ब्रेकिंग
अयोध्या का किन्नर समाज गरीबों की सहायता करने में तत्परAuraiya: बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, अधेड़ हुआ घायलAuraiya: सवारियों से भरी बस खाई में गिरी, 20 यात्री हुए घायलAgra: बेटों ने नहीं दिया सम्मान तो पिता ने संपत्ति की डीएम के नामHamipur: हाईवे पर हुई दो दुर्घटनाएं, तीन लोग हुए घायलHamirpur: ट्रक ने बाइक सवार पिता-पुत्र को रौंदा, मौके पर हुई मौतHamirpur: विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरु, जनपद को नौ जोन और 42 सेक्टर में बांटा गयामहोबा दौरे पर प्रियंका गांधी, प्रतिज्ञा रैली को करेंगी सम्बोधितHamirpur: शहर के बीच जेल तालाब में आग लगने से हड़कंप, बड़ा हादसा टलाJaunpur: पुलिस चौकी में घुसा ट्रक, हादसे में 1 की मौत, एक पुलिसकर्मी घायल

Ayodhya: पांचवे दीपोत्सव को भव्य बनाने के लिए अवध यूनिवर्सिटी में तैयारी शुरू

अनिल निषाद, अयोध्या

सरकार के होने वाले पांचवे दीपोत्सव की तैयारियां जोरों-शोरों से पर शुरू हो गयी हैं। जिसमें अवध यूनिवर्सिटी के इकोनॉमिक्स डिपार्टमेंट ने फाइन आर्ट की तरफ से 9,50 लाख दीपों का टारगेट रखा गया है और तरह-तरह की मनमोहक कलाकृतियां राम जी के जीवन परिचय पर बनाई गई हैं। फाइन आर्ट की तरफ से अबकी मुख्य मंच के सामने माता शबरी राम जी को बेर खिलाते दीपों से चित्रण किया जाएगा। वहीं एक अनोखा दृश्य देखने को मिलेगा। इकोनॉमिक्स डिपार्टमेंट के प्रोफेसर फाइन आर्ट के समन्वयक विनोद श्रीवास्तव ने कहा कि हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी अवध विश्वविद्यालय अपना ही रिकॉर्ड तोड़ेगा। रिकॉर्ड तोड़ कर 950 लाख दीपों को 32 घाटों पर जलाकर नया रिकॉर्ड स्थापित करेगा। जिसमें फाइन आर्ट की तरफ से डेढ़ सौ बच्चे तरह-तरह की कलाकृति चित्रण मनमोहक रंगोली का कार्य प्रस्तुत करेंगे व 12000 वालंटियर दीप प्रज्वलित करने का कार्य करेंगे और भव्य व दिव्य दीपोत्सव को मनमोहक और सुंदर बनाने का कार्य करेंगे और अच्छे दृश्य को प्रस्तुत करेंगे। वहीं डॉक्टर सरिता द्विवेदी ने कहा कि जैसे कि हम लोग खुद ही रिकॉर्ड बनाया था और खुद ही तोड़ देते है। फिर हम लोग अपना ही रिकॉर्ड तोड़ेंगे और लगभग 9 लाख दीयों से हमारा घाट सजेगा। हमने दीयों को एक नॉर्मल तरीके से लगाकर राम दरबार बनाया था जो कि पूरे विश्व में फेमस हुआ है। राम दरबार उभरकर आता है जो एक आकर्षक और मनोहर रूप देता है। इसी तरह हम लोगों ने इसे इस बार की जो कथा चुनी है। वह माता शबरी जी के नाम से है। जिस प्रकार से प्रधानमंत्री का नारा था सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास, उसमें हम शबरी जी की कथा संघ को 40 बाई 40 फिट और दीयों से उभरेंगे। उसमें रंगोलियां भी रामकथा से रिलेटिव होंगी। इस बार हम लोगों ने इसक्चप थीम रखी हैं। जो राम जी से रिलेटिव होगी।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities