ब्रेकिंग
इस शहर को कहा जाता है विधवा महिलाओं की घाटीAgra: बच्चों से भरी वैन के गड्ढे में गिरने से हुआ हादसाJhansi: युवा मोर्चा की जिला झाँसी महानगर कार्यसमिति की बैठक हुई सम्पन्नHamirpur: NH34 पर अतिक्रमण हटाने पहुंची कंपनी, विधायक ने मांगी मोहलतAyodhya: पांचवे दीपोत्सव को भव्य बनाने के लिए अवध यूनिवर्सिटी में तैयारी शुरूEtah: 100 प्रतिशत टीकाकरण करवा कर ग्रामीणों ने की मिसाल कायमMahoba: झाड़ियों में लावारिस पड़ा मिला नवजात शिशु, गांव में एक साल के अंदर यह दूसरी घटनाMahoba: सिंचाई विभाग का अजब कारनामा, मृतक किसानों के खिलाफ पुलिस को दी तहरीरएटा को मिली बड़ी सौगात, पीएम मोदी ने किया मेडिकल कॉलेज का लोकार्पणAgra: नए एसएससी सुधीर कुमार सिंह ने संभाला चार्ज, कहा अपराधियों पर कसेगा शिकंजा

सिद्धार्थनगर: भूकंप को लेकर NDRF की MOCK DRILL से मचा हड़कंप

चंदन श्रीवास्तव, सिद्धार्थनगर

सिद्धार्थनगर में भूकंप की खबर से अचानक हड़कंप मच गया। लोगों में दहशत का आलम ये था कि लोग घरों को छोडकर बाहर आ गए. पुलिस के हूटर तेजी के साथ बजने लगे. NDRF का आपदा रहा दस्ता मौके पर पहुच गया और आनन-फानन एक बहुमांजिला इमारत को कब्जे में ले लिया। आस-पास के लोग इस कार्यवाई से सकते में आ गए, लेकिन थोड़ी देर में लोगों की जान में जान वापस आई. जब उन्हें पता चला कि यह वास्तविक भूकंप न होकर मात्र एक NDRF द्वारा किया गया एक मॉक ड्रिल है।

दरअसल, सिद्धार्थनगर में जिला प्रशासन ने आपदा प्रबंधन को लेकर एक कार्यशाला का अयोजन किया था। जिसमें NDRF की आपदा राहत यूनिट शामिल हुई। NDRF की टीम ने जिला प्रशासन के अधिकारियों औक आपदा राहत टीमों को प्रशिक्षित किया कि भूकंप आने पर लोग क्या करें और मकानों में फंसे लोगों का कैसे रेस्क्यू किया जाए। भूकंप को लेकर इस मॉक ड्रिल में एनडीआरएफ के जवानों ने ऊंची बिल्डिंग में फंसे लोगों और घायलों का अपने संसाधन से रेस्क्यू किया और आम लोगों को बिल्कुल भी परेशान ना होने की हिदायत दी। इस मॉक ड्रिल के बारे में मौके पर मौजूद जिलाधिकारी दीपक मीणा ने बताया कि सिद्धार्थनगर जिला भूकंप जोन के सेकंड सेंसेटिव जोन में से एक है। ऐसे में समय-समय पर एनडीआरएफ द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में इस तरह के मॉक ड्रिल का आयोजन कर लोगों को जागरूक किया जाता है। आपको बताते चलें कि तराईक्षेत्र के कई जिले सेंसेटिव जोन में आते है। इसीलिए भारत-नेपाल सीमा पर स्थित सिद्धार्थनगर जिला भूकंप के लिए बनाए गए 5 ज़ोन में चौथे यानी सेकंड डेंजरस जोन में आता है। ऐसे में इस तरह के मॉक ड्रिल के माध्यम से लोगों को जागरूक कर भूकंप से बचने के गुर समय-समय पर सिखाए जाते हैं।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities