ब्रेकिंग
Auraiya: पिछड़ों को मंत्री बनाना भाजपा की चाल- त्रिवेणी पालTEAM INDIA का नया कोच: मुख्य कोच पद के लिए द्रविड़ ने किया आवेदनप्रमोशन में रिजर्वेशन मामला: केंद्र और राज्य सरकारों की दलीलें पूरी, सुप्रीम कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसलाSiddharthnagar: बिजली के खंभे से गिरने पर विद्युत कर्मचारी की मौत, नाराज लोगों ने दिया धरनाAuraiya: राजा भैया ने किया रोड शो, विधानसभा चुनाव के लिए कार्यकर्ताओं में भरा जोशइस शहर को कहा जाता है विधवा महिलाओं की घाटीAgra: बच्चों से भरी वैन के गड्ढे में गिरने से हुआ हादसाJhansi: युवा मोर्चा की जिला झाँसी महानगर कार्यसमिति की बैठक हुई सम्पन्नHamirpur: NH34 पर अतिक्रमण हटाने पहुंची कंपनी, विधायक ने मांगी मोहलतAyodhya: पांचवे दीपोत्सव को भव्य बनाने के लिए अवध यूनिवर्सिटी में तैयारी शुरू

Unnao: CDO ने ग्राम विकास अधिकारी को किया निलंबित, ट्रांसफर रुकवाने के लिए बना रहा था दबाव

निशानाथ पाण्डेय, उन्नाव

उन्नाव में एक ग्राम विकास अधिकारी को सीडीओ के ऊपर दबाव बनाना भारी पड़ गया। ये ग्राम विकास अधिकारी अपना ट्रांसफर रुकवाने के लिए उन्नाव के CDO दिव्यांशु पटेल पर राजनीतिक दबाव बनवा रहा था। लेकिन सीडीओ दिव्यांशु पटेल ने दबाव को ना मानते हुए अनुशासानहीनता के आरोप में संबंधित ग्राम विकास अधिकारी को निलंबित कर दिया। निलंबित किया गया ग्राम विकास अधिकारी उन्नाव के हसनगंज ब्लॉक में तैनात था। जिसका ट्रांसफर 12 अक्तूबर को ब्लॉक बीघापुर के लिए हुआ था। सचिव पर आरोप है कि स्थानांतरण रुकवाने के लिए उसने अधिकारियों पर राजनीतिक दबाव बनाना शुरू कर दिया। आरोपी जंगबहादुर ब्लॉक प्रमुख मीरा यादव के पति धीरेंद्र यादव के साथ सीडीओ से मिलने कार्यालय पहुंचे। सीडीओ ने बताया कि जंगबहादुर ने उनसे मिलने के लिए बीडीओ हसनगंज और बीघापुर से कोई अनुमति नहीं ली। यह अनुशासनहीनता है।

फिलहाल, आरोपी ग्राम विकास अधिकारी को निलंबित करके सुमेरपुर ब्लॉक में संबद्ध कर दिया गया है। साथ ही मामले की जांच बीडीओ सिकंदरपुर सरोसी को सौंप दी गई है, जो 15 दिन में अपनी रिपोर्ट पेश करेंगे।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities