बड़ी ख़बरें
एक दुनिया का सबसे बड़ा ग्लोबल लीडर तो दूसरा देश का सबसे पॉपुलर पॉलिटिशियन, पर दोनों ‘आदिशक्ति’ के भक्त और 9 दिन बिना अन्न ‘दुर्गा’ की करते हैं उपासना, जानें पिछले 45 वर्षों की कठिन तपस्या के पीछे का रहस्यअब सिल्वर स्क्रीन पर दिखाई देगी निरहुआ के असल जिंदगी के अलावा उनकी रियल लव स्टोरी की ‘एबीसीडी’, शादी में गाने-बजाने वाला कैसे बना भोजपुरी फिल्मों का सुपरस्टार के साथ राजनीति का सबसे बड़ा खिलाड़ीटीचर की पिटाई से छात्र की मौत के चलते उग्र भीड़ ने पुलिस पर पथराव के साथ जीप और वाहनों में लगाई आग, अखिलेश के बाद रावण की आहट से चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनातकुंवारे युवक हो जाएं सावधान आपके शहर में गैंग के साथ एंट्री कर चुकी है लुटेरी दुल्हन, शादी के छह दिन के बाद दूल्हे के घर से लाखों के जेवरात-नकदी लेकर प्रियंका चौहान हुई फरारअपने ही बेटे के बच्चे की मां बनने जा रही ये महिला, दादी के बजाए पोती या पौत्र कहेगा अम्मा, हैरान कर देगी MOTHER  एंड SON की 2022 वाली  LOVE STORYY आस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाकेदार जीत के बाद भी कैप्टन रोहित शर्मा की टेंशन बरकरार, टी-20 वर्ल्ड कप से पहले हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार समेत ये क्रिकेटर टीम इंडिया से बाहरShardiya Navratri 2022 : अकबर और अंग्रेजों ने किया था मां ज्वालाजी की पवित्र ज्योतियां बुझाने का प्रयास, माता रानी के चमत्कार से मुगल शासक और ब्रिटिश कलेक्टर का चकनाचूर हो गया था घमंडबीजेपी नेता का बेटे वंश घर पर अदा करता था नमाज, जानिए कापी के हर पन्ने पर क्यों लिखता था अल्हा-हू-अकबर17 माह तक एक कमरे में पति की लाश के साथ रही पत्नी, बड़ी दिलचस्प है विमलेश और मिताली के मिलन की लव स्टोरी‘शर्मा जी’ ने महेंद्र सिंह धोनी के 15 साल पहले लिए गए एक फैसले का खोला राज, 22 गज की पिच पर चल गया माही का जादू और पाकिस्तान को हराकर भारत ने जीता पहला टी-20 वर्ल्ड कप

डीएम-एसएसपी के पैरों पर गिर कर फूट-फूटकर रोने लगी मां तो मथुरा कोतवाली के ‘दबंग’ कोतवाल के माथे में आ गया पसीना, जानें क्या है पूरा मामला

मथुरा। जनपद में उपमुख्यमंत्री के दौरा था। सास और बहू अपनी फरियाद लेकर अस्पताल पहुंंची, लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें अंदर नहीं आने दियौ उपमुख्यमंत्री के जाने के बाद जैसे ही सास की नजर डीएम-एसएसपी पर पड़ी तो वह उनके पैरों को पकड़ कर फूट-फूट कर रोने लगी। पीड़िता ने कहा कि, ‘साहब बेटे कई दिनों से लापता है। कोतवाली जाकर शिकायत की, लेकिन कोतवाल ने न्याय देने के बजाए हमें भगा दिया। प्लीज बेटे की तलाश करवाकर हमें घर पर दोबारा खुशियां वापस करने में मदद करें। जिस पर एसएसपी ने कोतवाल को बुलाकर डांड लगाई और तत्काल मुकदमा दर्ज कर पीड़िता के लापता बेटे को बरामद करने के निर्देश दिए।

उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक के आगमन को लेकर जिला आपात कक्ष के बाहर डीएम नवनीत सिंह चहल, एसएसपी अभिषेक यादव जब प्रतिक्षारत थे, तभी शहर कोतवाली के रामनगर के कृष्णानगर की रहने वाली महिला शीलेश अपनी सास बीना के साथ लापता पति को तलाश करने की फिरयाद लेकर उपमुख्यमंत्री के पास जिला अस्पताल पहुंची थी। वहां पर तैनात सुरक्षार्मियों से दोनों ने उपमुख्यमंत्री से मिलने की फरियाद की। लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें अंदर नहीं जाने दिया।

सास और बहू अस्पताल के गेट के बाहर आकर खड़ी हो गईं। तभी सास की नजर डीएम नवनीत सिंह चहल और एसएसपी अभिषेक यादव पर पड़ी, तो वे दोनों अधिकारियों के पास पहुंच गईं। बुजुर्ग मां जिलाधिकारी और एसएसपी के पैरों पर गिर कर फूट-फूटकर रोने लगी। उसने कहा कि साहब बेटे को ढूंढ दीजिए। दोनों अधिकारी ये सब देख हैरान रह गए। डीएम और एसएसपी ने बुजुर्ग मां को धैर्य बंधाते हुए जमीन से उठाया और फिर मामला सुना। दोनों अफसरों ने बुजुर्ग महिला को बैठाया और उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन देते हुए बहू से पूरी बात जानी।

बहू शीलेश ने बताया कि उसका पति धर्मेंद्र उर्फ गोलू 27 अगस्त को बीमार बडे़ भाई जितेंद्र को देखने जिला अस्पताल आया था। तब से अब तक वापस घर नहीं लौटा है। इसे लेकर वह कई बार कृष्णानगर चौकी और कोतवाली गई, लेकिन पुलिस ने उसकी एक नहीं सुनी। महिला ने बताया कि उनके घर में वह एकमात्र कामगार है और फरीदाबाद की एक फैक्टरी में काम करता था। रक्षाबंधन पर घर आया और इसी वक्त भाई के बीमार पड़ने पर उसे देखने जिला अस्पताल गया। लापता व्यक्ति के दो छोटे बच्चे हैं।

एसएसपी ने कोतवाल को बुलाया और जमकर फटकार लगाई। एसएसपी ने कहा कि, आज ही मुकदमा दर्ज करें। लापता प्यक्ति की तलाश करें। हरदिन पूरे प्रकरण की रिपोर्ट सीधे मुझे दें। डीएम और एसएसपी ने आप धैर्य रखें। पुलिस लापता प्यक्ति की तलाश करेगी और जल्द से जल्द वह आपको मिल जाएगा। इस मौके पर बुजुर्ग मां दोनों अफसरों का हाथ ताड़कर आभार प्रकट किया। पीड़िताओं का कहना है कि, जब धमेंद्र घर लापता हुआ, तब से हमारे घर में भोजन नहीं पका। पूरा परिवार टूट गया है। अगर स्थानीय पुलिस मदद करती तो शायद धमेंद्र हमें मिल चुका होता।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities