बड़ी ख़बरें
जेम-टीटीपी के आतंकी को मिला था नूपुर को फिदायीन हमले से मारने का टॉस्क, सैफुल्ला ने इंटरनेट के जरिए वारदात को अंजाम देने की दी थी ट्रेनिंग, पढ़ें टेररिस्ट के कबूलनामें की ‘चार्जशीट’मध्य प्रदेश में नहीं रहेगा अनाथ शब्द, शिवराज सिंह ने तैयार किया खास प्लानजम्मू-कश्मीर की सरकार का आतंकियों के मददगारों पर बड़ा प्रहार, आतंकी बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार को नौकरी से किया बर्खास्त, पैसे की व्यवस्था के साथ वैज्ञानिक चलाते थे आतंक की ‘पाठशाला’होर्ल्डिंग्स से हटाया सीएम का चेहरा, तिरंगे की शान में सड़क पर उतरे योगी, यूपी में 4.5 करोड़ राष्ट्रीय ध्वज फहराने का लक्ष्यबांदा में नाव पलटने की घटना में 6 और शव मिले, अब तक 9 की मौतपहले फतवा जारी और अब लाइव प्रोग्राम में सलमान रुश्दी पर चाकू से किए कई वार14 साल के बाद माफिया के गढ़ में दाखिल हुआ डॉन, भय से खौफजदा मुख्तार और बीकेडी ‘पहलवान’पुलिस के पास होते हैं ‘आन मिलो सजना’ ‘पैट्रोल मार’ ‘गुल्ली-डंडा’ और ‘हेलिकॉप्टर मार’ हथियार, इनका नाम सुनते ही लॉकप में तोते की तरह बोलने लगते हैं चोर-लुटेरे और खूंखार बदमाशखेत के नीचे लाश और ऊपर लहलहा रही थी बाजरे की फसल, पुलिस ने बेटों की खोली कुंडली तो जमीन से बाहर निकला बुजर्ग का कंकाल, दिल दहला देगी हड़ौली गांव की ये खौफनाक वारदातबीजेपी के चाणक्य को देश की इस पॉवरफुल महिला नेता ने सियासी अखाड़े में दी मात, पीएम मोदी से नीतीश कुमार की दोस्ती तुड़वा बिहार में बनवा दी विपक्ष की सरकार

बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद जेपी नड्डा ने किया ऐलान, जगदीप धनखड़ होंगे एनडीए के उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार

नई दिल्ली। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे की सौगात देने के बाद शनिवार की शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक में शामिल हुए। बैठक में पीएम मोदी के अलावा भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री अमित शाह, नितिन गडकरी, राजनाथ सिंह, बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष और मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान मौजूद रहे। इस दौरान बीजेपी ने उपराष्ट्रपति के पद तौर पर पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड के नाम पर मुहर लगा दी। जिसका ऐलान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मीडिया के सामने आकर किया।

शनिवार को पीएम ने धनकड़ से की थी मुलाकात
देश के उपराष्ट्रपति पद के नामांकन की आखिरी तारीख 19 जुलाई है। इसी को देखते हुए शनिवार की शाम बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक हुई। जिसमें एनडीए के उपराष्ट्रपति पद के लिए बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ के नाम पर मुहर लग गई। बतादें, पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ही पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात की थी। बीजेपी ने इस बार भी उप राष्ट्रपति के चुनाव में चौंकाया है। इससे पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान के साथ पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नजमा हेपतुल्ला के नाम भी चर्चा में थी।

5 साल पहले भी सभी को चौंकाया
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो भी फैसला करते हैं, उसकी काट किसी के पास नहीं होती। 2017 में बीजेपी ने तत्कालीन कैबिनेट मंत्री एम वेंकैया नायडू, पूर्व बीजेपी अध्यक्ष और अनुभवी सांसद को अपने उपाध्यक्ष उम्मीदवार के रूप में नामित किया था। बीजेपी ने बिहार के तत्कालीन राज्यपाल रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति चुनाव के लिए चुनकर सभी को आश्चर्यचकित कर दिया था। रामनाथ कोविंद और वेंकैया नायडू दोनों ने देश के दो सर्वोच्च संवैधानिक पदों पर कब्जा करने के लिए आराम से चुनाव जीता था। 2022 में बीजेपी ने राष्ट्रपति पद के तौर पर द्रोपदी मुर्म और उपराष्ट्रपति के पद पर जगदीप धनखड को उतार कर विपक्ष को चकित कर दिया है।

बीजेपी के पास 394 सांसद
उप राष्ट्रपति को चुनने के लिए निर्वाचक मंडल, जो राज्यसभा का अध्यक्ष भी होते हैं, में लोकसभा और राज्यसभा के सदस्य शामिल होते हैं। संसद की मौजूदा संख्या 780 में से अकेले बीजेपी के पास 394 सांसद हैं, जो बहुमत के 390 से अधिक निर्वाचक मंडल हैं। वर्तमान उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है। चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की आखिरी तारीख 19 जुलाई है और चुनाव 6 अगस्त को होना है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि जगदीप धनखड का उपराष्ट्रपति चुनने लगभग-लगभग तय हैं।

कई नाम चल रहे थे
बीजेपी के उम्मीदवार को लेकर लंबे से अटकलों का दौर चल रहा है। बताया जा रहा है कि राष्ट्रपति के लिए आदिवासी महिला पर दांव लगाने के बाद उपराष्ट्रपति के लिए किसी अल्पसंख्यक चेहरे को मैदान में उतार सकती है। यह अल्पसंख्यक चेहरा मुस्लिम या सिख से लेकर किसी भी अन्य संप्रदाय से भी हो सकता है। वैसे राष्ट्रपति उम्मीदवार से इतर उपराष्ट्रपति उम्मीदवार के चयन के वक्त यह जरूर ध्यान रखा जाएगा कि वह राज्यसभा का संचालन दक्षता के साथ करने के योग्य हों। ध्यान रहे कि राज्यसभा में अब भाजपा मजबूत स्थिति में तो आ गई है लेकिन अभी भी राजग बहुमत से थोड़ा पीछे है।

 

Related posts

Leave a Comment

अपना शहर चुने

Top cities