ब्रेकिंग
Siddharthnagar: भाकियू ने केंद्रिय मंत्री अजय मिश्रा को हटाने के विरोध में जाम किया रेलवे ट्रैकHamirpur: किसानों के रेल रोको आंदोलन को लेकर प्रशासन अलर्ट, तैनात की गई जीआरपी और पुलिसAuraiya: किसान यूनियन द्वारा रेल रोकने के मामले में पुलिस प्रशासन सख्तUnnao: किसानों की ओर से रेल रोको आंदोलन का आह्वान, पुलिस और प्रशासनिक टीमें अलर्टHamirpur: आकाशीय बिजली गिरने से बेटे की मौत, मां की हालत गंभीरAgra: किसान आंदोलन के मद्देनजर रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजामAgra: युवक के ऊपर टूट कर गिरा बिजली का तार, करंट लगने से युवक की मौतJhansi: रजत पदक विजेता शैली सिंह का गुरु पद्मश्री अंजु बॉबी जार्ज के साथ हुआ भव्य सम्मानआगरा: सरकारी हैडपम्प पर दो पक्षों में हुआ विवाद, दबंगों ने युवती को जमकर पीटाAgra: एक्टिव मोड दिखी BSP, बसपाई ने दिया कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र

अस्पताल में हंगामा, परिजनों ने पुलिस पर लगाए मारपीट के आरोप

काजल कश्यप, हमीरपुर

हमीरपुर जिला मुख्यालय में 6 दिन पूर्व यूपी-112 की टीम पर हमले के अपराधी दो भाइयों को जिला कारागार से इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया। जहां उन्होंने पुलिस पर मारपीट कर गंभीर चोटें पहुंचाने का आरोप लगा कोहराम मचाया। वहीं, पुलिस ने कहा कि आरोपियों की यह योजना है।

आपको बता दें, कि मामला हमीरपुर जिले की सदर कोतवाली क्षेत्र के रमेड़ी मोहल्ले का है. जहां पर 29 अगस्त को दिनेश को कोतवाली पुलिस ने जेल भेजा था। दोनों भाई यूपी-112 की टीम पर हमला करने के केस में वांछित थे।

वही, सदर कोतवाली के दारोगा ने जानकारी दी है कि यूपी-112 को बीते फरवरी में कॉल कर एक आदमी द्वारा शराब के नशे में हंगामा करने की खबर दी गई। जिस पर पीआरवी 1235 की टीम मौके पर पहुंची और आरोपी दिनेश को कोतवाली लाने लगी। जिस पर आरोपी की पत्नी सियाजानकी ने अपने दो बेटों अभय और अविनाश के अलावा बेटी ज्योति के साथ मिलकर इसका विरोध करना शुरू कर दिया। उसके बाद टीम पर हमला कर दिया। जिस पर टीम ने भागकर अपनी जान बचाई और पुलिस पर हमला करने का कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया। इसी के साथ ही बताया कि मामले की जांच उन्हें दी गई और आरोपी दिनेश को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। वहीं, न्यायालय से उसकी पत्नी द्वारा अग्रिम जमानत ले ली और दो बेटे के साथ बेटी फरार चल रहे थे। दोनों आरोपियों को बीते 29 अगस्त को गिरफ्तार कर मेडिकल करा जेल भेजा गया था और आरोपियों के जरिये लगाए गए आरोप गलत है। दारोगा का कहना है कि मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा उस पर कड़ी कार्रवाई होगी.

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities