बड़ी ख़बरें
एक दुनिया का सबसे बड़ा ग्लोबल लीडर तो दूसरा देश का सबसे पॉपुलर पॉलिटिशियन, पर दोनों ‘आदिशक्ति’ के भक्त और 9 दिन बिना अन्न ‘दुर्गा’ की करते हैं उपासना, जानें पिछले 45 वर्षों की कठिन तपस्या के पीछे का रहस्यअब सिल्वर स्क्रीन पर दिखाई देगी निरहुआ के असल जिंदगी के अलावा उनकी रियल लव स्टोरी की ‘एबीसीडी’, शादी में गाने-बजाने वाला कैसे बना भोजपुरी फिल्मों का सुपरस्टार के साथ राजनीति का सबसे बड़ा खिलाड़ीटीचर की पिटाई से छात्र की मौत के चलते उग्र भीड़ ने पुलिस पर पथराव के साथ जीप और वाहनों में लगाई आग, अखिलेश के बाद रावण की आहट से चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनातकुंवारे युवक हो जाएं सावधान आपके शहर में गैंग के साथ एंट्री कर चुकी है लुटेरी दुल्हन, शादी के छह दिन के बाद दूल्हे के घर से लाखों के जेवरात-नकदी लेकर प्रियंका चौहान हुई फरारअपने ही बेटे के बच्चे की मां बनने जा रही ये महिला, दादी के बजाए पोती या पौत्र कहेगा अम्मा, हैरान कर देगी MOTHER  एंड SON की 2022 वाली  LOVE STORYY आस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाकेदार जीत के बाद भी कैप्टन रोहित शर्मा की टेंशन बरकरार, टी-20 वर्ल्ड कप से पहले हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार समेत ये क्रिकेटर टीम इंडिया से बाहरShardiya Navratri 2022 : अकबर और अंग्रेजों ने किया था मां ज्वालाजी की पवित्र ज्योतियां बुझाने का प्रयास, माता रानी के चमत्कार से मुगल शासक और ब्रिटिश कलेक्टर का चकनाचूर हो गया था घमंडबीजेपी नेता का बेटे वंश घर पर अदा करता था नमाज, जानिए कापी के हर पन्ने पर क्यों लिखता था अल्हा-हू-अकबर17 माह तक एक कमरे में पति की लाश के साथ रही पत्नी, बड़ी दिलचस्प है विमलेश और मिताली के मिलन की लव स्टोरी‘शर्मा जी’ ने महेंद्र सिंह धोनी के 15 साल पहले लिए गए एक फैसले का खोला राज, 22 गज की पिच पर चल गया माही का जादू और पाकिस्तान को हराकर भारत ने जीता पहला टी-20 वर्ल्ड कप

योगी के इस सिंघम ने ‘बाबूजी प्रथा’ का अजब-गजब का तोड़ निकाला, पुलिसवालों के पैर छूकर ’आर्शीवाद’ लेने पर देना 200 रुपये का जुर्माना

फिरोजाबाद। उत्तर प्रदेश पुलिस की छवि को लेकर आएदिन खबरें आती रहती हैं, लेकिन फिरोजबाद जनपद के शिकोहाबाद सीओ दफ्तर के बाहर की दिवारों में कुछ ऐसा लिखा है, जिसे पढ़कर लोग खासे गदगद हैं। यहां पर तैनात सीओ कमलेश सिंह ने ऑफिस के अंदर पैर छूने पर प्रतिबंध लगा दिया है। दिवारों में कड़े शब्दों में लिखवाया है कि, अगर कोई भी व्यक्ति य अन्य पुलिसकर्मी किसी के पैर छुए तो उसे 200 रुपये का जुर्माना देना होगा। सीओ की इस अनोखी पहल को लेकर लोगों का कहना है कि पूरे प्रदेश में यह लागू होना चाहिए। सीओ खुद तो इसका पालन कर ही रहे हैं, वहीं स्टाफ भी सतर्क हो गया है।

कार्यालय के बाहर लिखवाए ये शब्द
सीओ शिकोहाबाद कमलेश सिंह ने अपने कार्यालय के बाहर लिखवाया है कि इस कार्यालय में बाबूजी नाम का कोई व्यक्ति नहीं है। किसी व्यक्ति के कोई पैर न छुए। पैर छूने पर दो सौ रुपया जुर्माना लगेगा। सीओ के इस कदम उठाने के बाद यह सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बना हुआ है वहीं हर कोई इसकी तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर लिखे हुए शब्दों को वायरल भी किए है। जिस पर यूजर्स कमेंट कर सीओ की पीठ थपथपा रहे हैं।

मैं किसी से पैर नहीं छुआता
सीओ कमलेश सिंह ने बताया कि जसराना एवं सिरसागंज सर्किल में तैनाती के दौरान भी मैं किसी से पैर नहीं छुआता था। शिकोहाबाद में इसको लागू किया है, फरियादी की बात सुनें और उसका सही निस्तारण करना हमारी जिम्मेदारी है। जुर्माना तो इसलिए लिखवाया गया कि फरियादी पैर छूने से बचें। उन्होंने लोगों से अपील की है कि जो भी व्यक्ति् फरियाद लेकर आए तो बाबू जी के चक्कर में न पड़े। सीधे थाने के इंस्पेक्टर से मिले और अपनी शिकायत दर्ज करवाया। थानों में यदि चापलूस य अन्य लोग कुछ कहें तो सीधे मुझे बताएं।

सीओ के इस कदम की लोग कर रहे तारीफ
सीओ के इस कदम की खासतौर से शिकोहाबाद सर्किल के ग्रामीण क्षेत्र में लोग खूब तारीफ कर रहे हैं। युवाओं का कहना है कि पुलिस अधिकारी के इस रवैये से आमजन में पुलिस की जो खराब छवि बनी हुई है उसके प्रति लोगों की धारणा में काफी बदलाव आएगा। यही नहीं लोग अपनी बात को बड़े ही आत्म विश्वास के साथ पुलिस अधिकारी के समक्ष रख सकेंगे। सीओ ने जो फैसला किया है, उसका हर थाने में पालन होना चाहिए। जिससे कि पुलिस और पब्लिक के बीच रिश्ता और अच्छा होगा।

काफी पुरानी प्रथा बंद 
राजेश सिंह ने बताया कि सीओ की इस पहल की जितनी तारीफ की जाए वह कम है। ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले बुजुर्ग फरियाद देने के साथ पैर छूने लगते हैं। बाबूजी आदि शब्द कहते हैं उनके इस फैसले से काफी पुरानी प्रथा बंद होगी। लोगों को न्याय मिलने की उम्मीद बढ़ेगी। जिले के सभी थानों के साथ प्रदेश भर में यह लागू होना चाहिए। बताया गया है कि सीओ कमलेश सिंह ने कार्यालय की दीवार पर ये संदेश करीब 15 दिन पहले लिखवाया था, लेकिन हाल में ही ये वायरल होना शुरू हुआ। इसकी लोग जमकर प्रशंसा भी कर रहे हैं।

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities