ब्रेकिंग
खनन माफिया हाजी इकबाल और उसके बहनोई दिलशाद पर योगी सरकार ने कसा शिकंजा, बुलडोजर और संपत्ति पर एक्शन के बाद पुलिस ने किया अब तक का सबसे बड़ा ‘प्रहार’5 लाख की सुपारी लेकर इन खूंखार शूटर्स ने मध्य प्रदेश की पूजा मीणा का किया मर्डर, पति ने हत्या की पूरी फिल्मी कहानी बयां की तो ये चार लोग गदगदडेढ़ करोड़ के जेवरात मैंने नहीं किए पार प्लीज छोड़ दे ‘साहब’ पर नहीं माना थानेदार और थाने में मजदूर की दर्दनाक मौतAzadi ka Amrit Mahotsav : मरी नहीं जिंदा है दूसरा ’जलियां वाला बाग’ की गवाह ‘इमली’ जिस पर एक साथ 52 क्रांतिकारियों को दी गई थी फांसीSawan Special Story 2022 : यूपी के इस शहर में भू-गर्भ से प्रकट हुए नीलकंठ महादेव, महमूद गजनवी ने शिवलिंग पर खुदवा दिया ‘लाइलाह इलाल्लाह मोहम्मद उर रसूलल्लाह‘बीजेपी नेता बीएल वर्मा के जन्मदिन पर पीएम मोदी ने खास अंदाज में दी बधाईजनिए किस मामले में मंत्री राकेश सचान पर कोर्ट ने फैसला किया सुरक्षित, सपा ने ट्वीटर पर क्यों लिखा ‘गिट्टी चोर’देश के अगले उपराष्ट्रपति होंगे जगदीप धनखड़, वकालत से लेकर सियासत तक जाट नेता का ऐसा रहा सफरबीच सड़क पर आपस में भिड़े पुलिसवाले और एक-दूसरे को जड़े थप्पड़ ‘खाकीधारियों के दगंल’ की पिक्चर हुई रिलीज तो मच गया हड़कंपनदी के बीच नाव पर पका रहे थे भोजन तभी फटा गैस सिलेंडर, बालू के अवैध खनन में लगे पांच मजदूरों की जलकर दर्दनक मौत

राजस्थान के दूसरे जिलों तक पहुंची जोधपुर हिंसा की आग, भीलवाड़ा में तनाव, इंटरनेट सेवा बंद, 32 थानों की पुलिस तैनात

भीलवाड़ा । जोधपुर के बाद भीलवाड़ा में बुधवार देर रात तनाव फैल गया। हालात को देखते हुए पहले शहर में फिर गुरुवार सुबह पूरे जिले में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है। हालात उस वक्त बिगड़े जब दो युवकों के साथ एक दर्जन से ज्यादा नकाबपोशों ने पहले मारपीट की और बाद में बाइक जला दी। दोनों घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उनकी हालत खतरे से बाहर है। युवकों पर हमले की अभी तक कोई स्पष्ट वजह सामने नहीं आई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

150 से ज्यादा जवानों को तैनात किया गया
पुलिस के मुताबिक घटना बुधवार रात करीब दस बजे की है। यहां सांगानेर के करबला रोड पर बैठे हुए दो युवक आजाद और सद्दाम पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। सूचना मिलने पर पुलिस सीओ सदर, एसडीएम और सुभाष नगर थानाधिकारी मौके पर पहुंचे।
शुरुआत में कुछ लोगों ने हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर घायलों को अस्पताल ले जाने से मना कर दिया। मगर, बाद में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के समझाने पर दोनों घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। एहतियात के तौर पर सांगानेर इलाके में 33 थानों के 150 से ज्यादा जवानों को तैनात किया गया है।

कलेक्टर ने की शांति की अपील
जिला कलेक्टर आशीष मोदी ने शहरवासियों से अपील की है कि वो अफवाहों पर ध्यान न दें। साथ ही शहर में शांति-व्यवस्था को कायम रखें और प्रशासन का पूर्ण सहयोग करें। आपतो बता दें कि भीलवाड़ा का उपनगर सांगानेर काफी संवेदनशील क्षेत्रों में माना जाता है। राजस्थान में करौली, अलवर, जोधपुर और अब भीलवाड़ा में माहौल खराब करने की कोशिश के तौर पर इस घटना को देखा जा रहा है।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities