ब्रेकिंग
Siddharthnagar: बिजली के खंभे से गिरने पर विद्युत कर्मचारी की मौत, नाराज लोगों ने दिया धरनाAuraiya: राजा भैया ने किया रोड शो, विधानसभा चुनाव के लिए कार्यकर्ताओं में भरा जोशइस शहर को कहा जाता है विधवा महिलाओं की घाटीAgra: बच्चों से भरी वैन के गड्ढे में गिरने से हुआ हादसाJhansi: युवा मोर्चा की जिला झाँसी महानगर कार्यसमिति की बैठक हुई सम्पन्नHamirpur: NH34 पर अतिक्रमण हटाने पहुंची कंपनी, विधायक ने मांगी मोहलतAyodhya: पांचवे दीपोत्सव को भव्य बनाने के लिए अवध यूनिवर्सिटी में तैयारी शुरूEtah: 100 प्रतिशत टीकाकरण करवा कर ग्रामीणों ने की मिसाल कायमMahoba: झाड़ियों में लावारिस पड़ा मिला नवजात शिशु, गांव में एक साल के अंदर यह दूसरी घटनाMahoba: सिंचाई विभाग का अजब कारनामा, मृतक किसानों के खिलाफ पुलिस को दी तहरीर

काबुल में पाक मुर्दाबाद के नारों से बौखलाया तालिबान

काबुल में पाकिस्तान के विरुद्ध हो रहे प्रदर्शन को खत्म करने के लिए तालिबान ने गोलीबारी शरू कर दी। सूत्रों के मुताबिक, महिलाएं और  पुरुष सैकड़ों की संख्या में एकजुट होकर पाकिस्तान का विरोध करते हुए राष्ट्रपति भवन की ओर बढ़ रहे थे, जिनका पीछा करने के लिए तालिबानी लड़ाकों ने फायरिंग शुरू कर दी। इससे अराजकता फैल गई। 

आपको बता दें कि अफगानिस्तान में पाकिस्तान को घोर विरोध सहन करना पड़ रहा है। काबुल में सोमवार देर रात पाकिस्तान मुर्दाबाद और आईएसआई चीफ की वापसी के नारे भी लगे थे। वहीं, काबुल में राष्ट्रपति भवन के पास सेरेना होटल भी है। इसी होटल में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के चीफ फैज हमीद रुका हुआ हैं। इसी होटल की तरफ प्रदर्शनकारी बढ़ रहे थे। 

पंजशीर में पाकिस्तान को तालिबान की सहायता करना भारी पड़ गया है। नॉदर्न अलायंस के तालिबानी लड़ाकों के विरुद्ध पाकिस्तानी वायु सेना के जरिये बीते दिनों किए गए हमलों के बाद अफगानिस्तान में उसका खुलकर विरोध होने लगा है। काबुल में इसका परिणाम भी देखने को मिला। अफगानी महिलाएं पाकिस्तान और आईएसआई चीफ के विरुद्ध सड़क पर उतर आईं। प्रदर्शनकारियों ने जमकर पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए और आईएसआई चीफ फैज हमीद के वापस जाने की मांग की। 

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities