ब्रेकिंग
Panchang: आज का पंचांग 25 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 24 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयPanchang: आज का पंचांग 23 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयकानपुर हिंसा का पाकिस्तान कनेक्शन आया सामने, सर्विलांस पर लगे मोबाइलों से हुआ बड़ा खुलासाबाँदा में प्राधिकरण और निबंधन की मिलीभगत से प्लाटिंग के नाम पर हो रही है खुली डकैती ,आप भी हो जाइए सावधान!Panchang: आज का पंचांग 22 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समयशिवसेना में लगातार बढ़ रही है बागी विधायकों की संख्या, अब तक 42 MLA ने ठाकरे के खिलाफ मोर्चा खोलाऑटो रिक्शा चलाने और रिवॉल्वर-पिस्टल रखने वाले इस नेता ने ठाकरे को दी चुनौती, महाराष्ट्र की महा विकास आघाडी सरकार गिरने की शुरू हुई उल्टी गिनतीएक ‘महिला मस्साब’ कैसे चुनीं गईं एनडीए के राष्ट्रपति की उम्मीदवार, पीएम नरेंद्र मोदी ने इन बड़े नामों के बजाए द्रौपदी पर क्यों लगाया दांवअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सीएम योगी का दिखा अनोखा अंदाज, तस्वीरों में देखें कैसे दिया स्वस्थ जीवन का संदेश

Panchang: आज का पंचांग 20 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

दिनांक- 20 जून 2022 का पंचांग
सौजन्य- आचार्य दीपान्त कुमार शर्मा
संवत:-2079(नल-संवत्सर), शाका:-1944

रवि:-उत्तरायण/उत्तरगोल !!
ऋतु:-ग्रीष्मऋतु !! मास:-आषाढ़ !!

पक्ष:-कृष्णपक्ष।

तिथि:-सप्तमी !!

वार:-सोमवार !!
नक्षत्र:-पूर्वाभाद्रपद !!

योग:-प्रीति/आयुष्मान !!

करण:-विष्टि/बव !!

दिशाशूल:-पूर्वदिशा !!
पंचक-विचार:-पंचक 23 जून प्रात: 6:14 तक रहेंगे !!

गंडमूल-विचार:-गंडमूल आजकल नहीं हैं !!

राहुकाल:-प्रात: 7:30 से 9:00 तक (स्थूल/केवल द.भा. विचार्णिय ) !!
==================================
रोहिणीश: सुधामूर्ति: सुधागात्रो सुधाशन:। विषमस्थान सम्भूतां पीड़ां दहतु मे विधु:।।
==================================
🛕……..||आजका-विचार अवश्य पढ़ें ||……..🛕

🛕🙏 हृदयस्पर्शी अनमोल वचन-837 🙏🛕

न जन्म से होती है, न धर्म से होती है, अच्छे लोगों की पहचान तो सिर्फ अच्छे कर्म से होती है !!

आज साधु तो बहुत हैं, पर साधना नहीं है। साधना के बिना साधुता कागज के फूलों की तरह है।

जिनमें बहुरंगी आकर्षण तो भरपूर है, लेकिन सुगंध का एकदम अभाव है। सब तरफ आज ऐसे ही कागज के फूल दिखाई देते हैं !!

गलतियों से सीखा जाए तो गलतियां सीढ़ी है और नहीं सीखते तो गलतियां सागर है !!

इसी वज़ह से धर्म की प्रखरता-तेजस्विता मंद पड़ गई है। साधना के अभाव में धर्म असंभव है !!

जब वक्त अच्छा चल रहा होता है तो नफरत करने वाले भी चाहने लगते हैं !

और जब वक्त बुरा चलता है तब आपके चाहने वाले भी नफरत करने लगते हैं !!

जीवन में किसी को परखने का नहीं, हमेशा समझने का प्रयास कीजिए !!
🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕
गुस्से के वक्त थोड़ा रुक जाने से गलती के वक्त थोड़ा झुक जाने से जिंदगी आसान हो जाती है !!
🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕
आचार्य दीपान्त कुमार शर्मा
कर्मकांड एवं फ़लित ज्योतिषाचार्य
जय श्री माँ बगलामुखी जी
(दतिया)
संपर्क सूत्र-9761027940

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities