ब्रेकिंग
Shahjahanpur: कानून के राज में कानून व्यवस्था ध्वस्त, बदमाशों ने कोर्ट में निपटाया वकीलSiddharthnagar: भाकियू ने केंद्रिय मंत्री अजय मिश्रा को हटाने के विरोध में जाम किया रेलवे ट्रैकHamirpur: किसानों के रेल रोको आंदोलन को लेकर प्रशासन अलर्ट, तैनात की गई जीआरपी और पुलिसAuraiya: किसान यूनियन द्वारा रेल रोकने के मामले में पुलिस प्रशासन सख्तUnnao: किसानों की ओर से रेल रोको आंदोलन का आह्वान, पुलिस और प्रशासनिक टीमें अलर्टHamirpur: आकाशीय बिजली गिरने से बेटे की मौत, मां की हालत गंभीरAgra: किसान आंदोलन के मद्देनजर रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजामAgra: युवक के ऊपर टूट कर गिरा बिजली का तार, करंट लगने से युवक की मौतJhansi: रजत पदक विजेता शैली सिंह का गुरु पद्मश्री अंजु बॉबी जार्ज के साथ हुआ भव्य सम्मानआगरा: सरकारी हैडपम्प पर दो पक्षों में हुआ विवाद, दबंगों ने युवती को जमकर पीटा

Siddharthnagar: प्रधानमंत्री आवास योजना से वंचित महिला, प्रधान पर लगाया आरोप

चदंन कुमार श्रीवास्तव, सिद्धार्थनगर

Siddharthnagar: प्रधानमंत्री आवास योजना गरीबों का आसरा है। इस योजना के तहत हर गरीब परिवार को अपना आवास मिलें। इसके लिए केंद्र व राज्य सरकार मिलकर गरीबों के सपने को पूरा करने में सतत कार्य कर रहें हैं। लेकिन भ्रष्टाचार के द्वारा अस्थानीय प्रधान और अधिकारी इतनी आकर्षक योजना को हर गरीब तक नहीं पहुचने दे रहे है।

ताजा मामला सिद्धार्थनगर जिले के डुमरियागंज ब्लॉक के गरदहिया गांव का है। जहां पर एक विधवा महिला आमिना लोहे की टीनसेड के बने मकान में अपना जीवन यापन कर रही है। जिसकी प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता सूची 2020-21 के लिस्ट में आवास का लाभ मिला। आवास के लिए फोटो भी खींचा गया। लेकिन खाते में पैसा ना आकर किसी दूसरे के अकाउंट में पैसा भेज दिया गया। जिसकी जानकारी होने पर महिला ने अधिकारियों का दरवाजा खटखटाया और स्थानीय डुमरियागंज विधायक से शिकायत की। इस दौरान विधायक ने अपने लेटर पैड़ पर जांच कर कार्यवाही करने के आदेश दिए लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नही की गई। पीड़िता आमिना ने कहा कि मेरा आवास पास हुआ था और फ़ोटो भी खींचा गया। लेकिन पूर्व प्रधान और अधिकारियों की मिलीभगत की वजह मेरे बैंक खाते रूपए आने की बजाए दूसरे के खाते में भेज दिए गये है। DM दीपक मीणा ने बयान देते हुए कहा कि जांच की जाएगी। अगर दूसरे के खाते में पैसा गया है तो, कोशिश करेंगे कि जो लाभार्थी है। उसी के खाते में ही पैसा जाए।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities