बड़ी ख़बरें
Mainpuri Election 2022: Shivpal Akhilesh में हो गई सुलह , सपा में तय हो गई चाचा की भूमिका, Up की कमान अब Shivpal और Delhi की संभालेंगे अखिलेश !Mainpuri Exit Poll : शिवपाल यादव के ‘खेला’ से बदल गई एक्जिट पोल की तस्वीर, मैनपुरी लोकसभा सीट पर नेता जी के चेले से आगे निकलीं ‘डिप्पल बहू’कौन है वो Nukush Fatima जिसकी एक गुहार में Cm Yogi ने प्रशासन की लगा दी क्लास और 24 घंटे में वो कर दिया जो 20 सालों में नही हो पाया !अब फातिमा का परिवार Yogi को दे रहा है दुआएं !आज पूरा देश #RohiniAcharyaको कर रहा है सलाम,Lalu की बेटी ने अपनी किडनी देकर पिता को दी नई जान !Gujrat के बेटे ने बदल दी सियासी बाजी ,सातवीं बार फिर गुजरात में खिलेगा कमल Congress के बयानवीरों ने फिर डुबोई कांग्रेस की लुटिया !Irfan Solanki News : कानून के शिकंजे से घबराए इरफान सोलंकी ने भाई समेत किया सरेंडर, पुलिस कमिश्नर आवास के बाहर फूट-फूट कर रहे विधायक, जानें किन धाराओं में दर्ज है FIRPM Modi Roadshow : गुजरात विधानसभा चुनाव में प्रचंड मतदान के बाद पीएम नरेंद्र मोदी का मेगा रोड शो, 3 घंटे में 50 किमी से अधिक की दूरी के साथ ‘नमो’ का विपक्ष पर ‘हल्लाबोल’‘बाहुबली’ पायल भाटी ने ‘बदलापुर’ के लिए रची हैरतअंगेज कहानी, हेमा का कत्ल करने के बाद पुलिस से इस तरह बचती रही बडपुरा गांव की ‘किलर लेडी’Gujarat Assembly Election 2022 : गुजरात में है आजाद भारत का ऐसा पोलिंग बूथ, जहां सिर्फ एक वोटर जो 500 शेरों के बीच करता वोट, लोकतंत्र के त्योहार की बड़ी दिलचस्प है स्टोरीगुजरात में किस दल की बनेगी ‘सरकार’ को लेकर जारी है मदतान, रवींद्र जडेजा की पत्नी समेत इन 10 दिग्गज चेहरों के साथ मोरबी हादसे में नायक बनकर उभरे इस नेता पर सबकी नजर

विकास दुबे और कानपुर के इस अपराधी की एक ही कहानी, मामा से अपराध का ‘ककहरा’ सीख बना जरायम की दुनिया का ‘बाहुबली’

कानपुर। पुलिस एनकाउंटर में मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे और कुख्यात अपराधी पप्पू स्मार्ट की अपराध की कहानी बिलकुल मिलती जुलती है। जिस तरह से विकास के मामा ने उसे क्राइम की ‘एबीसीडी’ पढ़ाई, उसी तरह कानपुर के पप्पू को भी उसके सगे मामा ने अपराध का ‘ककहरा’ पढ़ा जरायम की दुनिया का ‘बाहुबली’ बना दिया। 22 साल के अंदर उसने करोड़ों की संपत्ति अर्जित की और गरीबों की जमीनों पर कब्जा कर वहां अवैध निर्माण करवा लिए। अब शातिर अपराधी पर योगी सरकार ने शिकंजा कसते हुए उसके द्धारा नाले पर बनाई गई आठ दुकानों को बुलडोजर से ढहा दिया है। इसके अलावा पुलिस-प्रशासन पप्पू स्मार्ट की आधा दर्जन से अधिक संपत्तियों को खंगाल रही हैं और आने वाले दिनों में बड़ा एक्शन हो सकता है।

कौन है गैंगस्टर पप्पू स्मार्ट
गैंगस्टर पप्पू स्मार्ट बड़ा भूमाफिया है। एक समय में उसने राजा ययाति के किले पर भी अपना कब्जा जमा लिया था। करीब चार साल पहले पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई कर किला खाली कराया। पप्पू के पिता मोची थे, लेकिन उसने अपराध के जरिये अकूत संपत्ति बनाई थी। पप्पू स्मार्ट वर्तमान में बसपा नेता पिंटू सेंगर हत्याकांड के मामले में जेल में बंद है। उस पर गैंगस्टर, एनएसए की कार्रवाई की जा चुकी है। प्रशासन के साथ पुलिस ने भी उसकी अवैध संपत्तियां चिन्हित की हैं। जिन पर बुलडोजर चला है। पप्पू स्मार्ट मामूली परिवार से है। लेकिन राजनीतिक संरक्षण व आपराधिक प्रवृत्ति के जरिये उसने करोड़ों रुपये की संपत्ति बनाई।

मोची की दुकान पर बैठते थे चारों भाई
आज से 22 साल पहले पप्पू स्मार्ट और उसके चारों भाई आमिर बिच्छू, शोएब पप्पी और तौसीफ कक्कू अपने पिता मोहम्मद सिद्दीकी की हरजेंदर नगर चौराहे पर स्थित मोची की दुकान पर बैठकर हाथ बटाते थे। पप्पू का मामा रियाजुद्दीन उर्फ छज्जू कबूतरी अनवरगंज का हिस्ट्रीशीटर था और अपने जमाने में बड़ा ड्रग्स तस्कर माना जाता था। छज्जू कबूतरी से ही चारों भाइयों ने अपराध का ककहरा सीखा। मोहम्मद आसिफ उर्फ पप्पू स्मार्ट के खिलाफ पहला केस 21 साल पहले कोहना थाने में दर्ज हुआ था। इसके बाद ये सिलसिला जारी रहा। वर्तमान में उस पर 17 केस दर्ज हैं। पप्पू पर बसपा नेता की हत्या का आरोप है और इसी मामले पर शातिर अपराधी सलाखों के पीछे है।

सरदार के मकान पर किया कब्जा
पप्पू स्मार्ट और उसके भाईयों ने मामा की मदद से एक सरदार परिवार को प्रताड़ित करना शुरू किया। ऐसे सरदार परिवार घर छोड़कर पंजाब पलायन कर गया। इस मकान पर पप्पू और उसके चारों भाइयों ने कब्जा कर जूते का शोरूम खोला, जिसका नाम रखा स्मार्ट शू हाउस। दुकान की वजह से आसिम उर्फ पप्पू का नाम पप्पू स्मार्ट पड़ गया। इसके बाद तो चारों भाइयों ने पीछे मुड़कर नहीं देखा। इनका मुख्य व्यवसाय विवादित जमीनों पर कब्जा करना या। एक के बाद एक इन चारों भाइयों ने जाजमऊ, हरजेंदर नगर व अन्य क्षेत्रों में दर्जनों की संख्या में अवैध संपत्तियों पर कब्जा कर बड़ा कारोबार खड़ा कर लिया। दिखावे के लिए इन्होंने चमड़ा कारोबारी का चोला ओढ़ा, लेकिन असलियत इससे बिल्कुल विपरीत है।

बेटे ने संभाली गैंग की कमान
आपराधिक गतिविधियों से करोड़ों की संपत्ति अर्जित करने की वजह से ही पूर्व आइजी आलोक सिंह एवं तत्कालीन एसपी अनुराग आर्य ने गैंगस्टर के तहत पप्पू स्मार्ट पर कार्रवाई की और इसकी तमाम संपत्तियों को सीज भी किया गया। जेल जाने के बाद से पप्पू स्मार्ट का बेटा जैन कालिया गिरोह की कमान संभाल रहा है। जैन कालिया के खिलाफ भी आधा दर्जन मुकदमे दर्ज हैं और पिछले सात वर्षों से वह फरार है।

 

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities