बड़ी ख़बरें
Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी बोले कश्मीर मेरी टी शर्ट लाल करना हो कर दो… लेकिन बच्चों-बुजुर्गों ने आंसुओं से स्वागत कियाBBC Documentary: बीबीसी डॉक्यूमेंट्री मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट… याचिका दाखिल कर रोक हटाने की मांग… 6 फरवरी को होगी सुनवाईBharat Jodo Yatra: प्रियंका और राहुल गांधी बर्फबारी का लुफ्त  उठाते आए नजर… भाई-बहन ने एक दूसरे को बर्फ के गोले फेंककर मारे… वीडियो सोशल मीडिया पर वायरलExtended weekend: ‘पठान’ ने 5वें दिन तोड़े सभी रेकॉड… बॉलीवुड के इतिहास में वीकेंड में सर्वाधिक कमाई करने वाली बनी फिल्मBeating the Retreat Ceremony: बारिश के बीच बीटिंग द रिट्रीट सेरेमनी कार्यक्रम की शुरूआत… 3500 स्वदेशी ड्रोन आसमान दिखाएंगे इंडियन कल्चरRakhi mother passes away:राखी सावंत की मां का निधन… भावुक पोस्ट में रोते हुए दिखीं एक्ट्रेस… आखिरी समय में दर्द में थी मांNational Executive of SP declared: अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल को दी बड़ी जिम्मेदारी…. स्वामी प्रसाद मौर्य को भी मिली जगह… सपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी घोषितRohit Sharma: पाकिस्तान के बल्लेबाज शाहिद आफरीदी के इस रेकॉड पर रोहित शर्मा की नजर… इस साल टूट जाएगा रेकॉडIndia vs New Zealand T20 Series: टीम इंडिया सीरीज में वापसी करने उतरेगी… जाने क्या है इंडिया-न्यूजीलैंड की संभावित प्लेइंग-11Flag Hoisting at Lal Chowk: लाल चौक पर राहुल गांधी ने फहराया तिरंगा… पं नेहरू के बाद झंडा रोहण करने वाले राहुल बने दूसरे कांग्रेसी नेता

COVID 19 : नए साल से पहले कोरोना के BF7 वरिएंट की दस्तक से डरी पब्लिक, आइसोलेशन-सेनिटाइजेशन के साथ कोविड का बजा सायरन, खतरे को भांप हरकत में आई केंद्र से लेकर यूपी सरकार

लखनऊ। कोरोना वायरस की दूसरी लहर का वह मंजर आज भी देशभर के लोग नहीं भूले। श्मशान घाटों पर शवों का अंबार था। अस्पताल मरीजों से फुल थे। सांस के लिए ऑक्सीजन की मारा-मारी थी। सैकड़ों परिवारों ने अपने को खो दिया। बच्चे अनाथ हो गए, महिलाओं के माथे का सिंदूर उजड़ गया। कहीं-कहीं पूरा बागवां खतरनाक वायरस के चलते इस दुनिया को छोड़कर चला गया। कुछ ऐसे ही हालात फिर बनते दिख रहे हैं। चीन समेत दूनिया के पांच बड़े देशों में कोरोना ने फिर तेजी से पैर पसारने शुरू कर दिए हैं। जिसको लेकर केंद्र के साथ यूपी सरकार हरकत में आते हुए मास्क समेत कोविड प्रोटोकाल का पालन करने के आदेश आमजन को दिए हैं।

दरअसल, चीन में कोरोना ने एक बार फिर से कोहराम मचा रखा है। अगले तीन महीने के अंदर चीन के 80 करोड़ से ज्यादा लोगों के संक्रमित होने का खतरा मंडरा रहा है। दस लाख से ज्यादा लोगों की मौत की भी आशंका जताई गई है। एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया के बाकी देशों पर भी इसका बुरा असर पड़ सकता है। दुनिया के 10 प्रतिशत से ज्यादा लोग अगले तीन महीने के अंदर संक्रमण की चपेट में आ सकते हैं। जिसके चलते भारत में भी लोग दहशत में आ गए हैं। खतरे की गंभीरता को भांपते हुए केंद्र सरकार के अलावा देश के राज्यों की सरकारें अपने-अपने तरीके से अलर्ट मोड़ पर आ गई हैं।

चीन में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के लिए जिम्मेदार ओमिक्रोन के सब वैरिएंट बीएफ-7 के तीन मामले भारत में भी सामने आए हैं। आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी है। अधिकारियों ने बताया कि गुजरात जैव प्रौद्योगिकी अनुसंधान केंद्र ने भारत में बीएफ.7 के पहले मामले का पता लगाया था। उन्होंने कहा कि अब तक गुजरात से दो मामले सामने आए हैं, जबकि ओडिशा से एक मामला सामने आया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया की अध्यक्षता में बुधवार को हुई कोविड समीक्षा बैठक में विशेषज्ञों ने कहा कि हालांकि अब तक कोविड मामलों की संख्या में समग्र वृद्धि नहीं हुई है, लेकिन मौजूदा और उभरते स्वरूपों पर नज़र रखने के लिए निरंतर निगरानी की आवश्यकता है।

सूत्रों के अनुसार, चीन के विभिन्न शहर वर्तमान में कोविड के अत्यधिक संक्रामक वैरिएंट ओमीक्रॉन, ज्यादातर बीएफ.7, की चपेट में हैं, जो बीजिंग में फैलने वाला मुख्य वैरिएंट है। इसी के कारण चीन में कोविड संक्रमण के मामलों में व्यापक उछाल आया है। बता दें, बीएफ.7 ओमिक्रोन के वैरिएंट बीए.5 का सब वैरिएंट है और इसमें संक्रमण की व्यापक क्षमता होती है और इसकी इनक्यूबेशन अवधि कम होती है और इसमें पुनः संक्रमण पैदा करने या उन लोगों को भी संक्रमित करने की उच्च क्षमता होती है, जिन्हें टीका लगाया जा चुका है। यह अमेरिका, ब्रिटेन और बेल्जियम, जर्मनी, फ्रांस और डेनमार्क जैसे यूरोपीय देशों सहित कई अन्य देशों में पहले ही पाया जा चुका है।

चीन में कोरोना वायरस के मामलों को देखते हुए भारत सरकार एक्शन मोड में आ गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने चीन से आने वालों की एयरपोर्ट पर जांच करने को कहा है। अब चीन से आने वाले लोगों की जांच की जाएगी. मंत्रालय ने अधिकारियों को इससे जुड़े दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्र ने बताया है कि देश में अभी 10 अलग-अलग कोरोना के वैरिएंट हैं, इसमें सबसे ताजा वैरिएंट एफ.7 है। इसी के साथ देश में कहीं-कहीं डेल्टा वैरिएंट भी देखने को मिल रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा, “कोविड अभी खत्म नहीं हुआ है। मैंने सभी संबंधित विभागों को सतर्क रहने और निगरानी मजबूत करने का निर्देश दिया है।

चीन में कोविड का प्रकोप बढ़ने को लेकर यूपी के उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने प्रदेश भर में अलर्ट जारी किया गया है। स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा विभाग जाँच से लेकर उपचार तक की व्यवस्था शुरू करें। एयरपोर्ट पर चौकसी बढ़ा दी जाये। संक्रमण प्रभावित देशों की यात्रा से लौटे लोगों की जांच कराई जाये। कोरोना पॉजिटिव मरीजों की जिनोम सीक्वेंसिंग कराई जाए। ताकि वायरस के वैरिएंट का पता लगाया जा सके। बुधवार को उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने प्रदेश के सभी सीएमओ और चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों को सतर्कता बढ़ाने के निर्देश दिए हैं।

उप मुख्यमंत्री ने कहा है कि, सर्दी-जुकाम और बुखार समेत अन्य लक्षण वाले यात्रियों को चिन्हित करें। कोविड संदिग्ध के नमूने लेकर जांच कराई जाये। इस दौरान यात्रा से लौटे लोगों को होम आईसोलेशन में रहने की सलाह दी जाये। स्वास्थ्य विभाग विदेश की यात्रा से लौटे लोगों की सूची बनाये। 12 से 14 दिन तक उनकी सेहत का हाल लें। किसी भी तरह की परेशानी होने पर उन्हें उपचार उपलब्ध कराया जाये। जांच व उपचार के इंतजाम करें। कोविड संक्रमितों की भर्ती की व्यवस्था करें। ऑक्सीजन से लेकर आरटीपीसीआर, सीटी स्कैन, एक्सरे, पैथोलॉजी की जाँच से जुड़े संसाधनों की पर्याप्त व्यवस्था कर लें। मास्क, पीपीई किट व ग्लब्स आदि भी पर्याप्त मात्रा में जुटा लें। उपचार में इस्तेमाल होने वाली दवाओं की व्यवस्था करें।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities