बड़ी ख़बरें
एक दुनिया का सबसे बड़ा ग्लोबल लीडर तो दूसरा देश का सबसे पॉपुलर पॉलिटिशियन, पर दोनों ‘आदिशक्ति’ के भक्त और 9 दिन बिना अन्न ‘दुर्गा’ की करते हैं उपासना, जानें पिछले 45 वर्षों की कठिन तपस्या के पीछे का रहस्यअब सिल्वर स्क्रीन पर दिखाई देगी निरहुआ के असल जिंदगी के अलावा उनकी रियल लव स्टोरी की ‘एबीसीडी’, शादी में गाने-बजाने वाला कैसे बना भोजपुरी फिल्मों का सुपरस्टार के साथ राजनीति का सबसे बड़ा खिलाड़ीटीचर की पिटाई से छात्र की मौत के चलते उग्र भीड़ ने पुलिस पर पथराव के साथ जीप और वाहनों में लगाई आग, अखिलेश के बाद रावण की आहट से चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनातकुंवारे युवक हो जाएं सावधान आपके शहर में गैंग के साथ एंट्री कर चुकी है लुटेरी दुल्हन, शादी के छह दिन के बाद दूल्हे के घर से लाखों के जेवरात-नकदी लेकर प्रियंका चौहान हुई फरारअपने ही बेटे के बच्चे की मां बनने जा रही ये महिला, दादी के बजाए पोती या पौत्र कहेगा अम्मा, हैरान कर देगी MOTHER  एंड SON की 2022 वाली  LOVE STORYY आस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाकेदार जीत के बाद भी कैप्टन रोहित शर्मा की टेंशन बरकरार, टी-20 वर्ल्ड कप से पहले हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार समेत ये क्रिकेटर टीम इंडिया से बाहरShardiya Navratri 2022 : अकबर और अंग्रेजों ने किया था मां ज्वालाजी की पवित्र ज्योतियां बुझाने का प्रयास, माता रानी के चमत्कार से मुगल शासक और ब्रिटिश कलेक्टर का चकनाचूर हो गया था घमंडबीजेपी नेता का बेटे वंश घर पर अदा करता था नमाज, जानिए कापी के हर पन्ने पर क्यों लिखता था अल्हा-हू-अकबर17 माह तक एक कमरे में पति की लाश के साथ रही पत्नी, बड़ी दिलचस्प है विमलेश और मिताली के मिलन की लव स्टोरी‘शर्मा जी’ ने महेंद्र सिंह धोनी के 15 साल पहले लिए गए एक फैसले का खोला राज, 22 गज की पिच पर चल गया माही का जादू और पाकिस्तान को हराकर भारत ने जीता पहला टी-20 वर्ल्ड कप

पाई-पाई के मोहताज हैं विनोद कांबली, महज 1000 रुपये है प्रतिदिन की कमाई, गरीबी आई तो करीबी दोस्त सचिन तेंदुलकर ने भी दूरी बनाई

मुम्बई। टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और विनोद कांबली ने एक साथ क्रिकेट की शुरूआत की थी। लेफ्ट हैंड बल्लेबाज कामली ने मुम्बई की तरफ से खेलते हुए सचिन से ज्यादा एक पारी में रन बनाए। भारतीय टीम में आने के बाद कांबलीकी कमाई करोड़ों में थी। मीडिया रिपोर्ट्स को मानें तो विनोद कांबली की आमदनी से सचिन से काफी आगे थी। लेकिन अब हालात बदल गए हैं। टीम इंडिया का ये धाकड़ बल्लेबाज इनदिनों पाई-पाई के लिए मोहताज है। रिपोर्ट की मानें तो विनोद कांबली की प्रतिदिन की कमाई महज 1000 हजार रुपये है। जिससे उनका जीवन-यापन मुश्किल होता जा रहा है। ये पैसे उन्हें बीसीसीआई की तरफ से बतौर पेंशन के तौर पर मिलती है। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो सचिन तेंदुलकर भी गरीबी के वक्त अपने सबसे करीबी दोस्त से दूरी बना ली है।

कभी लाखों में भी आमदनी
क्रिकेट की पिच पर बॉलरों के छक्के छुटाने वाले विनोद कांबली कभी लाखों में कमाते थे, लेकिन आज पाई-पाई को मोहताज हो गए और काम की तलाश कर रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो विनोद कांबली को जो पेंशन बीसीसीआई की तरफ से मिलती है, उसी से घर-गृहस्थी चला रहे हैं। वह निजी कार के बजाए कैब में सफर करते हैं। इतना ही नहीं, बाजार के अलावा अन्य इलाकों में जाने के लिए उन्होंने साइकिल भी खरीदी हुई है।

गुरु रमाकांत आचरेकर कर चुके हैं तारीफ
18 जनवरी 1972 को मुंबई में जन्मे विनोद कांबली और सचिन तेंदुलकर के गुरु रमाकांत आचरेकर ने भी मास्टर ब्लास्टर से ज्यादा टैलेंटेड कांबली को ही माना था। कांपली धाकड़ बल्लेबाज थे। लेकिन किस्मत का खेल देखें, आज वह एक-एक पैसे के लिए मोहताज हैं। जबकि सचिन आसमान की बुलंदियों पर पहुंच गए हैं। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो विनोद कांबली की नेट वर्थ 1 से 1.5 मिलियन डॉलर के बीच है। 2022 की शुरुआत में आए डाटा के अनुसार, उनकी सालाना आय सिर्फ 4 लाख रुपये ही रह गई है। हालांकि, उनके पास मुंबई में खुद का घर है। साथ ही उनके पास रेंज रोवर कार है।

केरोना महामारी के चलते हालत खराब हुई
विनोद कांबली ने क्रिकेट से दूर होने के बाद भी कुछ समय तक उनके पास कमाई के कई साधन मौजूद रहे। जैसे उन्होंने क्रिकेट मैचों में कमेंट्री की, विज्ञापनों में काम किया। फिल्मों में एक्टिंग करते हुए भी कमाई की। कोरोना महामरी के बाद से उनकी हालत लगातार खस्ता होती गई।. कमाई का जरिया बंद हो जाने के चलते अब उन्हें कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

सचिन को उनके हालातों के बारे में सब पता है
कांबली ने मीडिया को बताया है कि उनके पूर्व साथी और दोस्त सचिन तेंदुलकर को भी उनके हालात के बारे में पता है, लेकिन वह उनसे कोई उम्मीद नहीं लगा रहे हैं क्योंकि सचिन ने उनकी काफी मदद की है। उन्होंने बताया है कि फिलहाल कई माह से सचिन से उनकी बातचीत नहीं हुई। न ही उन्होंने मुझे फोन किया। विनोद कांमली ने बताया है कि, आमदनी के सारे रास्ते बंद हो जाने के बाद जिंदगी कठिन हो गई है। लेकिन उम्मीद करता हूं कि फिर से दिन बहुंरेंगे।

मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन से मांगा काम
विनोद कांबली ने अपनी आर्थिक स्थिति के बारे में पूरी जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि मैं सुबह 4 बजे उठता था, डीवाई पाटिल स्टेडियम तक कैब से जाता था। उसके बाद शाम को बीकेसी ग्राउंड में सिखा था, जो काफी मुश्किल काम था। विनोद कांबली ने बताया कि मैं सिर्फ बीसीसीआई की पेंशन पर निर्भर हूं। मैं मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के पास भी काम के लिए गया था। मैं उम्मीद करता हूं कि मुझे कोई काम मिल पाएगा।

2000 में आखिरी वनडे मैच खेला
टीम इंडिया में शामिल रहते हुए विनोद कांबली ने भारत के लिए कुल 104 वनडे मैच, जबकि 17 टेस्ट मैच खेले हैं। उन्होंने भारत के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट में कुल 3,561 रन बनाए हैं, इनमें चार शतक टेस्ट में और दो शतक वनडे में शामिल हैं। विनोद कांबली ने भारत के लिए 1991 में वनडे डेब्यू किया था, जबकि साल 2000 में उन्होंने अपना आखिरी वनडे मैच खेला था।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities