बड़ी ख़बरें
एक दुनिया का सबसे बड़ा ग्लोबल लीडर तो दूसरा देश का सबसे पॉपुलर पॉलिटिशियन, पर दोनों ‘आदिशक्ति’ के भक्त और 9 दिन बिना अन्न ‘दुर्गा’ की करते हैं उपासना, जानें पिछले 45 वर्षों की कठिन तपस्या के पीछे का रहस्यअब सिल्वर स्क्रीन पर दिखाई देगी निरहुआ के असल जिंदगी के अलावा उनकी रियल लव स्टोरी की ‘एबीसीडी’, शादी में गाने-बजाने वाला कैसे बना भोजपुरी फिल्मों का सुपरस्टार के साथ राजनीति का सबसे बड़ा खिलाड़ीटीचर की पिटाई से छात्र की मौत के चलते उग्र भीड़ ने पुलिस पर पथराव के साथ जीप और वाहनों में लगाई आग, अखिलेश के बाद रावण की आहट से चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनातकुंवारे युवक हो जाएं सावधान आपके शहर में गैंग के साथ एंट्री कर चुकी है लुटेरी दुल्हन, शादी के छह दिन के बाद दूल्हे के घर से लाखों के जेवरात-नकदी लेकर प्रियंका चौहान हुई फरारअपने ही बेटे के बच्चे की मां बनने जा रही ये महिला, दादी के बजाए पोती या पौत्र कहेगा अम्मा, हैरान कर देगी MOTHER  एंड SON की 2022 वाली  LOVE STORYY आस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाकेदार जीत के बाद भी कैप्टन रोहित शर्मा की टेंशन बरकरार, टी-20 वर्ल्ड कप से पहले हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार समेत ये क्रिकेटर टीम इंडिया से बाहरShardiya Navratri 2022 : अकबर और अंग्रेजों ने किया था मां ज्वालाजी की पवित्र ज्योतियां बुझाने का प्रयास, माता रानी के चमत्कार से मुगल शासक और ब्रिटिश कलेक्टर का चकनाचूर हो गया था घमंडबीजेपी नेता का बेटे वंश घर पर अदा करता था नमाज, जानिए कापी के हर पन्ने पर क्यों लिखता था अल्हा-हू-अकबर17 माह तक एक कमरे में पति की लाश के साथ रही पत्नी, बड़ी दिलचस्प है विमलेश और मिताली के मिलन की लव स्टोरी‘शर्मा जी’ ने महेंद्र सिंह धोनी के 15 साल पहले लिए गए एक फैसले का खोला राज, 22 गज की पिच पर चल गया माही का जादू और पाकिस्तान को हराकर भारत ने जीता पहला टी-20 वर्ल्ड कप

197 करोड़ रुपए व 23 किलो सोना घर पर रखने वाले कारोबारी के आए अच्छे दिन, 8 माह बाद जेल से बाहर निकले ‘धनकुबेर’ के चेहरे में इत्र की ‘खुशबू’ जस की तस बरकरार

कानपुर। डीजीजीआई अहमदाबाद की टीम ने नामी इत्र कारोबारी पियूष जैन के कानपुर और कन्नौज स्थित घर पर छापा मारकर करीब 197 करोड़ रुपए की नकदी और 12 किलो सोना बरामद किया था। डीजीजीआई की तहरीर के आधार पर काकादेव पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी कारोबारी को जेल भेज दिया गया था। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पियूष जैन को जमानत दे दी थी। कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद गुरूवार को ‘धनकुबेर’ आठ माह के बाद जेल से बाहर आ गया। चेहरे पर उसके कोई टेंशन नहीं थी। चेहरे में मुस्कान और इत्र की खुशबू के साथ वह कार में सवार होकर अपने आवास लिए निकल गया।

कौन हैं पीयूष जैन
पीयूष जैन कन्नौज और कानपुर का एक बड़ा इत्र कारोबारी है। पीयूष का जन्म कन्नौज में हुआ था। पियूष का कानपुर के अलावा कन्नौज में भी एक घर है। जैन 40 से ज्यादा कंपनियों का मालिक है और चौंकाने वाली बात ये है कि इसकी दो कंपनियां मिडिल ईस्ट में भी मौजूद थीं। कन्नौज में जैन की इत्र फैक्ट्री के साथ ही कोल्ड स्टोरेज और पेट्रोल पंप भी मौजूद हैं। पीयूष ने अपनी कंपनियों का हैडऑफिस मुंबई में बना रखे थे और यहीं से इसकी कंपनी का इत्र विदेशों में एक्सपोर्ट होता था। जांच में पता चला था कि, मुंबई में भी पीयूष का एक आलीशान आशियाना है।

करीब 36 घंटों तक चली थी छापेमारी
जैन के घर आयकर विभाग और डीजीजीआई की टीम ने छापेमारी की और ये कार्रवाई करीब 36 घंटों तक चली थी। इस दौरान अधिकारियों को करीब 197 करोड़ रुपये नकद बरामद किए थे। हालात ये थे कि दीवारों, अलमारियों के साथ ही नोटों की गड्डियां बिस्तरों में भी भरी हुई थीं। इतने रुपयों को ले जाने के लिए अधिकारियों को भी अच्छी खासी मेहनत करनी पड़ी और इसके लिए 80 बक्से मंगवाए गए थे। इतना ही जैन के कन्नौज वाले घर से करीब 23 किलो सोना बरामद हुआ था। इस मामले में डीजीजीआई अहमदाबाद और डीआरआई लखनऊ की ओर से दो मुकदमे दर्ज किए गए थे। दोनों ही मामलों में उसको हाईकोर्ट से जमानत मिल गई है।

कोर्ट ने रिहाई के दिए आदेश
डीजीजीआई के मामले में पिछले दिनों मिली जमानत के बाद स्पेशल सीजेएम कोर्ट ने उसको 10-10 लाख की दो जमानतें दाखिल करने के निर्देश दिए थे। उसकी ओर से पत्नी व बेटे ने 10-10 लाख की एफडी दाखिल की थी। जिसकी सत्यापन रिपोर्ट बुधवार को आ गई थी, जिसके बाद कोर्ट ने पीयूष की रिहाई के आदेश कर दिए थे। गुरूवार को जेल से बाहर आए पियूष जैन मुंह पर मास्क लगाए हुए थे। कई कारें जेल के बाहर पहले से खड़ी थीं। पियूष जैसे ही बाहर आया, वैसे ही वह एक कार पर सवार होकर अपने घर की तरफ चला गया।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities