ब्रेकिंग
नवाबगंज पुलिस ने नहीं सुनी शिकायत तो पिता ने बेटे की खुद शुरू की पड़ताल, सीसीटीवी फुटेज देकर थाना प्रभारी से ‘घर के चिराग’ को बचाने की लगाई फरियाद, पर लाश मिली ‘सरकार’गोकश और पुलिस के बीच फायरिंग की तड़तड़ाहट से थर्राया घाटमपुर, गोली लगने से इंस्पेक्टर समेत दो घायल’अग्निपरीक्षा’ में पास हुए एकनाथ शिंदे, महाराष्ट्र की नवनियुक्त सरकार ने जीता विश्वास मत, जानें कांग्रेस-एनसीपी के आठ विधायक वोटिंग से क्यों रहे दूरदोस्ती पर भारी पड़ गया ‘नफरत’ वाला खंजर’, गला काटने के बाद अंतिम संस्कार में शामिल हुआ ‘जल्लाद’…हैलो मैं अल कायदा का सदस्य बोल रहा हूं, ‘महामंडलेश्वर आपके साथ गृहमंत्री अमित शाह और सीएम योगी को बम से उड़ा दूंगा’राजीव नगर में अतिक्रमण हटाने पहुंचे नगर निगम के दस्ते पर हमला, एसपी समेत कई पुलिसकर्मी घायल, 17 जेसीबी के साथ दो हजार जवानों ने 70 घरों को ढहायाSpecial story on anniversary of bikru case – ऐसा था विकास दुबे कानपुर वाला, 2 जूलाई को बहाया ‘खाकी के खून का दरिया’उदयपुर केस में सामने आई सनसनीखेज साजिश, दरिंदों ने 2013 में खरीदी ‘2611’ वाली तारीखISIS स्टाइल में उदयपुर के बाद अमरावती में हत्या, दरिंदों ने चाकू से दवा कारोबारी का गला काटाउदयपुर के कन्हैया हत्याकांड में शामिल थे 5 आतंकी, अपने साथियों को बचाने के लिए दुकान के पास खड़े थे दो आतंकी

Panchang: आज का पंचांग 17 जून 2022, जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

दिनांक- 17 जून 2022 का पंचांग
सौजन्य- आचार्य दीपान्त कुमार शर्मा

संवत:-2079, शाका:-1944.
रवि:-उत्तरायण/उत्तरगोल !!
ऋतु:-ग्रीष्मऋतु !! मास:-आषाढ़ !!
पक्ष:-कृष्णपक्ष !!
तिथि:-पंचमी !!
वार:-शनिवार !!
नक्षत्र:-श्रवण/धनिष्ठा !!
योग:-वैधृति/विष्कुम्भ !!
करण:-कौलव/तैतिल !!
दिशाशूल:-पूर्वदिशा !!
गंडमूल-विचार:-गंडमूल आजकल नहीं हैं !!
पंचक-विचार:-पंचक आज सायं 6:43 से 23 जून प्रात: 6:14 तक रहेंगे !!
राहुकाल:-प्रात: 9:00 से 10:30 तक (स्थूल केवल द.भा. में विचार्णिय ) !!
==================================
🌚शनि-बीजमंत्र:-ओम प्रां प्रीं प्रौं स: शनये नम:।
🌚सूर्यपुत्रो दीर्घदेहो विशालाक्ष: शिवप्रिय:। 🌚
🌚मंदचार: प्रसन्नात्मा पीड़ां दहतु मे शनि:।। 🌚
==================================
🙏……. || आजका विचार अवश्य पढ़ें ||……..🙏

🛕🙏 हृदयस्पर्शी अनमोल वचन-834 🙏🛕

जीवन में ज्ञान की कमी से आत्मविश्वास की कमी उत्पन्न होती है। जीवन के हर क्षेत्र में जहां हमें असुरक्षा महसूस होती है ज्ञान, शिक्षा द्वारा हम इस असुरक्षित से मुक्त हो सकते हैं !!

इंसान को थोड़ा मस्तीखोर रहना चाहिए, सीरियस लोग तो हॉस्पिटल में भी मिलते हैं, जिसकी मस्ती जिंदा है, उसकी हस्ती जिंदा है वरना यूं समझ लो कि वह जबरदस्ती जिंदा है !!

चाहें कितना भी ऊंचा पद प्राप्त करलो चाहें कितनी भी बड़ी-बड़ी डिग्रियां हासिल करलो अगर बोलने की तमीज और इंसानियत नहीं सीखी तो वो इंसान अनपढ़ के बराबर है !!

माचिस किसी दूसरी चीज को जलाने से पहले खुद को जलाती हैं ! गुस्सा भी एक माचिस की तरह है, यह दुसरो को बर्बाद करने से पहले खुद को बर्बाद करता है !!

अगर कोई आपकी उम्मीद से जीता है, तो आप भी उसके यकीन पर खरा उतरिये क्योकि इंसान उसी से उम्मीद रखता है जिसको वो अपने सबसे करीब मानता है !!
🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕
झूठ का स्वाद विचित्र है। स्वयं बोलने पर मीठा लगता है, कोई और बोले तो कड़वा लगता है !!
🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕🛕
आचार्य दीपान्त कुमार शर्मा
कर्मकांड एवं फलित ज्योतिषाचार्य
जय श्री माँ बगलामुखी जी
(दतिया)
संपर्क सूत्र-9761027940

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities