ब्रेकिंग
Kanpur: डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने परियोजनाओं का किया लोकार्पण, सरकार की गिनाई उपलब्धियांBadaun: एनएचएम संविदा कर्मचारियों की हड़ताल, मांगों को लेकर प्रदर्शनBadaun: पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, तीन शातिर लुटेरे गिरफ्तारSiddharthnagar: आनंदी बेन पटेल ने आंगनवाडी केंद्र का किया निरीक्षण, अधिकारियों को दिए आवश्यक निर्देशकानपुर पहुंचे डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, विपक्षियों पर कसा तंजहमीरपुर पहुचीं उमा भारती, स्वामी ब्रह्मानंद जी के जन्मोत्सव में हुईं शामिलAgra: दारू के लिए पैसे ना देने पर दोस्तों ने की दोस्त की पिटाईआगरा पुलिस ने संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों का किया निरीक्षणAgra: रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम के गड्ढे बने मुसीबत, हादसे को दावत दे रहे हैं दावतदिशा पाटनी ग्लैमरस तस्वीरों में दिखी बोल्ड, सोशल मीडिया पर छाया हॉट लुक

नरेश त्यागी हत्याकांड: विधायक परिवार मेरी भी हत्या करा सकता है: अभिषेक त्यागी

Ghaziabad: पिता नरेश त्यागी की हत्याकांड मामले में शामिल गिरीश त्यागी पर अभिषेक त्यागी ने आरोप लगाया कि वह गाजियाबाद में ही कहीं छिपा है और कभी भी मेरी हत्या करा सकता है। इस दौरान उन्होंने कहा कि फूफा एंव पूर्व मंत्री राजपाल त्यागी और फुफेरे भाई  मुरादनगर से भाजपा विधायक अजीत पाल त्यागी भी अब खुलकर हत्यारे गिरीश त्यागी के पक्ष में आ गये हैं। गाज़ियाबाद नवयुग मार्केट स्थित कृष्णा उडपि रेस्टोरेंट में संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने संगीन आरोप लगाये चारों भाइयों में सबसे बड़े अभिषेक ही मुकदमें के वादी भी हैं।

अभिषेक ने संवादाताओं से वार्ता करते हुए कहा कि अब हत्यारों के संरक्षणदाताओं के दवाब में पुलिस काम कर रही है। हम आप सबके माध्यम से इस मामले की सीबीआई जांच कराने और अपने परिवार की सुरक्षा दिलाने के साथ-साथ कातिलों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग करते है।  उन्होंने खेद जताया कि उनके पिता की हत्या 9 अक्टूबर 2020 को हुई थी। इस हत्या के हुए पूरा एक साल बीत गया है, पुलिस ने केवल 82 की कार्रवाई की है जबकि इस मामले में 83 की कार्रवाई होनी चाहिए थी जो नहीं हुई। पुलिस सीआरपीसी की धारा 174 के तहत मुकदमा दर्ज करवा दिया है। इससे स्पष्ट है कि विधायक और उनके पिता पूर्व मंत्री राजपाल त्यागी का दवाब पुलिस पर है। 

अभिषेक संवाददाता सम्मेलन में अपने तीनों भाइयों के साथ पहुंचे। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि वह नाम तो नहीं बताएंगे। कयोंकि नाम बताने वाले को जान का खतरा हो सकता है। लेकिन मुझे भरोसे के लोगों ने बताया है कि डंफर और दूसरे ऐसे वाहन मंगा लिए गये हैं जिनसे कुचलवा कर ये लोग मेरी और मेरे परिजनों को मौत की नींद सुला सकते हैं। उन्होंने इस बात से इंकार किया कि विधायक अजीत पाल त्यागी उन्हें सपोर्ट कर रहे हैं। अभिषेक त्यागी ने कहा कि विधायक अजीत पाल त्यागी मेरी नहीं अपने भाई ग्रिरीश त्यागी का सपोर्ट कर रहे हैं।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities