिरफ्तार किया था। उसके ऊपर कैंट पुलिस ने गैंगेस्टर एक्ट की कार्रवाई भी की थी।

जेल से फरार के बाद मारा गया पन्ना डॉन
पुलिस के मुताबिक, पन्ना यादव गोरखपुर जेल से फरार हो गया था। 2017 में प्रदेश में योगी की सरकार आई। अपराधियों के खिलाफ ऑपरेशन क्लीन शुरू हुआ। जुलाई 2020 की सुबह उत्तर प्रदेश के बहराइच में एसटीएफ ने शातिर बदमाश पन्ना यादव को मुठभेड़ में मार गिराया था। जानकारी के मुताबिक, पन्ना के बड़े भाई साधू जब जिंदा थे, तो वह अक्सर गांव आता था। वर्ष 2015 में बड़े भाई की मौत हो गई तो उसने गांव से नाता तोड़ लिया। इधर, पुलिस की सख्ती बढ़ गई तो वह बहराइच शिफ्ट हो गया। पन्ना ने यहां गांव में अपनी मकान बेच दी थी। अब गांव में उसकी 12 से 13 डिस्मिल भूमि बची है। पन्ना को लोग आज भी प्यार करने वालों का मसीहा बताते हैं।

श्रीप्रकाश शुक्ल और श्रीपत जैसी धमक बनाना चाहता था
पन्ना यादव कुख्यात श्रीप्रकाश शुक्ला और श्रीपत ढाढ़ी जैसी धमक बनाना चाहता था। तब इन दोनों बदमाशों की यूपी और बिहार में तूती बोलने लगी थी। श्रीप्रकाश शुक्ला और उसके साथी उत्तर प्रदेश और बिहार के माफिया ठेकेदारों के साथ मिलकर रेलवे का ठेका मैनेज करने लगे। पन्ना भी दोनों के नक्शेकदम पर चल पड़ा था। वह भी क्षेत्र में अपनी पहचान रॉबिनहुड कर तरह बनाए हुआ था। गरीब बेटियों की शादी करवाता था और उन्हें आर्थिक मदद भी करता। इसी के चलते वह 22 साल से ज्यादा समय तक यूपी पुलिस से बचता रहा।

पन्ना पर कुल 30 मुकदमे दर्ज थे

पन्ना के खिलाफ पहला केस गोरखपुर के गुलरिहा थाने में दुष्कर्म के आरोप में दर्ज हुआ था। फिर इसी थाने में चोरी, हत्या की कोशिश, महराजगंज के पनियरा में डकैती, आर्म्स एक्ट, गुलरिहा में गैंगेस्टर एक्ट, कैंपियरगंज में जमीन कब्जा, बाराबंकी के जैतपुर में हत्या की कोशिश, आर्म्स एक्ट, बाराबंकी के मसौली थाने में डकैती, गैंगेस्टर, हत्या, लखनऊ के मडियांव थाने में आर्म्स एक्ट, गोरखपुर कैंट में छेड़खानी, हत्या, आपराधिक साजिश, कैंट में जालसाजी, गैंगेस्टर एक्ट, बहराइच के हरदी थाने में हत्या की कोशिश, 7सीएलए, आर्म्स एक्ट, बाराबंकी जीआरपी में आपराधिक साजिश, गोंडा के वजीरगंज थाने में जमीन कब्जा करने, तिवारीपुर में जमीन कब्जा करने, खीरी में गैंगेस्टर, डकैती, लूट के चार मुकदमे, गुलरिहा में गुंडा एक्ट, लखनऊ के गाजीपुर थाने में हत्या की कोशिश, आर्म्स एक्ट, गोरखपुर के गुलरिहा में हत्या की कोशिश और आपराधिक साजिश के तहत केस है। पन्ना पर कुल 30 मुकदमे दर्ज थे।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities