ब्रेकिंग
Panchang: आज का पंचांग 25 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 24 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 23 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयकानपुर हिंसा का पाकिस्तान कनेक्शन आया सामने, सर्विलांस पर लगे मोबाइलों से हुआ बड़ा खुलासाबाँदा में प्राधिकरण और निबंधन की मिलीभगत से प्लाटिंग के नाम पर हो रही है खुली डकैती ,आप भी हो जाइए सावधान!Panchang: आज का पंचांग 22 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयशिवसेना में लगातार बढ़ रही है बागी विधायकों की संख्या, अब तक 42 MLA ने ठाकरे के खिलाफ मोर्चा खोलाऑटो रिक्शा चलाने और रिवॉल्वर-पिस्टल रखने वाले इस नेता ने ठाकरे को दी चुनौती, महाराष्ट्र की महा विकास आघाडी सरकार गिरने की शुरू हुई उल्टी गिनतीएक ‘महिला मस्साब’ कैसे चुनीं गईं एनडीए के राष्ट्रपति की उम्मीदवार, पीएम नरेंद्र मोदी ने इन बड़े नामों के बजाए द्रौपदी पर क्यों लगाया दांवअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सीएम योगी का दिखा अनोखा अंदाज, तस्वीरों में देखें कैसे दिया स्वस्थ जीवन का संदेश

National Herald Case : ईडी के एक्शन के खिलाफ कांग्रेस का सड़क पर सत्याग्रह, बीजेपी सरकार ’रावण’ तो राहुल गांधी हमारे ’राम’

दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी सोमवार को नेशनल हेराल्ड केस में ईडी के मुख्यालय में दोपहर करीब 11 बजे पेश होंगे। जिसके चलते कांग्रेसी सड़क पर उतर आए हैं और सरकार के खिलाफ संग्राम छेड़ दिया है। कांग्रेस के एक कार्यकर्ता ने कहा कि सत्तारूढ़ सरकार रावण की भूमिका निभा रही है। हम उन्हें बताना चाहते हैं कि राहुल गांधी हमारे राम हैं और हम उनके प्रति समर्पित हैं। उन्होंने कहा कि जब तक राहुल गांधी ईडी कार्यालय से नहीं निकलते, हम अपना विरोध जारी रखेंगे।

प्रियंका भी राहुल से मिलीं
मनी लॉन्ड्रिंग मामले में राहुल गांधी सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेश होने वाले हैं। इससे पहले कांग्रेस समर्थकों ने राहुल के पक्ष में नारेबाजी की, जिन्हें दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया। नई दिल्ली स्थित कांग्रेस दफ्तर के बाहरी भारी संख्या में पार्टी लीडर और सपोर्टर जमा हुए हैं। राहुल के समर्थक हाथों में प्लेकार्ड्स लिए नजर आए, जिन पर सत्यमेव जयते लिखा है। साथ ही उन्होंने वन्दे मातरम के नारे भी लगाए। राहुल की पेशी के पहले प्रियंका गांधी वाड्रा उनसे मिलने उनके घर पहुंचीं। ऐसी चर्चा है कि वह भी राहुल के साथ पैदल मार्च करके ईडी मुख्यालय जा सकती हैं।

नेशनल हेराल्ड में कोई घोटाला नहीं हुआ
राहुल गांधी से पूछताछ के विरोध में कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा नेशनल हेराल्ड में कोई घोटाला नहीं हुआ। नेशनल हेराल्ड कंपनी ने यंग इंडिया कंपनी का बकाया चुकाया है और कर्मचारियों का वेतन दिया। हमने भाजपा सरकार की तरह भारत की सरकारी संपत्तियों को बेचा नहीं है। रणदीप सुरजेवाला ने कहा, “हम राहुल गांधी के नेतृत्व में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) कार्यालय तक शांतिपूर्ण विरोध मार्च निकालेंगे। हम संविधान के रक्षक हैं, हम झुकेंगे या डरेंगे नहीं। भारी पुलिस बल तैनात कर यह साबित हो गया है कि मोदी सरकार कांग्रेस से हिल गई है।

क्या है पूरा मामला
1938 में कांग्रेस पार्टी ने एसोसिएट जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) बनाई थी। इसी के तहत नेशनल हेराल्ड अखबार निकाला जाता था। उस वक्त एजेएल पर 90 करोड़ से ज्यादा का कर्ज था और इसी को खत्म करने के लिए एक और कंपनी बनाई गई। जिसका नाम था यंग इंडिया लिमिटेड। इसमें राहुल और सोनिया की हिस्सेदारी 38-38 फीसदी की थी। यंग इंडिया को एजेएल के 9 करोड़ शेयर दिए गए। कहा गया कि इसके एवज में यंग इंडिया एजेएल की देनदारियां चुकाएगी, लेकिन शेयर की हिस्सेदारी ज्यादा होने की वजह से यंग इंडिया को मालिकाना हक मिला। एजेएल की देनदारियां चुकाने के लिए कांग्रेस ने जो 90 करोड़ का लोन दिया था, वह भी बाद में माफ कर दिया गया।

केस में कब क्या हुआ
नवंबर 2012 को दिल्ली कोर्ट में सुब्रमण्यम स्वामी ने केस दर्ज कराया, जिसमें सोनिया-राहुल के अलावा मोतीलाल वोरा, ऑस्कर फर्नांडिस, सुमन दुबे और सैम पित्रोदा आरोपी बनाए गए थे। ये सभी कांग्रेस से जुड़े हैं। 26 जून 2014 को मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने सोनिया-राहुल समेत सभी आरोपियों के खिलाफ समन जारी किया। 1 अगस्त 2014 के ईडी ने इस मामले में संज्ञान लिया और मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया। मई 2019 में इस केस से जुड़ी 64 करोड़ की संपत्ति को ईडी ने जब्त किया।

लेकिन आयकर की जांच जारी रहेगी
19 दिसंबर 2015 को इस केस में सोनिया, राहुल समेत सभी आरोपियों को दिल्ली पटियाला कोर्ट ने जमानत दे दी। 9 सितंबर 2018 को दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले में सोनिया और राहुल को करारा झटका दिया था। कोर्ट ने आयकर विभाग के नोटिस के खिलाफ याचिका खारिज कर दी थी। कांग्रेस ने इसे सुप्रीम कोर्ट में भी चुनौती दी, लेकिन 4 दिसंबर 2018 को कोर्ट ने कहा कि आयकर की जांच जारी रहेगी। हालांकि, अगली सुनवाई तक कोई आदेश पारित नहीं होगा।

55 करोड़ की हेराफेरी का है आरोप
2012 में सुब्रमण्यम स्वामी ने सोनिया और राहुल के खिलाफ कोर्ट में केस दर्ज कराया था। इसमें स्वामी ने गांधी परिवार पर 55 करोड़ की गड़बड़ी का आरोप लगाया था। हालांकि, इस केस में ईडी की एंट्री साल 2015 में हुई। इसके बाद ईडी ने सोनिया-राहुल गांधी को कईबार समन भेजा। सोनिया गांधी की भी आज पेशी होनी थी, लेकिन वह कोरोना संक्रमित होने के चलते ईडी आफिस नहीं जाएंगी। राहुल गांधी करीब 11 बजे ईडी के सामने पेश होंगे।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities