ब्रेकिंग
अयोध्या का किन्नर समाज गरीबों की सहायता करने में तत्परAuraiya: बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, अधेड़ हुआ घायलAuraiya: सवारियों से भरी बस खाई में गिरी, 20 यात्री हुए घायलAgra: बेटों ने नहीं दिया सम्मान तो पिता ने संपत्ति की डीएम के नामHamipur: हाईवे पर हुई दो दुर्घटनाएं, तीन लोग हुए घायलHamirpur: ट्रक ने बाइक सवार पिता-पुत्र को रौंदा, मौके पर हुई मौतHamirpur: विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरु, जनपद को नौ जोन और 42 सेक्टर में बांटा गयामहोबा दौरे पर प्रियंका गांधी, प्रतिज्ञा रैली को करेंगी सम्बोधितHamirpur: शहर के बीच जेल तालाब में आग लगने से हड़कंप, बड़ा हादसा टलाJaunpur: पुलिस चौकी में घुसा ट्रक, हादसे में 1 की मौत, एक पुलिसकर्मी घायल

Siddharthnagar: आशा संगिनियों ने चीफ फार्मासिस्ट पर लगाया अभद्र भाषा के इस्तेमाल का आरोप, दस्तक अभियान किया ठप

चंदन श्रीवास्तव, सिद्धार्थनगर

जहां एक तरफ सरकार संचारी रोग नियंत्रण अभियान के तहत गांव-गांव दस्तक अभियान चलाकर रोग नियंत्रण की कोशिश में लगी है। वहीं सिद्धार्थनगर जिले में आशा संगिनियों ने दस्तक अभियान को ठप कर दिया है। इन आशा संगिनियों का आरोप है कि चीफ फार्मासिस्ट उनके साथ अभद्र भाषा का प्रयोग करते हैं। नाराज आशा संगिनियों ने सीएससी अस्पताल के सामने प्रदर्शन कर चीफ फार्मासिस्ट को हटाने की मांग की है। आशा संगिनियों ने जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बसंतपुर में सैकड़ों की संख्या में इकठ्ठा होकर अपना विरोध जताया और दस्तक अभियान को ठप कर अस्पताल के सामने प्रदर्शन किया। सभी आशा संगिनी चीफ फार्मासिस्ट को हटाने की मांग पर अड़ी हैं। आशा संगिनियों के संगठन की जिलाध्यक्ष विनीता मिश्रा ने आरोप लगाया कि उन्होंने अपनी बात अधीक्षक के सामने भी रखी लेकिन उन्होंने आरोपी चीफ फार्मासिस्ट पर कोई कार्रवाई नहीं की। जिसके बाद उन्हें मजबूर होकर विरोध प्रदर्शन करना पड़ा। वहीं, इस मामले में चीफ फार्मासिस्ट का कहना है कि आरोप निराधार है मैं महिलाओं का सम्मान करता हूं। मतलब साफ है कि अगर जल्द ही इन आशा संगिनियों की नाराजगी दूर नहीं की गई तो सरकार के महत्वाकांक्षी अभियान दस्तक को बड़ा नुकसान पहुंचेगा। अब ये जिम्मेदारी अधीक्षक के ऊपर है कि वो कैसे इस विरोध को शांत करते हैं।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities