बड़ी ख़बरें
एक दुनिया का सबसे बड़ा ग्लोबल लीडर तो दूसरा देश का सबसे पॉपुलर पॉलिटिशियन, पर दोनों ‘आदिशक्ति’ के भक्त और 9 दिन बिना अन्न ‘दुर्गा’ की करते हैं उपासना, जानें पिछले 45 वर्षों की कठिन तपस्या के पीछे का रहस्यअब सिल्वर स्क्रीन पर दिखाई देगी निरहुआ के असल जिंदगी के अलावा उनकी रियल लव स्टोरी की ‘एबीसीडी’, शादी में गाने-बजाने वाला कैसे बना भोजपुरी फिल्मों का सुपरस्टार के साथ राजनीति का सबसे बड़ा खिलाड़ीटीचर की पिटाई से छात्र की मौत के चलते उग्र भीड़ ने पुलिस पर पथराव के साथ जीप और वाहनों में लगाई आग, अखिलेश के बाद रावण की आहट से चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनातकुंवारे युवक हो जाएं सावधान आपके शहर में गैंग के साथ एंट्री कर चुकी है लुटेरी दुल्हन, शादी के छह दिन के बाद दूल्हे के घर से लाखों के जेवरात-नकदी लेकर प्रियंका चौहान हुई फरारअपने ही बेटे के बच्चे की मां बनने जा रही ये महिला, दादी के बजाए पोती या पौत्र कहेगा अम्मा, हैरान कर देगी MOTHER  एंड SON की 2022 वाली  LOVE STORYY आस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाकेदार जीत के बाद भी कैप्टन रोहित शर्मा की टेंशन बरकरार, टी-20 वर्ल्ड कप से पहले हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार समेत ये क्रिकेटर टीम इंडिया से बाहरShardiya Navratri 2022 : अकबर और अंग्रेजों ने किया था मां ज्वालाजी की पवित्र ज्योतियां बुझाने का प्रयास, माता रानी के चमत्कार से मुगल शासक और ब्रिटिश कलेक्टर का चकनाचूर हो गया था घमंडबीजेपी नेता का बेटे वंश घर पर अदा करता था नमाज, जानिए कापी के हर पन्ने पर क्यों लिखता था अल्हा-हू-अकबर17 माह तक एक कमरे में पति की लाश के साथ रही पत्नी, बड़ी दिलचस्प है विमलेश और मिताली के मिलन की लव स्टोरी‘शर्मा जी’ ने महेंद्र सिंह धोनी के 15 साल पहले लिए गए एक फैसले का खोला राज, 22 गज की पिच पर चल गया माही का जादू और पाकिस्तान को हराकर भारत ने जीता पहला टी-20 वर्ल्ड कप

जेम-टीटीपी के आतंकी को मिला था नूपुर को फिदायीन हमले से मारने का टॉस्क, सैफुल्ला ने इंटरनेट के जरिए वारदात को अंजाम देने की दी थी ट्रेनिंग, पढ़ें टेररिस्ट के कबूलनामें की ‘चार्जशीट’

लखनऊ। उत्तर प्रदेश एटीएस ने सहारनपुर जनपद से जैश-ए-मोहम्मद व तहरीक-ए-तालिबान आतंकी संगठन से जुड़े दो आतंकवादी को गिरफ्तार किया है। एक आतंकवादी ने पूछताछ में कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। बताया है कि, पाकिस्तान में बैठे कमांडर ने उसे बीजेपी के पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा को मारने का टॉस्क दिया था। इसके लिए हैंडलर उसे इंटरनेट के जरिए फिदाइन हमले की ट्रेनिंग भी दी थी। साथ ही युवकों को ज्यादा से ज्यादा आतंकी संगठन में जोड़ने को कहा गया था।

यूपी एटीएस का सूचना मिली थी कि सहारनपुर जनपद में दो आतंकवादी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते हैं। एटीएस ने दोनों आतंकियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आतंकियों में से एक का नाम मोहम्मद नदीम है जो पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद और तहरीख-ए-तालिबान से सीधे संपर्क में था। उसे नूपुर शर्मा को मारने का काम दिया गया था, लेकिन टास्क पूरा होने से पहले आतंकी धर दबोचे गए।

गंगोह थाना क्षेत्र स्थित कुंडा कला गांव के रहने वाले नदीम के कब्जे से एक मोबाइल, दो सिम तथा प्रशिक्षण साहित्य बरामद हुआ है। बरामद साहित्य में विभिन्न प्रकार की आईईडी एवं बम बनाने की तकनीकी तथा फिदायीन हमले से संबंधित प्रशिक्षण कोर्स की सामग्री शामिल है। पूछताछ में पता चला कि नदीम जेम और टीटीपी के आतंकवादियों से सीधे संपर्क में था और फिदायीन हमले की तैयारी कर रहा था। एटीएस ने उसके विरुद्ध अपने लखनऊ थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है।

मुहम्मद नदीम के पास से प्राप्त मोबाइल फोन के प्रारंभिक निरीक्षण में एक पीडीएफ डाक्यूमेंट पाया गया, जिसका शीर्षक ‘एक्सप्लोसिव कोर्स फिदाए फोर्स था। इसके अलावा नदीम के फ़ोन से पाकिस्तान एवं अफगानिस्तान के जेम व टीपीपी के आतंकियों से चैप एवं वॉयस मैसेज भी मिले। नदीम स्थानीय युवकों को जेहाद के नाम पर भड़का कर अपने साथ जोड़ रहा था। उसके संपर्क में आए युवकों के बारे में एटीएस जांच-पड़ताल कर रही है।

पूछताछ में नदीम ने बताया कि वह 2018 से दोनों संगठनों के विभिन्न आतंकवादियों से व्हाट्सअप, टेलीग्राम, आईएमओ, फेसबुक मैसेंजर और क्लब हाउस आदि सोशल मीडिया माध्यमों से संपर्क में था। नदीम ने एटीएस को बताया कि अफगानिस्तान व पकिस्तान में सक्रिय जेम व टीपीपी के आतंकवादी उसे स्पेशल ट्रेनिंग लेने के लिए पाकिस्तान बुला रहे थे। वह वीज़ा लेकर पाकिस्तान जाने वाला था, जहां व जेम की आतंकी ट्रेनिंग लेता।

नदीम ने यह भी स्वीकार किया कि पाकिस्तान के जेम के एक आतंकी ने उसे नूपुर शर्मा की हत्या करने का टास्क भी दिया था। जिसकी वह कई दिनों से तैयारी कर रहा था। आतंकवादी ने बताया है कि, वह नूपुर शर्मा पर फिदायिन हमले का प्लान बनाया था। इसके अलावा आतंकी चाकू के जरिए भी हमले की योजना पर काम कर रहा था। एटीएस की पूछताछ में आतंकी ने कबूला है कि, पाकिस्तान में बैठे आका उसे हर हाल में नूपुर शर्मा को मारने के आदेश दिए थे।

पूछताछ में एटीएस को यह जानकारी भी मिली है कि पाकिस्तानी आतंकवादियों से उसने वर्चुअल नंबर बनाने का प्रशिक्षण प्राप्त किया है। नदीम ने इन आतंकियों को 30 से अधिक वर्चुअल नंबर और वर्चुअल सोशल मीडिया आईडी बनाकर उपलब्ध कराए हैं। टीटीपी के आतंकी सैफुल्ला (पाकिस्तानी) ने नदीम को फिदायीन हमले के लिए प्रशिक्षण साहित्य सोशल मीडिया के माध्यम से उपलब्ध कराया था। इसे पढ़ने के बाद वह इससे संबंधित सामग्री जुटाने की फ़िराक में था, जिससे वह किसी सरकारी भवन अथवा पुलिस परिसर पर फिदायीन हमला कर सके।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities